IAS एसोसिएशन के खिलाफ पटना हाई कोर्ट में जनहित याचिका

Share Button

पटना (संवाददाता)  जहां एक तरफ आईएएस एसोसिएशन पेपर लीक मामले में बीएसएससी अध्यक्ष सुधीर कुमार की गिरफ्तारी को ले राष्ट्रपति भवन का दरवाजा खटखटाने की बात कह रहा है, वहीं दूसरी ओर पटना हाईकोर्ट में आईएएस एसोसिएशन के खिलाफ धारा 144 के उलंघन का मामला दर्ज हो गया है।

आईएएस एसोसिएशन के पटना में राजभवन पर धरना देना महंगा पड़ गया है। राजभवन पर धरना देने के मामले में एक वकील ने पटना हाईकोर्ट में पीआईएल ठोक डाला है।

पिछले 26 फरवरी को आईएएस एसोसिएशन ने राजभवन के मेन गेट पर श्रृखंलाबद्ध होकर धरना दिया था। साथ ही सुधीर कुमार की गिरफ्तारी का विरोध किया था। इसे लेकर वकील मणिभूषण प्रताप सेंगर ने पटना उच्च न्यायालय में आईएएस एसोसिएशन के खिलाफ याचिका दायर की है।

याचिका में कहा गया है कि  राजभवन के समक्ष मानव श्रृंखला बनाकर आईएएस एसोसिएशन के सदस्यों ने धारा 144 और ऑल इंडिया सर्विसेस कंडक्ट रुल 1968 की धारा सात का उल्लंघन किया है।

उल्लेखनीय है कि सुधीर की गिरफ्तारी के विरोध में राजभवन के समक्ष एसोसिएशन के एक शिष्टमंडल ने राज्यपाल रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए पेपर लीक मामले की निष्पक्ष जांच के लिए इसे सीबीआई को सौंपे जाने की मांग की थी।

उधर बीएसएससी पर्चा लीक मामले की गूंज बिहार विधानसभा के बजट सत्र में भी सुनाई दी। विपक्ष ने भी इस मामले की जांच के लिए राज्य सरकार को सीबीआई जांच की अनुसंशा करने की मांग की। इस पर सीएम नीतिश कुमार ने स्पष्ट तौर कहा कि संबंधित मामले को लेकर वे एसआईटी जांच से संतुष्ट हैं। पुलिस कानून के दायरे में सही दिशा में काम कर रही है।

 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...