मीडिया का मुंह सील गये हैं भाजपा के अर्जुन मुंडा !

भाजपा के श्री अर्जुन मुंडा सीएम की कुर्सी से जाते-जाते सरकारी खजाना उड़ेल कर मीडिया के मुंह सील दिये हैं। यही कारण है कि मीडिया में झारखंड वास्तविक हृदय विदारक तस्वीर दिखाई नहीं दे रहा है। जिस मीडिया हाउस की जितनी बड़ी पहचान, उसे उसी अनुपात में विज्ञापन आवंटित किये गये हैं। कहा जाता है कि श्री मुंडा द्वारा झारखंड सूचना एवं जन संपर्क विभाग के वर्तमान निदेशक आलोक कुमार को सीसीएल से उठा कर मीडिया को विज्ञापन का मनचाहा टुकड़ा फेंक कर पटाने के लिये ही लाया गया है।  श्री कुमार राजधानी रांची के स्थानीय होने के साथ होटल समेत […]

Read more

बड़े मियां क्या,छोटे मियां भी सुभान अल्लाह

बड़े मियां तो बड़े मियां..छोटे मियां भी सुभान अल्लाह। जी हां, झारखंड की मीडिया और सत्ता की सांठ-गांठ उक्त कहावत को खूब चरितार्थ करती है।  भाजपा के अर्जुन मुंडा ने तो सीएम की कुर्सी से जाते-जाते ऐसा कमाल कर गये कि बड़े मीडिया हाउस के समाचार पत्र-पत्रिकायें तो दूर कुकुरमुत्ता छाप उगे प्रायः जेबी समाचार पत्र-पत्रिकायें भी उनकी तरफ अपनी पलक उठाने की नैतिक साहस न कर सके। हालिया मिली जानकारी के अनुसार झारखंड सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा वर्ष 2011-2012 में कुल 141 पत्रिकाओं  को विज्ञापन निर्गत किये गये हैं। वर्ष 2008-2009 में इसकी कुल संख्या 77 थी। वर्ष 2009-2010 […]

Read more

aapkacm.com के नाम पर घोटाला

हालिया सीएम की कुर्सी से हटाये गये भाजपा के अर्जुन मुंडा के कार्यकाल में भी लूट के कई हैरतअंगेज कारनामें हुये हैं। एक ऐसा ही काला कारनामा है खुद उनके द्वारा www.aapkacm.com के नाम पर लाखों की घपलेबाजी। चूकि मुंडा जी के राज में प्रभावी मीडिया हाउसों एवं पत्रकारों की अधिक चांदी रही है, इसलिये वे इस दिशा में अकर्मण्य बने हुये हैं। राज्य में राष्ट्रपति शासन लागु हो जाने के बाद भी उक्त वेबसाइट के नाम पर शून्य उपलब्धि में सरकारी खजाने की लूट बदस्तूर जारी है। सूचना अधिकार अधिनियम-2005 के तहत झारखंड सरकार के सूचना प्रौद्दौगिकी विभाग के अवर सचिव […]

Read more

उगाही और जमीन दलाली में लगी है झारखंड पुलिस महकमा

आज झारखंड की राजधानी रांची अपराधियों के हवाले है। यहां पुलिस में नीचे से उपर स्तर तक प्रायः संगीन मामलों की जांच  में कोई गंभीरता नहीं बरती जाती है। इसका एक बड़ा कारण झारखंड विधानसभा अध्यक्ष एवं रांची विधायक सीपी सिंह के उस बयान को माना जा सकता है, जिसमें उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि   समूचा पुलिस महकमा सिर्फ उगाही और जमीन दलाली में लगा है। स्थिति कितनी गंभीर है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि विधानसभा अध्यक्ष को मोबाइल पर मिली धमकी को भी उनके आवास के ठीक  20-25 मीटर सामने स्थित गोंदा थाना […]

Read more

झारखंड जल संसाधन विभाग का जालसाज

किसी भी व्यक्ति का नाम, पिता का नाम एवं जन्मतिथि में अंतिम दो चीजें पिता का नाम और जन्म तिथि हमेशा के लिये अपरिवर्तनीय है और यही उस व्यक्ति की मूल पहचान होती है। योग्यतायें , पदनाम आदि अतिरिक्त पहचान की श्रेणी में आती है। लेकिन झारखंड जल संसाधन विभाग में विधि समन्वयक (यांत्रिक अभियंता) मुचि राम कोयरी उर्फ मुनि राम कोइरी उर्फ मुनिराम प्रसाद की जालसाजी के आगे कोई मायने नहीं रखती। पिछले 30 वर्षों के ( कु)सेवा काल में इस शख्स ने खुद को जिस तरह से प्रस्तुत किया है, वह किसी नटवरलाल के कारनामे से कम नहीं है […]

Read more

बिजली के इस बड़े चोर के खिलाफ क्या हुई ठोस कार्रवाई

झारखंड राज्य बिजली बोर्ड की सबसे बड़ी समस्या बड़े चोरों की है। यहां कई बड़े-बड़े उद्योगपति व्यापक पैमाने पर बिजली चोरी करते आ रहे हैं। ऐसी बात नहीं है कि बिजली विभाग के अधिकारी-कर्मचारी गंभीर नहीं होते। वे यदा-कदा गंभीर होते भी हैं तो उन पर सरकार स्तर पर भी कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है और येन-केन-प्रक्ररेण मामले को दबा दी जाती है। यदि घोर बदहाली झेल रहे झारखंड के उपर से मलवे हटाये जाये तो बिजली के कई बड़े चोर यू हीं बेनकाब हो जायेगें।  फिलहाल, झारखंड में ऐसे ही बिजली के एक बड़े चोर कंपनी का नाम उभर […]

