मुख्यमंत्री जनसंवाद 181 ने भी नहीं ली इस अमानवीयता की सुध !

Share Button

गेड्डा (नागमणि कुमार)। भारतीय समाज में सामाजिक सेवा को उत्कृष्ठ दर्जा प्राप्त है, क्योंकि सामाज सेवा ही एकमात्र ऐसा क्षेत्र है जहां लोग निज स्वार्थ से परे जनहीत में सेवा कार्य किया करते हैं। मगर सामाजिक सेवा केन्द्र ही शोषण का केन्द्र बन जाए तो इसे आप क्या कहेंगे? तस्वीरें झारखंड प्रदेश के गोड्डा जिले की है, जहां अक्टूबर महीने की 28 तारीख को विकलांग आवासीय विद्यालय में बच्चों को मजदूरी करते देखा गया था। समावेशी शिक्षा के अन्तर्गत चलाए जा रहे झारखंड आदर्श विद्यालय की ये तस्वीरें अपने आप में बहुत कुछ कहते नजर आती हैं।

मुख्यालय से 13 किलोमीटर की दूरी पर परसोती गांव में स्थित केन्द्र की ये तस्वीरें सामाजिक सेवा क्षेत्र को कलंकित नजर आ रही हैं।

जानकारी हो कि ये तस्वीरें उस समय की है जब पूरा देश में दिपावली को लेकर जश्न का माहौल था, वहीं दूसरी तरफ विकलांग आवासीय विद्यालय में मासूम बच्चों से मजदूरी कराया जा रहा था। यह वही आवासीय विद्यालय है, जहां के बच्चों को खाना भी ठीक से नहीं दिया जाता। बीते दिनों हुए दौरे में रसोई के अन्दर मुकबधिर बच्चे को चावल पानी खाते देखा गया था।

बच्चियों से बातचीत के दौरान जानकारी मिली कि संस्थान संचालक जयकांत यादव उनसे बराबर मजदूरी करवाते हैं, वहीं विद्यालय के कार्यरत कर्मचारी रोबिन हेम्ब्रम ने जानकारी दी थी कि आवासीय विद्यालय के अन्दर अक्षम बच्चों से ज्यादा सामान्य बच्चे रहते हैं। पूरे मामले की जानकारी मुख्यमंत्री जनसंवाद 181 पर दिया जा चुका है, 100 दिन बीत चुके मगर अब तक कोई ठोस कार्रवाई होते नजर नहीं आ रहा।

इस सच्चाई को जानने के लिये देखेें वीडियो……. https://youtu.be/avso8F7yFfs 

Share Button

Relate Newss:

प्रिंट मीडिया के लिये यह है आत्म-चिंतन का समय
अनेक चर्चाओं-आशंकाओं के बीच यूं बोले ‘द रांची प्रेस क्लब’ के नव निर्वाचित सचिव शंभुनाथ चौधरी
पत्रकार रंजन हत्याकांड के आरोपी को सीबीआई कोर्ट से जमानत
देश के 80% रोजगार के नाकाबिल हैं इंजीनियरिंग डिग्री धारी
खनन माफियाओं के खिलाफ कोई नहीं सुनता
हार्ट अटैक से नहीं हुई भास्कर समूह संपादक कल्पेश की मौत, पुलिस मान रही है सुसाइड
मुखिया की गुंडई पर पुलिस की कार्यशैली को लेकर पत्रकारों में उबाल
IPS अमिताभ ठाकुर की पत्नी नूतन ठाकुर हुईं BJP में शामिल
बर्खास्त रिपोर्टर को लेकर खामोश क्यों है पत्रकार संघ और परिषद
गोड्डा बना गौ तस्करी का अड्डा, कहां है आरएसएस के रघु'राज!
बागों में बहार है, दहशत में पत्रकार है !
पत्रकार बलबीर दत्त और कलाकार मुकुंद नायक को पद्मश्री सम्मान
महिला पत्रकार को महंगा पड़ा फेसबुक पर मदरसा में यौन शोषण का मामला उठाना
वोफ्फर  :ई-कॉमर्स व्यापारियों की नयी सीढ़ी
या खुदा! इन्हें दोजख भी नसीब न करना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...