मुखिया हत्याकांडः नालंदा पुलिस ने आरोपियों के घर को बनाया खंडहर !

Share Button

नालंदा। शिवेंद्र मुखिया हत्या कांड के 11वें दिन पुलिस ने हत्या के मुख्य अभियुक्त मलबिगहा गांव निवासी श्रवण यादव सहित पांचों अभियुक्तों के घर में करीब पांच घंटे से अधिक समय तक कुर्की जब्ती किया। कुर्की करने के लिए पुलिस प्रशासन 12 बजे मलबिगहा गांव पहुंचे।

इस कुर्की जब्ती में नूरसराय, चंडी, वेना, रहुई भागन बिगहा व कल्याण बिगहा थाना के पुलिस के अलावे 15 मजदूर, 5 ट्रैक्टर, दंगा नियंत्रण वाहन, दर्जनों महिला पुलिस भी शामिल थे।

पुलिस ने पहले दिनेश यादव के घर में कुर्की जब्ती शुरू की गयी।दिनेश यादव के चौखट, किवाड़, घरेलु वर्तन, झाड़ू सुप, फीता, बिजली तार सहित अन्य सामानों की कुर्की किया। साथ ही उसके घर  को पुलिस ने तहस नहस कर दिया।

देखते ही देखते घर खँडहर का रूप ले लिया। घर के छत पर फल रहे कद्दू को भी पुलिस ने कुर्की जब्ती किया करीब 3 बोरा कद्दू बरामद की।

वहीं घर के बाहर अभियुक्त दिनेश यादव की करीब 70 वर्षीय माँ रोने में लगी थी। बार बार पुलिस से घर नहीं तोड़ने की आग्रह कर रही थी। वहीँ पुलिस दो भागों में बांटकर अपना काम मुस्तैदी पूर्ण करने में लगी थी।

अभियुक्त कमलेश यादव के घर में कुछ भी पुलिस को हाथ नहीं लगा।पुलिस को घर में देखते ही आरोपी कमलेश यादव के छोटे भाई की पत्नी पंचनामा की कागजात पुलिस को दिखाते हुए घर अपना होने की दावा कर रही थी। और कमलेश का दूसरा निर्माणाधीन घर बता रही थी। पर पुलिस ने कुछ भी नहीं सुना और निर्मित और अर्धनिर्मित दोनों माकन को ध्वस्त कर डाला।

खलिहान में लगे कमलेश के धान भरे पुंज को भी कुर्की किया। वहीं दोहरे हत्या कांड के अभियुक्त धर्मवीर यादव के घर में थोड़ा मात्रा में घरेलु वर्तन के अलावे कोठी में रखे करीब तीन मन चावल को भी कुर्की किया गया। चौखट को भी पुलिस ने कबाड़ दिया। साथ ही खपरैल से बने रसोई घर को पूरी तरह तहस नहस कर दिया।

वहीं मुख्य अभियुक्त श्रवण यादव के घर पूरी तरह खाली था। श्रवण यादव के प्रथम तल्ला पर सुसजीत ढंग से बने एक कमरा में लोहे का चौखट व शीश लगे खिड़की का ग्रिल ही बरामद हुआ। पुलिस ने श्रवण यादव के घर को भी तहस नहस कर डाला। बताते चले की प्रदीप मुखिया कांड के मामले में 2015 में भी श्रवण यादव के घर में कुर्की की गयी थी। वहीं अभियुक्त सुकेश यादव का एक कमरा का घर को भी पुलिस ने ध्वस्त कर दिया। सुकेश के घर के मुख्य दरवाजे पर सिर्फ एक कपड़ा का परदा पाया गया। कुर्की जब्ती के दौरान ग्रामीण महिलाएं सिर्फ पुलिस द्वारा की जा रही कार्य को दूर से देखते नजर आये।

गांव में एक भी पुरुष नजर नहीं आये

दोहरे हत्या कांड के अभियुक्तों के घर कुर्की जब्ती के दौरान मलबिगहा गांव में एक भी पुरुष नजर नहीं आये। सिर्फ महिलाएं व बच्चे ही गांव में नजर आये। वहीँ महिलाएं कुछ भी बोलने से कतरा रही थी। इस मौके पर बीडीओ रंजीत कुमार, इन्स्पेक्टर मो.जहांगीर आलम, नूरसराय थानाध्यक्ष शशिरंजन, चंडी थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार, भागन बिगहा थानाध्यक्ष मुकेश कुमार, रहुई थानाध्यक्ष सुनील कुमार निर्झर, वेना थानाध्यक्ष राजकुमार पासवान, कल्याण बिगहा थानाप्रभारी मुकेश कुमार, दारोगा राजेश कुमार सहित अन्य पुलिस बल मौजूद थे।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...