मोदी नहीं, मुबारक का भाषण सुन रहे हैं ओबामा

Share Button

मोदी-ओबामा की तस्वीर ने मचाया बवाल 

barack-obama-mubarakगुजरात के मुख्यमंत्री और भाजपा के पीएम पद के दावेदार नरेंद्र मोदी इन दिनों आक्रामक मुद्रा में नजर आ रहे हैं। यह और बात है कि गरीबी के जिस मुद्दे को लेकर उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोला था, उनके अपने राज्य में मंत्री वही गलती दोहरा रहे हैं और वो चुप्‍पी साधे हैं।

लेकिन भाजपा को इन दिनों मोदी के अलावा कुछ नहीं दिख रहा। उनके नाम पर वह आगामी चुनावों में जीत दर्ज करने के लिए हर कोशिश करने को तैयार है और इसका एक असर सोशल मीडिया पर भी दिख रहा है। 

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक ऐसी तस्वीर चल रही है, जो भाजपा के लिए सिरदर्द बन सकती है। लेकिन इस तस्वीर के पीछे जो कहानी है, वो कम दिलचस्प नहीं है।

इस तस्वीर में आपको अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा अपने टेलीविजन पर नरेंद्र मोदी का भाषण सुनते हुए नजर आ रहे हैं। साथ ही इस तस्वीर के साथ कैप्‍शन चलाया जा रहा है, जिसमें लिखा है, “यहां तक कि ओबामा भी नमो का भाषण सुनते हैं।”

हालांकि, यह तस्वीर असली नहीं है। इसमें खेल किया गया है। लेकिन सोशल मीडिया पर मोदी का प्रचार-प्रसार करने में जुटी लॉबी इस तस्वीर के सहारे यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि ओबामा भी मोदी के दीवाने हैं।

हकीकत में यह तस्वीर 28, 2011 की है, जिसमें ओबामा मिस्र के राष्ट्रपति होसनी मुबारक का भाषण टेलीविजन पर देख-सुन रहे हैं, जो उन्होंने आउटर ओवल ऑफिस के बाहर दिया था।

मुबारक की जगह मोदी कैसे आए?

लेकिन इस नकली तस्वीर में मुबारक की जगह मोदी की तस्वीर लगा दी गई है। व्हाइट हाउस के मुताबिक यह तस्वीर पीट सूजा ने ली थी, जो उनके फ्लिकर एकाउंट पर पोस्ट की गई और सार्वजनिक स्तर पर उपलब्‍ध है।

हालांकि, जो तस्वीर सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही है उसमें 30 साल मिस्र पर राज करने के बाद जनता के आंदोलन की वजह से हटाए गए मुबारक की जगह मोदी बोलते हुए दिख रहे हैं और ओबामा उन्हें सुन रहे हैं। जाहिर है, एक नजर में इस तस्वीर को देखकर कोई भी धोखा खा सकता है। 

दूसरे लोगों के अलावा यह तस्वीर गुजरात में नवसारी से भाजपा के सांसद सी आर पाटिल ने भी शेयर की है, जो मोदी समर्थक माने जाते हैं। हालांकि, वह यह जांचना भूल गए कि तस्वीर असली है या नकली।

भाजपा सांसद ने शेयर की तस्वीर

barak-obama-and-modiइस बारे में संपर्क करने पर पाटिल ने कहा कि उन्हें नहीं पता था कि इस तस्वीर के साथ छेड़छाड़ गई है। उनका कहना है कि उन्हें यह किसी की तरफ से फेसबुक पर मिली थी और बिना इसकी विश्वसनीयता जांचे, उन्होंने इसे आगे फॉरवर्ड कर दिया।

हालांकि, पाटिल यह मानने को तैयार नहीं कि इस तस्वीर के पीछे भाजपा समर्थक हैं। उनका कहना है कि यह काम भाजपा विरोधियों का है, जो नकली तस्वीर की बात उछालकर उसे बदनाम करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, “भाजपा या नरेंद्र मोदी का समर्थक ऐसा काम क्यों करेगा, जिससे बाद में उसकी बदनामी हो? इसके पीछे भाजपा के विरोधी लोग हो सकते हैं। मैं इससे जुड़ा ब्योरा तलाश रहा हूं।”

Share Button

Relate Newss:

पटना में ही था हैदर अली संग तहसीन
संविधान में बराबरी और अलग प्रदेश की मांग को लेकर नेपाल में मधेसियों की उग्रता बरकरार
भोपाल सेंट्रल जेल से प्रतिबंधित  सिमी के आठ लोग फ़रार
21 दिन बाद भी सुपरविजन नहीं, बीडीओ पर मेहबान है रांची पुलिस !
दैनिक हिन्दुस्तान में एसपी-डीएसपी के तबादले की 'फेक खबर' से नालंदा में सनसनी
गद्दार हैं ‘70 वर्षों में देश में कुछ नहीं हुआ’ कहने वाले
देखिये, इस मामले में राजगीर नगर पंचायत पदाधिकारी की गीली हो रही पैंट!
आमिर और शाहरुख जैसे का सर कलम कर बीच चौराहे पर टांग देना चाहिएः हिन्दू महासभा
पत्रकार बलबीर दत्त और कलाकार मुकुंद नायक को पद्मश्री सम्मान
देखिये हजारीबाग सेंट्रल जेल में भाजपा नेताओं की ढिठई
आइएएनएस के ब्यूरो प्रमुख का गोरखधंधा, बीबी के नाम पर लूट रहा है झारखंड आइपीआरडी
मामला पहुंचा महिला आयोगः महज 11 साल की है ताला मरांडी की बहू !
गीतकार समीर को मिला राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान !
इंडियन मुजाहिदीन का है दैनिक ‘प्रभात खबर’ से कनेक्शन !
श्वेताभ सुमन की लंका में फूटी चिंगारी, सुनिये ऑडियो टेप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...