वरिष्ठ पत्रकार अरुण साथी सड़क हादसे में गंभीर रूप से जख्मी

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। वरिष्ठ पत्रकार एवं एक दैनिक अखबार के शेखपुरा जिला ब्यूरो चीफ अरुण साथी आज उस वक्त एक भीषण सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गए, जब वह बरबीघा स्थित अपने आवास से शेखपुरा स्थित अपने अखबार के ब्यूरो कार्यालय ड्यूटी पर जा रहे थे।

पत्रकार अरुण साथी रोज की तरह आज भी अपनी बाइक से शेखपुरा स्थित अपने अखबारके ब्यूरो कार्यालय जाने के लिए बरबीघा स्थित अपने घर से निकले। जब वे बरबीघा- शेखपुरा मार्ग पर स्थित टाटी नदी पुल के समीप पहुंचे, तभी सामने से एक बेकाबू बाइक आ गई।

बेतहाशा और बेकाबू चल रही उस बाइक से खुद को बचाने की कोशिश में पत्रकार अरुण साथी अपनी बाइक के साथ दुर्घटनाग्रस्त हो गए। दुर्घटना में वह गंभीर रूप से घायल हो गए।

इस दुर्घटना की खबर जिले भर में आग की तरह फैल गई। इस बीच घायल स्थिति में पत्रकार अरुण साथी को वापस बरबीघा लाया गया, जहां एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है।

पत्रकार अरुण साथी के निकटस्थ सूत्रों के मुताबिक उनके दाएं हाथ में गंभीर चोट है। ठुड्डी कट गई है, जिससे उन्हें कई टांके लगाने पड़े हैं। शरीर के कई अन्य हिस्से में भी जख्म ज़ख्म हैं।

उनके दाएं हाथ की हड्डी के फ्रैक्चर होने का अंदेशा डॉक्टरों ने लगाया है। हालांकि इसकी पुष्टि एक्स-रे के बाद ही हो सकेगी। फिलहाल दाएं हाथ का अस्थाई बैंडेज किया गया है।

Share Button

Relate Newss:

मुंगेर: सड़कों पर क्यों जलाई जा रही है दैनिक प्रभात खबर ?
पाक की पीएम बनना चाहती है मलाला, टीटीपी ने दी धमकी
सांसद रामटहल चौधरी तक के घर की नाली का पानी स्कूल परिसर में होता है जमा
aapkacm.com के नाम पर घोटाला
देश को चोट पहुंचाती है वाणी की हिंसा : महामहिम राष्ट्रपति
रिपोर्टर पर यूं भड़के एसपी, मोबाइल-कैमरा छीनते हुए बोलेः ‘हमरा नौकरी ले लीजिएगा का’
देखिए Znews: आरोप विश्वास पर, विवादों में केजरीवाल
बिहारः नीतिश कुमार के आगे सब बौने
ATM की लाइन में हार्टअटैक से वह तड़पकर मर गया लेकिन लोग लाइन में खड़े रहे !
अब प्रेस रजिस्ट्रार कार्यालय के खिलाफ पुलिसिया जांच
पीएम मोदी को बोलने की तमीज सीखना चाहियेः राहुल गांधी
उज्जैन शिप्रा तट पर गधों के मेले में अव्वल लालू-नीतीश की जोड़ी
भैया, मैं जरा बौद्धिक गरीब हूं
बिहार के मंत्री परवीन अमानुल्लाह के इस्तीफे का गेम प्लान
उपेक्षित है नेताजी से जुड़े झरिया कोयलाचंल का यह विरासत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...