अन्य
    Monday, June 17, 2024
    अन्य

      नालंदाः DSP-SHO के नाम पर एक व्यक्ति से 2.30 लाख की वसूली के आरोपी रिपोर्टर गिरफ्तार, गया जेल

      राजनामा.कॉम। बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में जिस उर्दू दैनिक के रिपोर्टर मो.हसनैन के द्वारा एक जमीन विवाद को लेकर डीएसपी और थानेदार के नाम पर 2.30 लाख रुपए की वसूली किए जाने की बात सामने आई थी, उसे पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

      Nalanda Reporter arrested for recovery of 2.30 lakh in the name of DSP SHO went to jail
      उर्दू दैनिक के रिपोर्टर मो.हसनैन….

      विश्वस्त सूत्रों के अनुसार यह कार्रवाई बिहार शरीफ डीएसपी के निर्देश पर की गई है। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस के नाम पर वसूली करने वाले रिपोर्टर को कल रात गिरफ्तार कर लिया गया और आज मेडिकल परीक्षण के बाद उसे जेल भेज दिया गया।

      बता दें कि पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे ऑडियो में दो लोग मोबाइल पर आपस में बातचीत कर रहे हैं। किसी जमीन पर दफा 144 कैसे लगी, इसपर बात चीत हो रही है।

      ऑडियो एक आदमी कहता है कि शहर के डीएसपी के नाम पर एक उर्दू दैनिक अखबार के रिपोर्टर ने 1.5 लाख रुपए एवं सोहसराय थानाध्यक्ष के नाम पर 80 हजार रुपए लिए गए हैं।

      वहीं दुसरा आदमी कहता है कि पुलिस अधिकारी और थाना को रुपया देने के बाद भी दफा 144 जमीन पर कैसे लग गया?  एक मीडियाकर्मी के द्वारा पुलिस को इतनी बड़ी रकम देने के बाद भी जमीन अभी तक आपका नहीं हुआ और मामला एसडीओ कोर्ट तक चला गया।

      सूत्रों के अनुसार जिस रिपोर्टर ने डीएसपी और थानेदार के नाम पर वसूली की है, पुलिस की दलाली और लोगों से मात्र वसूली करना ही काम है। बीते रमजान के मौके पर शहर के गणमान लोगों को इफ्तार पार्टी पर घर बुलाया था। जिसमें सत्ताररूढ़ नेता से लेकर पुलिस-प्रशासन के कई लोग शरीक हुए थे।

      सुनिए खबर से संबंधित एक वायरल ऑडियो…….

      एक रिपोर्टर ने बिहारशरीफ डीएसपी और सोहसराय थानेदार के नाम पर 2.30 लाख रुपए वसूले, ऑडियो हुआ वायरल

      खबरिया चैनल्स तोड़ रहे मर्यादाएं, कम से कम सनसनी तो न फैलाई जाए

      चाय की चुस्की के साथ अखबार पढ़ने का युग खत्म, पत्रकारिता की साख बचाना बड़ी चुनौती : हरिवंश

      लालू के बड़े लाल तेजप्रताप ने इन नौ पत्रकारों को भेजा मानहानि का कानूनी नोटिस

      कोविड के चलते भारत में हुई मौतों पर अमेरिका के अखबार की खबर है चर्चाओं में !

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!