Read more

मरांडी जी ने किया था 50 करोड़ रु. माफ

उषा मार्टिन ग्रुप का झारखंड की सत्ता पर पकड़ काफी मजबूत रही है। अलग राज्य के बाद तो इस कंपनी की तूती बोलने लगी। यहां शायद ही कोई ऐसा नेता चाहे वह पक्ष हो या विपक्ष, इसके लूट के खिलाफ एक शब्द भी बोलने की हिमाकत करे। अगर किसी ने उसके खिलाफ जाने की जरा सा भी जुर्रत किया तो इस कंपनी ने उसकी ऐसी की तैसी कर डालने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। क्योंकि इस कंपनी के हाथ में है झारखंड, पश्चिम बंगाल और बिहार का एक मीडिया हाउस। कहा जा सकता है कि मूलतः खनिज संपदा की […]

Read more

बिहार सूचना जनसंपर्क विभाग की लूट का नया तरीका

बिहार सरकार सूचना एवं जनसंपर्क विभाग जनता की गाढ़ी कमाई को किस प्रकार लुटा रही है, इसकी एक ताजा वानगी ८ नवम्बर २०१२ को दैनिक हिंदुस्तान के पटना संस्करण के पेज सं-१४ पर बिहार सरकार के शिक्षा बिभाग  के छपे विज्ञापन  से देखा जा  सकता है।                                                                            सूचना  एवं जनसंपर्क  विभाग, पटना के जारी आई  पी आर  डी -९९१५-एस [एजुकेशन] १२-१३ बिहार सरकार के शिक्षा बिभाग के प्रधान  सचिव अमरजीत सिन्हा के विभागीय पत्रांक -१२४७/दिनांक ११-१०-२०१२ द्वारा राज्य सरकार के सभी स्कूलों [निजी स्कूल सहित ]  को साल  में एक दिन ७ नवम्बर [कैंसर जागरूकता दिबस ]को शपथ दिवस मानाने  के सम्बन्ध  […]

Read more

सीएम-स्पीकर के हाथ में जेपीआरडी की महालूट की बानगी

प्रवेशांक के लोकार्पण के दौरान भी नहीं खुली आंखें कि  प्रकाशन पूर्व कैसे मिलते हैं सरकारी विज्ञापनः झारखंड सरकार के सूचना एवं जन-संपर्क विभाग में महालूट का आलम क्या है? इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इसकी ताजा बानगी सीएम अर्जुन मुंडा से लेकर  विधानसभा के अध्यक्ष सीपी सिंह तक के हथेली में पहुंचने के बाबजूद कहीं कोई जूं नहीं रेंगती है। इसका सीधा अर्थ यह निकाला जा सकता है कि राज्य के मुखिया तक विभाग और मीडिया के नाजायज गठजोड़ के पचड़े में पड़ने का जोखिम उठाना नहीं चाहते या फिर वे विज्ञापन नियमावली से अनभिज्ञ हैं। […]

Read more

झारखंड सूचना जन संपर्क विभाग में लूट का नया खेल

उर्दु अखबार के पहले अंक में ही दिया 15 अगस्त का एक फूल पेज विज्ञापनः इन दिनों झारखंड सरकार के सूचना एवं जन-संपर्क विभाग में लूट का आलम बढ़ गया है। एक लंबे समय तक पद खाली रहने के बाद जब एक सीसीएलकर्मी  को निदेशक बनाया गया तो उम्मीद बनी थी कि इस विभाग के दिन बहुरेगें और सरकारी विज्ञापनादि में जो गोरखधंधा चल रहे हैं,वे बंद भले ही न हो, उसमें कमी जरुर आयेगी। दुर्भाग्य कि फिलहाल यहां ऐसा कुछ नजर नहीं आ रहा है और भ्रष्टाचार का पानी सिर से उपर बहने लगा है। कहने को तो इस विभाग […]

Read more

सीएम-गवर्नर को गाली देता है गुरुजी का पीए

 आज झारखंड मुक्ति मोर्चा के सुप्रीमों शिबू सोरेन की गिरती  हालत के सामने उनके पीए विवेक के रसुख का क्या आलम है। यदि आपको इसका आंकलन करना है तो शिबू सोरेन उर्फ गुरुजी के मोहराबादी स्थित सरकारी आवास चले जाइये। विवेक शुरुआती दौर में गुरुजी के बड़े पुत्र स्व. दुर्गा सोरेन का ड्राइवर था। उसके बाद छोटे पुत्र हेमंत सोरेन ( अब वर्तमान उप मुख्यमंत्री) का ड्राइवर बन गया। उसके बाद गुरुजी की शरण में चला आया। फिर क्या था गुरुजी जी की सत्ता की चाशनी लदबद होकर झारखंड विधान सभा में नौकरी पा ली। अब न जाने गुरुजी के परिवार […]

Read more
1 6 7 8 9