वर्ष 2006 में ही पकड़ाया था हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला

नेताओं-अफसरों-संपादकों की तिकड़ी ने वर्ष-2006 में ही दबा दी थी दैनिक हिन्दुस्तान के काले कारनामे की फाइल दैनिक हिन्दुस्तान के लगभग दो सौ करोड़ के सरकारी विज्ञापन घोटाले के बारे में नित नई जानकारियां सामने आ रही हैं. बिहार सरकार के वित्त अंकेक्षण विभाग ने वित्तीय वर्ष 2005-06 में ही बिहार […]

Read more

गलत तस्वीर पेश कर रही है बिहार की मीडिया

सरकार की अच्छाई और बुराई को उजागर करनेकी भूमिका निभाने वाले बिहार के हिन्दी और अंग्रेजी भाषाई आइना इन दिनों चूर-चूर हो गयाहै। मीडिया में बिहार की गलत तस्वीर पेश की जा रहीहै। बिहार की राजधानी पटना में बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार को खुश करने के लिए प्रथम पृष्ठ पर […]

Read more

पत्रकारिता की आड़ में राष्ट्रव्यापी दलाली का नमुना

 अखबार निकालने वाले लोग दलाली करके कोयला खदानों के मालिक बनने लगे हैं. ऐसे लोगों से क्या उम्मीद करेंगे कि वे जनता के पक्ष में अखबार चलायेंगे? ये लोग खुलेआम अपने रसूख का इस्तेमाल ठेका पाने, दलाली पाने में करने लगे हैं. और, रातोंरात सैकड़ों करोड़ रुपये कमाने में सफल हो […]

Read more

पत्रकारों के शोषण का अड्डा बना सन्मार्ग मीडिया हाउस !

झारखंड की राजधानी रांची का एक मीडिया समूह प्रसार संख्या का फर्जी आंकड़ा दिखाकर सरकारी विज्ञापन तो बड़े अख़बारों के समकक्ष उठा रहा है,लेकिन कर्मियों को तयशुदा वेतन और सुविधाएं देने में भी टाल-मटोल का रवैया अपना रहा है। कहते हैं कि रांची से प्रकाशित दैनिक सन्मार्ग समाचार पत्र का फ्रेंचाइजी होने के […]

Read more

सीएम-गवर्नर को गाली देता है गुरुजी का पीए

 आज झारखंड मुक्ति मोर्चा के सुप्रीमों शिबू सोरेन की गिरती  हालत के सामने उनके पीए विवेक के रसुख का क्या आलम है। यदि आपको इसका आंकलन करना है तो शिबू सोरेन उर्फ गुरुजी के मोहराबादी स्थित सरकारी आवास चले जाइये। विवेक शुरुआती दौर में गुरुजी के बड़े पुत्र स्व. दुर्गा सोरेन […]

Read more

झारखंड जागरण: तीन राज्यों से उड़ा रहा सरकारी विज्ञापन

आज रांची, पटना, लखनऊ जैसे शहरों में सैकड़ों ऐसे समाचार पत्र-पत्रिकायें प्रकाशित हो रही है ,जिसका मूल मकसद प्रति माह लाखों के विज्ञापन लूटना मात्र है। इसी की एक कड़ी में ताजा उदाहरण बन कर सामने आया है एक हिन्दी दैनिक झारखंड जागरण का नाम। प्राप्त सूचना के अनुसार  रांची से […]

Read more

पत्रिका खोल रही पोलः भास्कर ने खाया 765 करोड़ का कोयला

कोयला ब्लाक आवंटन पर भले ही मीडिया में हड़कंप मचा हो लेकिन एक बड़ा मीडिया घराना ऐसा भी है जो इस कोयला घोटाले में 765 करोड़ के घपले का जिम्मेदार है. दैनिक भास्कर समूह से जुड़ी बिजली कंपनी ने अवैध तरीके से दो कोयला ब्लाक लिये और बिजली उत्पादन करने बजाय […]

Read more

स्व. राजीव गांधी पर सरकारी विज्ञापन, बना बहस का मुद्दा

बीस अगस्त भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी का जन्मदिन होता है और इस मौक़े पर लगभग हर प्रमुख अख़बार में सरकारी विभागों की ओर से 10 या उससे भी ज़्यादा विज्ञापन देकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई है. विभिन्न पार्टियों के नेताओं के जन्मदिन या पुण्यतिथि के मौक़े पर इस तरह […]

Read more

सावधान! फर्जी है ‘आपका सीएम.कॉम’

झारखंड में कायदा-कानून नाम की कोई चीज नहीं बची है। हालत यह है कि सत्ताशीर्ष पर बैठे लोग ही इसकी धज्जियां उड़ा रहे हैं। जहां एक ओर भाजपानीत अर्जुन मुंडा सरकार के संचालन समिति के अध्यक्ष एवं झामुमो सुप्रीमों शिबू सोरेन नगड़ी में रांची हाई कोर्ट के फैसले के विरुद्ध जाकर […]

Read more

सन्मार्ग में वापसी के बाद बावरे हो रहे हैं बैजू बाबा

सन्मार्ग रांची में बैजनाथ मिश्र की वापसी के चंद रोज भी नहीं बीते कि डायरेक्टर प्रेमके साथ उनका शीतयुद्ध शुरू हो गया है. कारण है सूचना आयुक्त का मनोनयन. बैजनाथ मिश्र सूचना आयुक्त रह चुके हैं और इस पद पर अपने किसी चहेते का मनोनयन चाह रहे हैं. लेकिन जिन चार […]

Read more
1 65 66 67 68 69 71