‘राजनामा’ की पड़तालः नोटबंदी से बजा जनता का बैंड

■कामकाज ठप्प, घर चलाना हुआ मुश्किल ■ कंगाल हुए एटीएम ■ सड़क से बैंक तक भीड़ ही भीड़ नालंदा ( जयप्रकाश नवीन )। “देश में कैसी लगी कतार, पाई -पाई को मोहताज। बैंक में नाही भाई रूपैया, जाने कहां को गई कमैया। खटते फोकट में मजदूर। बूढे,बच्चन,नारी,बहन सब मजबूर “ इस  […]

Read more