मीडिया पर अमित शाह का दिखा खौफ, यूं हटा लिया खबर

Share Button

वाकई ये चौंकाने वाली खबर है कि एक साधारण सी खबर, जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज्यसभा चुनाव के लिए अपनी संपत्ति का खुलासा करते हैं और पिछले विधानसभा चुनाव अर्थात बस पांच साल में संपत्ति में बढ़ोत्तरी तीन सौ गुना की घोषणा भी की जाती है।

सवाल है कि जब खुद अमित शाह अपनी संपत्ति का ब्यौरा जारी करते हैं तो पुराने आंकड़ों के आधार पर मीडिया (वेब वर्जन) ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया तो क्या वजह रही कि वह खबर छपने के बस चंद लम्हों बाद ही हटा ली जाती है।

ख़बरों के गुनाहगार हमारी मीडिया इस पर रौशनी शायद ही डाले मगर राष्ट्रवाद के आंच पर पकने वाला हर अनैतिक खिचड़ी को नैतिकता का लबादा कैसे पहना दिया जाता है, शर्मनाक है। मुख्यधारा की वेब मीडिया खुद वेब मीडिया को शर्मिंदा कर रहे हैं।

गूगल पर सर्च किये गए हर मुख्य धारा मीडिया का लिंक बेनतीजा निकला ……….

 

Share Button

Relate Newss:

'इस महापाप में न्यायपालिका, विधायिका, कार्यपालिका, मीडिया,एनजीओ सब शरीक'
आस्ट्रेलिया में 30 नवंबर से खुलेगा सबसे बड़े दुर्गा मंदिर का पट
पाकिस्तान में जमी है इन देश द्रोहियों की जड़ें
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा में लालू लालू की दिलचस्पी !
अंततः कोर्ट के आदेश से दर्ज हुआ इंजीनियरों पर गबन का FIR
कोई नहीं ले रहा ललमटिया कोल खदान के विस्थापितों की सुध !
हिन्दुस्तान की कुराह चला भास्कर, नालंदा एसपी के हवाले से छाप दिया ऐसी मनगढ़ंत खबर
सावधान! झारखंड में चार शिक्षण संस्थान फर्जी, उषा मार्टिन अकादमी को AICTE से नहीं है मान्यता
पत्रकार को फंसाने वाली मुखिया के खिलाफ यूं फूटा ग्रामीणों का गुस्सा
अनुचित है रांची कॉलेज का नाम बदलना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...