मोदी-नीतीश के बाद अब ममता का चुनाव कैम्पेन संभालेंगे प्रशांत किशोर

Share Button
Read Time:3 Minute, 5 Second

पहले पीएम नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दिलाने और अब नीतीश कुमार की बिहार की सत्ता में वापसी कराने के बाद प्रशांत किशोर की ब्रैंड वैल्यू चरम पर पहुंच गई है।

mamta_prashantनीतीश-लालू की इस ‘जीत’ के शिल्पकार एवं चाणक्य कहे जा रहे प्रशांत किशोर से पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी ने भी संपर्क साधा है।

पश्चिम बंगाल में बीजेपी के उभार के बाद मुश्किल का सामना कर रहीं ममता बनर्जी ने प्रशांत किशोर से डील के लिए संपर्क किया है।

इसके अलावा करुणानिधि की पार्टी डीएमके ने भी संपर्क साधा है, कहा जा रहा है कि दोनों में से एक दल के साथ उनकी डील तय हो चुकी है।

prashant_nitishकहते हैं कि बिहार चुनाव के दौरान ही पश्चिम बंगाल की सीएम और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने प्रशांत किशोर से अगले साल वहां होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी के कैंपेन की कमान संभालने के लिए बातचीत तय हो चुकी है। अगले कुछ दिनों में अंतिम सहमति बन जाएगी।

टीएमसी का मानना है कि प्रशांत किशोर को साथ रखने से उन्हें नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की काट तलाशने और शहरी इलाकों में बीजेपी के बढ़ते प्रभाव से मुकाबले की रणनीति बनाने में मदद मिलेगी।

Prashant Kishor_narendra modiइसके अलावा तमिलनाडु की डीएमके पार्टी भी प्रशांत किशोर की टीम को अपने साथ जोड़ने के लिए संपर्क साध चुकी है। हालांकि अभी उनकी बात प्रारंभिक स्टेज में है।
फिलहाल प्रशांत अभी नीतीश कुमार के साथ बने रहेंगे। जेडीयू के एक सीनियर नेता ने कहा कि उनकी पार्टी प्रशांत किशोर की सेवा लेती रहेगी।  उन्हें नीतीश अपनी सरकार में एक सलाहकार के रूप में शामिल कर सकते हैं।

प्रशांत किशोर अभी अपनी कंपनी आई-पैक की मदद से चुनाव प्रचार की कमान संभालते हैं। इसमें लगभग 40 मेंबर हैं। अब इस कंपनी को बिहार के परिणाम के बाद बड़ा करने की योजना बनाई जा रही है।

प्रशांत किशोर की टीम के एक मेंबर ने कहा कि अब देश में पॉलिटिकल मैनेजमेंट की मांग बढ़ेगी और सभी राजनीतिक दल इसकी सेवा ले सकते हैं। ऐसे में दूसरी कंपनियां भी इस मैदान में आ सकती हैं।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

सुशासन बाबू के कुशासित नालंदा में यूं 'कैद' हुआ जमशेदपुर का टीवी रिपोर्टर
राजगीर में युवक को घर में घुस कर मारी गोली, पुलिस की निष्ठा पर उठे सबाल
आलोचनाओं से घिरीं आज तक की अंजना ओम कश्यप ने यूं दिया जवाब
नीतीश कुमार को अपने ही रिकार्ड को तोड़ने की होगी चुनौती
वाट्सएप की दो टूकः नहीं कर सकते प्रायवेसी का उल्लंघन
नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट्स का द्विवार्षिक 'रांची सम्मेलन' सम्पन्न
नफे-नुकसान के बीच राजद-जदयू विलय की बात बेमानी!
लक्षमणपुर बाथे नरसंहारः न्याय पर उठा सबाल
दो लड़कियों ने की ऑटो ड्राइवर से रेप की कोशिश !
मैक्सिको में 43,200 बार रेप की शिकार युवती ने सुनाई दिल दहला देने वाली आपबीती
अर्जुन मुंडा झूठे हैं या दर्जनों फेसबुक प्रोफाइल-पेज ?
साथी पत्रकारों की मदद आ रही काम, उपेंद्रनाथ मालाकार के स्वास्थ्य में सुधार
साप्ता.चौथी दुनिया के निशाने पर इंडियन एक्सप्रेस के संपादक
आपके बोल से चिढ़ हो रही है सुशासन बाबू !
अब मप्र के भाजपा प्रवक्ता ने वरिष्ठ नेता-अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को बताया नमक हराम
अपनी-अपनी सी एमएस धौनी की कहानी
डॉक्टर ने पांच परिजनों को जहर की सूई देकर मार डाला!
NDTV के खिलाफ हुई  एमरजेंसी जैसी कार्रवाई :एडिटर्स गिल्ड
फर्जी राजगीर पत्रकार संघ का कोषाध्यक्ष मनोज कुमार बना फर्जी हेडमास्टर !
सीएम रघुबर दास के पॉल्टिकल एडवाइजर से प्रेस एडवाइजर बने अजय कुमार
कोई भी धर्मग्रंथों पर ट्रेडमार्क अधिकार का दावा नहीं कर सकता :सुप्रीम कोर्ट
मौन है लखनऊ के दल्ले पत्रकारों की कलम !
हजारीबाग कोर्ट में गैंगवार, झारखंड में जंगल राज !
बीफ विवाद के बीच हरियाणा के सरकारी पत्रिका का संपादक बर्खास्त
3 साल छोटे हुये सुबोधकांत, संपति हुई दुगनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...