भाजपा शासित राज्‍यों में दालों की जमकर जमाखोरी

Share Button

दालों की बढ़ती कीमतों के बीच जमाखोरों और कालाबाजारी के खिलाफ राज्‍यों ने अभियान तेज कर दिया है।  पिछले दो-तीन दिन के अंदर देश के 10 राज्‍यों में छापेमारी के दौरान करीब 35 हजार टन से ज्‍यादा दाल का स्‍टॉक पकड़ा गया है।

dalहैरानी की बात यह है कि जमाखोरों पर छापेमारी के बाद दालों की सबसे ज्‍यादा मात्रा भाजपा शासित राज्‍यों में जब्‍त की गई है।

सबसे ज्‍यादा करीब 23 हजार टन दाल महाराष्‍ट्र में जब्‍त की गई। जबकि छत्‍तीसगढ़ में करीब साढ़े चार हजार टन दालों का स्‍टॉक सीज किया गया है।

मध्‍य प्रदेश में 2295 टन और हरियाणा में 1168 टन दाल छापेमारी के दौरान पकड़ी गई है।

इन भाजपा शासित राज्‍यों के विपरीत कर्नाटक में 479 टन, हिमाचल प्रदेश में सिर्फ 2.44 और तमिलनाडु में करीब 4 टन दाल ही जमाखोरों से जब्‍त की गई।

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने दावा किया है कि जमाखोरों से पकड़े गए दालों के इस स्‍टॉक को आयातित दाल के साथ अब बाजार में जारी किया जायेगा ताकि चढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाया जा सके।

दालों की महंगाई पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र सरकार ने हाल ही में आवश्‍यक वस्‍तु अधिनियम के तहत राज्‍यों को दालों पर स्‍टॉक लिमिट लागू करने का अधिकार दिया था।

केंद्र सरकार राज्‍यों को जमाखोरों के खिलाफ कार्रवाई के लिए भी कह रही है। भाजपा शासित राज्‍यों में दालों की अधिक मात्रा जब्‍त किए जाने की एक वजह यह भी हो सकती है कि केंद्र के निर्देश पर इन राज्‍यों ने जमाखोरों पर छापेमारी करने में अधिक मुस्तैदी दिखाई है।

हिमाचल और कर्नाटक में दालों की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कितने छापे मारे गए यह जानकारी भी केंद्र सरकार के पास उपलब्‍ध नहीं है।

इस बीच वित्त मंत्री अरण जेटली ने सप्ताह में दूसरी बार अंतर मंत्रालयी समूह की बैठाकर दालों की बढ़ती कीमतों पर चर्चा की।

उन्होंने राज्य सरकारों पर दोष मढ़ते हुए कहा कि जमाखोरों के खिलाफ कारवाई करने में ज्यादातर राज्य अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए कुछ खास नहीं कर रहे हैं।

पिछले तीन-चार दिन में जब केंद्र की तरफ से दबाव बढ़ाया गया तो 3,290 तलाशी और जांच अभियानों में 36,000 टन दाल का स्‍टॉक पकड़ा गया। 

जेटली के मुताबिक 5,000 टन आयातित दाल पहले ही देश में पहुंच चुकी है और इसका राज्यों के बीच वितरण किया जा रहा है। इसके अलावा 3,000 टन आयात की जा रही दाल भी जल्द पहुंचेगी।

उन्होंने उम्मीद जताई कि आयातित दाल के साथ जब जब्त की गई दाल बाजार में आएगी तो अगले दो से तीन दिन में कीमतें कम हो जाएंगी। 

क्रम संख्‍या  राज्‍य  छापेमारी  जब्‍त की गई मात्रा, टन में 
1. आंध्र प्रदेश  193 859.872
2. छत्‍तीसगढ़  52 4525.192
3. हरियाणा  227 1168
4. कर्नाटक —- 479.6
5. मध्‍य प्रदेश  25 2295
6. महाराष्‍ट्र  276 23340
7. तेलंगाना  1820 2546
8. तमिलनाडु 29 4.329
9. राजस्‍थान  82 68.475
10 हिमाचल  —- 2.44
  कुल  2704 35281

साभार रिपोर्टः अजीत सिंह,तहलका

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...