बेतुके नहीं, बेहुदे हैं बिहार के सीएम जीतन राम मांझी के ऐसे बयान !

Share Button

MANJHIलगता है कि बिहार के सीएम जीतन राम मांझी कभी अपने बेतुके तो कभी बेहुदे बयान के कारण हमेशा चर्चा में बना रहना चाहते हैं।   एक बार फिर उनका विवादास्‍पद बयान सामने आया है, जो उसकी व्यापक पुष्टि करती है।

मांझी का कहना है कि  90 परसेंट से ज्यादा मर्द दूसरों की पत्नियों को डेट करते हैं। कुछ ही लोग ऐसे होते हैं, जो अपनी रियल पत्‍नी के साथ धूमते हों।

jitan ram manjhiदरअसल, अगस्त 2014 में उनका बेटा एक शादीशुदा महिला पुलिसकर्मी के साथ पकड़ा गया था। उसी प्रकरण को लेकर जब सबाल किया गया तो मांझी ने दो टूक कहा कि सिर्फ दो से पांच फीसदी लोग ही अपनी पत्नियों से साथ घूमने जाते हैं, बाकी लोग दूसरों की पत्नियों के साथ जाते हैं।

मांझी इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा कि अगर आप पटना के ईको पार्क जाएंगे, तो वहां पर सिर्फ अविवाहित लोग ही घूमते हुए नहीं मिलेंगे। अगर पुरुष और महिला दोनों वयस्‍क हैं और उनका आपसी सहमति से रिश्ता है तो अफेयर में कोई दिक्कत नहीं है। यह व्यक्तिगत मामला है।

jiten_cromaगौरतलब है कि इससे पहले मांझी कई विवादास्पद बयान दे चुके हैं। परिवार का पेट पालने के लिए कालाबाजारी को सही बताने, थोड़ी शराब पीने को गलत न मानने, बिजली के बिल के सेटलमेंट के लिए घूस देने से और पेट भरने के लिए चूहा खाने, उग्रवादियों द्वारा लेवी लेने को सही ठहराने से लेकर पुल के ठेकेदारों से कमिशन लेने की बात कह चुके हैं।

सबसे बड़ी बात कि मांझी के लगातार इसी तरह के विवादास्‍पद बयानों के कारण पार्टी के अंदर से ही उन्‍हें हटाने की मांग उठने लगी। इस पर मांझी बगावत पर उतर आए।

Share Button

Relate Newss:

देखिये कैसे जाहिल चला रहे हैं District Administration, Nalanda फेसबुक पेज
द्रौपदी की रक्षा के लिये प्रकट हुये भगवान
गद्दार हैं ‘70 वर्षों में देश में कुछ नहीं हुआ’ कहने वाले
मोहर्रम जुलूस में बुर्का पहन महिला से छेड़छाड़ करते धराया VHP नेता !
सीएम के सामने भास्कर की चमचागिरी तो देखिए!  
एसपी के ग्रेडिंग में सुशासन बाबू के गृह थाना हरनौत को मिला ग्रेड "D"
नीतिश सरकारः मीडिया में महज चेहरा चमकाने पर फूंक डाले 500 करोड़
ढोंगी रामपाल की काली दुनिया का सच
सीएम रघुवर दास के प्रेस सलाहकार की इनोवा छीनी तो हुआ एसआइटी का गठन
चोर-पुलिस के आतंक से त्रस्त हैं नालंदा के चंडी का रामघाट बाजार
इकॉनॉमिक टाइम्स से दिलीप सी. मंडल की दो शिकायतें
सुनिये दैनिक प्रातः कमल रिपोर्टर की गुंडई, गाली-गलौज के बाद दी जान मारने की धमकी
डीएसपी के झांसे में नहीं आए पत्रकार, आमरण अनशन जारी
बच्चे फेल नहीं हुए, आपका सिस्टम फेल हुआ साहब
भोजपूरिया बिहारी का चंपारण कोलाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...