NDTV के खिलाफ हुई  एमरजेंसी जैसी कार्रवाई :एडिटर्स गिल्ड

Share Button
Read Time:2 Minute, 51 Second

NDTV इंडिया को एक दिन के लिए ब्लैकआउट कर देने के सरकारी पैनल के निर्णय की एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया कड़ी निंदा की है.  द एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया  के अध्यक्ष राज चेंगप्पा, महासचिव प्रकाश दुबे, कोषाध्यक्ष सीमा मुस्तफा द्वारा जारी बयान ………..

“ केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की अंतर-मंत्रालयी समिति द्वारा NDTV इंडिया को एक दिन के लिए ऑफएयर (बंद कर देने) करने तथा उसके आदेश का तुरंत पालन किए जाने के अभूतपूर्व फैसले की एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया कड़ी निंदा करता है.

इस आदेश के पीछे का प्रत्यक्ष कारण चैनल की 2 जनवरी, 2016 को पठानकोट आतंकवादी हमले की कवरेज को बताया गया है, और सरकार का दावा है कि उस कवरेज से आतंकवादियों के हैंडलरों को संवेदनशील जानकारी मिली.

सरकार द्वारा दिए गए कारण बताओ नोटिस के जवाब में NDTV ने कहा कि उसकी कवरेज संतुलित थी, और उसमें ऐसी कोई सूचना नहीं दी गई, जो शेष मीडिया ने कवर नहीं की, या जो सार्वजनिक नहीं थी.

चैनल को एक दिन के लिए ऑफएयर कर देने का निर्णय मीडिया की स्वतंत्रता, और इस तरह से भारतीय नागरिकों की स्वतंत्रता का सीधा उल्लंघन है, जिसके ज़रिये सरकार कड़ी सेंसरशिप थोप रही है, और जो एमरजेंसी के दिनों की याद दिलाता है.

ब्लैकआउट के अपनी तरह के इस पहले आदेश से पता चलता है कि केंद्र सरकार समझती है कि उसे मीडिया के कामकाज में दखल देने और जब भी सरकार किसी कवरेज से सहमत न हो, उसे अपनी मर्ज़ी से किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई करने का अधिकार है.

किसी भी गैरज़िम्मेदाराना मीडिया कवरेज के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के लिए किसी भी नागरिक या सरकार के सामने बहुत-से कानूनी मार्ग उपलब्ध हैं. न्यायिक हस्तक्षेप या निगरानी के बिना प्रतिबंध लागू कर देना न्याय तथा स्वतंत्रता के मौलिक सिद्धांतों का उल्लंघन है. एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया प्रतिबंध के इस आदेश को तुरंत वापस लिए जाने की मांग करता है.”

 

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

रांची-हजारीबाग एन.एच.33 फोरलेन निर्माण के दौरान जम कर हुईं लूट-खसोंट
भड़ास बंद करा के Galgotia को मिला घंटा!
भाजपा का चुनावी झंडा ढो रहा है झारखंड सरकार का लापता सचिव
जान हथेली पर लिये पढ़ने जाने को विवश हैं बच्चें !
एसपी के ग्रेडिंग में सुशासन बाबू के गृह थाना हरनौत को मिला ग्रेड "D"
....और इस मनगढ़ंत बड़ी खबर से पटना की मीडिया की विश्वसनीयता हो गई तार-तार
कर्नाटक के सीएम सिद्दारमैया ने कमिश्नर को सरेआम चांटा मारा
पूर्व-ब्यूरो चीफ के बीच आफिस में मारपीट के बाद काउंटर एफआईआर!
दैनिक हिंदुस्तान के जिलावार अवैध संस्करणों में सरकारी विज्ञापन पर रोक
हेल्थ के लिए काफी खतरनाक है मैगी नूडल
नीतीश-लालू का खूंटा उखाड़ने के फेर में दांव लगे मोदी
योग सुंदरी से यूं शीर्षासन करा रहे हैं झारखंड के अधिकारी
पद्मश्री बलबीर दत के सम्मान में पहुंचे मात्र तीन पत्रकार !
इंडियन मुजाहिदीन का है दैनिक ‘प्रभात खबर’ से कनेक्शन !
एक बड़े फर्जीबाड़े की उपज है रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब !
अर्नब गोस्वामी पर 500 करोड़ के मानहानि का दावा
पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से अपने भाषण की ये प्रमुख बातें
छीनी 'दिल्ली स्पीकर' की शक्तियां
ऐसा फेसबुकिया भक्त, जिसने किया मोदी की नाक में दम !
बढ़ी एफडीआई से प्रिंट मालिक मायूस, वहीं न्‍यूज ब्रॉडकास्‍टर्स गदगद
वैध नहीं है हिंदू महिला और ईसाई पुरुष के बीच शादी :हाईकोर्ट
आज क्राइम कंट्रोल मीटिंग में यूं फट पड़े नीतिश कुमार
हरनौत थानाध्यक्ष पर कार्रवाई को लेकर धरने पर बैठे पत्रकार, गंभीर है मामला
राजनीति के अश्वत्थामा न बन जाएं केजरीवाल
नरेंद्र मोदी के नाम खुला खत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...