भोजपूरिया बिहारी का चंपारण कोलाज

Share Button

तस्वीरों का मजेदार कोलाज है यह। सत्याग्रह के शताब्दी वर्ष में चंपारण की धरती पर विनय बिहारी जो गांधीवाद के नाम पर कर रहे हैं, उसी को दरसा रहा है। पैजामा-कुरता छोड़कर आजकल खाकी हाफपैंट में घूम रहे हैं।

विनय बिहारी के बारे में तो जानते ही होंगे। भोजपुरी के मशहूर गीतकार रहे हैं। ऐसे मशहूर गीतकार कि अश्लील गीत रचने के मामले में मुकदमा हुआ। गैर जमानती वारंट जारी हुआ था तो मंत्री रहते फरार हो गये थे।

bjp-mla-vinay-bihariयह भी जानते ही होंगे कि निर्दल विधायक बने थे। नीतीश कुमार के यहां रगड़ मारकर मंत्री बने।  इच्छा थी कि नीतीश अपने दल में शामिल कर लें। नहीं किये तो जब मांझी सीएम बने तो मांझी के साथ नीतीश के खिलाफ आग उगलने लगे थे और जब विधानसभा चुनाव की बारी आयी तो मांझी को बोले कि रहेंगे आप ही की पार्टी में लेकिन सिंबॉल भाजपा का दिलवाइये करार कर के।

पार्टी विद डिफरेंस ने सिंबॉल दे दिया था और इस तरह फिर से विधायक बन गये और भाजपाई विधायक कहलाते हैं। विकास के लिए खाकी हाफ पैंट पहनकर घूम रह हैं।

जो चंपारणवाले हैं वे तो जानते ही होंगे कि विधायक और मंत्री रहते चार साल पहले इन्हें लोग अपने इलाके में घूसने नहीं देते थे, क्योंकि भाई साहब ने एक भी काम नहीं किया था। अपने इलाके में और सदन में कभी बोलते भी नहीं थे बल्कि सभी नेताओं को लेकर भोजपुरी सिनेमा बनाने में व्यस्त रहते थे। (साभारः बिदेसिया रंग फेसबुक वाल)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...