स्मृति की डिग्रियां फर्जी हो सकती हैं, लेकिन वह नहीं :लालू प्रसाद

Share Button

पूर्णिया (बिहार)। फर्जी डिग्री मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर चौतरफा हमला हो रहा है। ऐसे में भला आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव कैसे पीछे रहते।

lalu1उन्होंने इस पूरे मामले में चुटकी लेते हुए कहा, “केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी की “डिग्रियां” फर्जी हो सकती हैं, लेकिन वह फर्जी नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि, वह (स्मृति) महिला हैं, काम करतीं हैं। उन्होंने “सास भी कभी बहू थी” सीरियल में काम किया है। ईरानी महिला हैं और मैं उनका सम्मान करता हूं।

दिल्ली की एक अदालत ने शैक्षणिक योग्यता को गलत बताने के आरोपों पर मामले को स्वीकार कर लिया है, जिसके बाद ईरानी को लेकर लालू ने यह टिप्पणी की है।

राजद प्रदेश कार्यालय में पूर्णिया कमिश्नरी के राजद नेताओं के साथ हुई बैठक के बाद लालू ने स्मृति ईरानी पर ये टिप्पणी की।

साथ ही लालू ने कहा कि “केंद्र की पूरी सरकार फर्जी है। वे स्मार्ट सिटी बनाने की बात कर रहे हैं। देखते रहिए कि वे क्या बनाते हैं।

उन्होंने बुलेट ट्रेन की बात की, लेकिन उसपर 60 हजार करोड़ रूपये का खर्च आएगा। इतना धन कहां से आएगा?’

आरजेडी सुप्रीमो ने मोदी को सलाह दी कि “पुल की तरह शहर बनाने” के बजाए बेहतर गांव बनाएं।

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री की तरफ से शुरू की गई “आदर्श ग्राम योजना” धन ना होने के कारण रूक गई है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...