नवयुवक पत्रकारों के लिये खतरनाक हैं ऐसे प्रयास

राजनामा (मुकेश भारतीय)।  नवयुवक पत्रकारों की एक सबसे बड़ी कमजोरी है कि जब वे किसी मीडिया हाउस से येन केन प्रकरेन से जुड़ जाते हैं तो उऩके सामने कुछ नजर नहीं आता है। नजर आता तो बस तेल मालिश। और लोगों के बीच तीसमार खां बने फिरते हैं। यह भूल जाते हैं कि निम्न स्तर पर अस्थाई कार्य करने के दौरान अपने मीडिया हाउस की छवि तो दुरुस्त नहीं कर सकते हैं लेकिन,स्थानीय स्तर पर अपनी छवि को मजाक जरुर बना लेते हैं, जो निश्चित तौर पर उनके कैरियर के लिये काफी खतरनाक साबित होगा।  किसी भी समाचार पत्र-पत्रिका या न्यूज […]

Read more

न्यूज़11 चैनल की कलंक कहानीः एक भुक्तभोगी की जुबानी

राज़नामा.कॉम ( मुकेश भारतीय)। एक पुरानी कहावत है कि घर का भेदिया लंका ढाहे। अगर विभीषण न होता तो सोने की लंका न जलता और रावण न मरता। आज मित्र ने कुछ ऐसे ही सूचना दी। फेसबुक पर अपने एकांउट में फिलहाल साधना न्यूज चैनल में कार्यरत कुंदन कृतज्ञ ने रांची के ही न्यूज़11 चैनल के बारे में जिस तरह की पोल खोल रहे हैं, उसे राजनामा.कॉम उनकी ही शब्दों में हु-ब-हु सामने रख रहा है। इसमें कितनी सच्चाई है, राम जाने। हो सकता है कि किसी दुर्भावनावश इसे एक पक्षीय स्वरुप में ढाला गया हो।  लेकिन इससे इतना तो तय […]

Read more
1 8 9 10