खबर लिखने से पहले सोचें कि समाज पर उसका क्या असर होगाः रघुवर दास

राजनामा.कॉम (प्रेस विज्ञप्ति)।  झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि रांची प्रेस क्लब की पहचान पूरे देश में एक आदर्श प्रेस क्लब के रूप में ऐसा प्रयास हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्लब की नवनिर्वाचित टीम युवा है। सभी में उमंग, उत्साह और जोश है। लगन और जुनून के साथ काम करने से सफलता पाने से कोई नहीं रोक सकता है। वे आज प्रेस क्लब के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों व सदस्यों के शपथ ग्रहण के बाद पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। श्री दास ने कहा कि मीडिया का दृष्टिकोण सकारात्मक होना चाहिए। गलत काम होने पर आलोचना होनी चाहिये, […]

Read more

अनेक चर्चाओं-आशंकाओं के बीच यूं बोले ‘द रांची प्रेस क्लब’ के नव निर्वाचित सचिव शंभुनाथ चौधरी

राजनामा.कॉम। “अजीब मंजर है यहां, हर हाथ में खंजर है यहां। सूखे रेत बताने वाले, दिखाते समंदर वहां। ”  जी हां। द रांची प्रेस क्लब कहिये, रांची प्रेस क्लब कहिये या फिर प्रेस क्लब रांची। इसकी बुनियाद काल से ही विवादास्पद चर्चाओं का ग्रहण थमने का नाम नहीं ले रहा। इसे लेकर नित्य नये आशंकाओं के बीच तरह-तरह की चर्चाएं जारी है। उन्हीं आशंकओं-चर्चाओं के बीच राजनामा.कॉम के प्रधान संपादक मुकेश भारतीय ने ‘द रांची प्रेस क्लब’ के नव निर्वाचित सचिव शंभुनाथ चौधरी से दो टूक बात की। इस क्रम में कई नये रोचक तथ्त उभरकर सामने आये। सबाल-जबाब के दौरान […]

Read more

पलामू में झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन का सफाया

राजनामा.कॉम। झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन की पलामू जिला कमेटी रविवार को भंग कर दी गई है।कमेटी भंग करने की घोषणा करने के बाद जिला अध्यक्ष अवधेश शुक्ला ने जिला अध्यक्ष एवं संगठन की सदस्यता से इस्तीफा भी दे दिया। इस घटनाक्रम के बाद पलामू जिला के 50 से अधिक पत्रकार जिला अध्यक्ष के समर्थन में संगठन से इस्तीफा दे दिया है। सदस्यों के एक साथ संगठन छोड़ने से पलामू में संगठन का अस्तित्व समाप्त हो गया है। अवधेश शुक्ला ने आरोप लगाया है कि प्रदेश कमेटी द्वारा पलामू के पत्रकारों की लगातर उपेक्षा कर रही थी। उन्होंने पलामू के पत्रकारों के मान-सम्मान को देखते […]

Read more

प्रेस क्लब रांची की नई कमिटी की बैठक में पेंडिंग आवेदनों पर नहीं हुई कोई चर्चा

“हालांकि इस अहम फैसले में चुनाव पूर्व की तदर्थ सदस्यता अभियान कमिटि द्वारा पेंडिग रखे गये सदस्यता संबंधित चिन्हित  आवेदनों पर कोई विचार नहीं किया गया। इस संबंध में प्रेस क्लब के नव निर्वाचित अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह ने बताया कि चुनाव पूर्व जो भी आवेदन किसी भी प्रकार से ‘ होल्ड ‘ बता कर पेंडिंग मोड में शिथिल कर दिया गया है, वे सब उनके संज्ञान में हैं। इस मामले में शीघ्र ही कथित उपेछित आवेदनों की पड़ताल कर योग्य पत्रकारों को ससम्मान सदस्यता प्रदान करने की प्रक्रिया पूरी की जायेगी।” राजनामा.कॉम। प्रेस क्लब रांची की नवनिर्वाचित कमिटी की पहली बैठक आज […]

Read more

JAJ का ‘सनकी’ प्रदेश अध्यक्ष फिर सुर्खियों में, जमशेदपुर जिलाध्यक्ष ने चटाई धूल

राजनामा.कॉम।  यह मामला झारखंड जनर्लिस्ट एसोसिएशन जमशेदपुर इकाई से जुड़ा है। प्राप्त सूत्रों के अनुसार झारखंड जनर्लिस्ट एसोसिएशन के कथित प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज हसन को जमशेदपुर इकाई के जिला अध्यक्ष मनोज सिंह ने सनकी बताते हुए सभी ग्रुप से बाहर कर दिया। वैसे अन्य स्थानों के साथ-साथ जमशेदपुर इकाई भी तार तार होती नजर आ रही है। गौर करनेवाली बात  है कि JJA का कथित प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज हसन अपने घर (जमशेदपुर) मैं जब अपना संगठन को बचा नहीं पाया तो राज्य के अन्य स्थानों पर वह पत्रकार हित की क्या बात कर सकता क्या है मामला बता दूं कि यह पूरा […]

Read more

प्रेस क्लब रांची के नवांतुकों पर अतीत से सीख भविष्य संवारने की बड़ी जिम्मेवारी

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)।  आज हम न किसी अखबार का नाम लेगें और न ही किसी पत्रकार का। चाहे वो छोटे-बड़े किसी भी हाउस के मठाधीश हों या संघर्षरत आम मीडियाकर्मी। चुनाव-चुनाव होता है। जो जीता वही सिकंदर। हारने वाले भी कमतर नहीं कहे जा सकते। क्योंकि हर हार के आगे-पीछे दोनों ओर जीत होता है। जबकि जीत के सिर्फ आगे जीत-हार होती है। वेशक कथित रांची प्रेस क्लब, द रांची प्रेस क्लब कहिये या फिर लहराते आलीशान भवन के शीर्ष पर चमकते प्रेस क्लब,रांची। कहां क्या घाल-मेल है, यह अलग बात है। पत्रकार बुद्धिजीवी वर्ग कहलाते हैं। वुद्धिजीवियों का खेला बुद्धिजीवी […]

Read more

सिर्फ गुटबाजी के बल प्रेस क्लब रांची को कब्जाने की होड़ में मीडिया मठाधीश

रांची (मुकेश भारतीय)। कथित द रांची प्रेस क्लब की तदर्थ सदस्यता अभियान कमिटि के मठाधीशों ने जिस तरह से गुटबाजी दिखाते हुये ‘तुम उसको तो हम इसको’ की तर्ज पर खुद की नियमावली की धज्जियां उड़ाते हुये भारी तादात में योग्य पत्रकारों को अदद सदस्यता तक नहीं दी, दूसरी तरफ फर्जी पत्रकारों को खूब संख्या में तरजीह दिया, यह सोच कर कि कहीं वे चुनाव में बिछाई गई बिसात पर कोई उटल-फेर न कर दें, ठीक उसी तर्ज पर प्रेस क्लब का पहला आम चुनाव चुनाव लड़े जा रहे हैं। गुटबाजी का आलम यह है कि कल तक जो लंगोटिया यार […]

Read more
1 2 3 4 10