अन्य
    Sunday, June 16, 2024
    अन्य

      खुलासाः सिर्फ अप्रैल में गई कोरोना संक्रमित इन 101 पत्रकारों की जान, यूपी अव्वल, देखिए सूची

      रेट द डिबेट’ की संस्थापक डॉ. कोटा नीलिमा के अनुसार ये डाटा 28 अप्रैल तक है। इसका मकसद लोगों को ये बताना भी है कि जो खबरें उन तक पहुंचती हैं, उसके पीछे की क्या कीमत चुकानी पड़ती है…

      राजनामा.कॉम डेस्क। भारत में कोरोना की दूसरी लहर बेहद भयावह रूप ले रही है, जिसके साथ ही यह आए दिन नए रिकॉर्ड भी बना रही है। हर दिन चार लाख से अधिक नए कोरोना मरीज मिल रहे हैं और लगभग चार हजार के करीब लोग हर दिन अपनी जान गवां रहे हैं।

      खुलासाः सिर्फ अप्रैल में गई कोरोना संक्रमित 101 पत्रकारों की जान यूपी अव्वल देखिए सूची 2इस बीच कोरोना के खिलाफ जंग में तमाम पत्रकार अपनी जान जोखिम में डालकर रिपोर्टिंग कर रहे हैं और तमाम अपडेट्स लोगों तक पहुंचा रहे हैं।

      ऐसे में देश में कई स्थानों पर पत्रकार कोरोना संक्रमित मिले हैं और कई पत्रकार तो कोरोना से लड़ते हुए जिंदगी की जंग हार गए हैं।

      ‘फर्स्टपोस्ट’ ने ‘रेट द डिबेट’ के एक रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि भारत में 1 अप्रैल 2020 से 28 अप्रैल 2021 के बीच कोविड-19 के कारण 101 पत्रकारों की मौत हो चुकी है, जबकि केवल अप्रैल महीने में 52 पत्रकारों की जान गई है। इसका मतलब हर एक दिन 2 पत्रकारों की जान गई है।

      ‘रेट द डिबेट’ की पहल दरअसल दिल्ली स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ परसेप्शन स्टडीज की ओर से कई गई है। ‘रेट द डिबेट’ की संस्थापक डॉ. कोटा नीलिमा के अनुसार ये डाटा 28 अप्रैल तक है। इसका मकसद लोगों को ये बताना भी है कि जो खबरें उन तक पहुंचती हैं, उसके पीछे की क्या कीमत चुकानी पड़ती है।

      इस अध्ययन में जुटाए गए डाटा और उसके वेरिफिकेशन की प्रक्रिया के बारे में बताते हुए डॉक्टर कोटा ने कहा कि टीम ने काफी सख्त प्रक्रिया का पालन किया था।

      उन्होंने कहा, ‘हमने 3 स्टेप वेरिफिकेशन प्रोसेस अपनाया था, जिसमें डाटा संग्रह, क्रॉस चेकिंग और व्यक्तिगत कॉल करना। हमें शत प्रतिशत यकीन है कि हमने अपनी सूची में जिन पत्रकारों का नाम शामिल किया है, उनकी मौत कोरोना के कारण हुई है।’

      आकड़ों की बात करें तो 1 अप्रैल 2020 से 28 अप्रैल 2021 तक कोविड-19 से कुल 101 पत्रकारों की मौत हो चुकी है। वहीं केवल 1 अप्रैल 2021 से 28 अप्रैल 2021 तक 52 पत्रकारों की जान गई है।

      सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 19 पत्रकारों की मौत हुई है। इसके बाद तेलंगाना में 17 और महाराष्ट्र में 13 पत्रकारों ने अपनी जान गवाई है।

      सूची में उल्लेखित नामों के अलावा, जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार व ‘आजतक’ के सीनियर एंकर रोहित सरदाना को 30 अप्रैल 2021 को कोविड से संबंधित जटिलताओं के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी। यहां तक कि दूरदर्शन की लोकप्रिय एंकर कनुप्रिया का भी उसी दिन कोविड से निधन हो गया….

      खुलासाः सिर्फ अप्रैल में गई कोरोना संक्रमित 101 पत्रकारों की जान यूपी अव्वल देखिए सूची 3 scaled

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!