निरुप मोहंतीः झामुमो का वातानुकूलित प्रत्याशी !

Share Button

राजनामा.कॉम। झारखंड के जमशेदपुर लोकसभा सीट से झामुमो ने झाविमो प्रत्याशी एवं निवर्तमान सांसद डॉ अजय कुमार के खिलाफ अपना वातानुकूलित प्रत्याशी उतारा है।

कहते हैं कि पार्टी के भीतर तमाम विरोधाभासों के बावजूद सीएम हेमंत सोरेन ने इनका स्पेशल चयन करवाया है।

nirrop_mohanti_jmmजी हां, हम बात कर रहे हैं टाटा स्टील कंपनी के पूर्व पदाधिकारी निरुप मोहंती का। मोहंती का कहना है कि उन्हें राजनीति के मामले में अनुभवहीन हैं। चूकि 25 साल पहले यहां टाटा कंपनी लगाने में झामुमो ने काफी सहयोग किया है, इसलिये वे इस पार्टी से वे उम्मीदवार बनने को राजी हो गये।  

वे वर्तमान सांसद डा. अजय कुमार को अपना परम मित्र भी मानते है। मोहंती कहते है कि वो कोई वादा नहीं करना चाहते है। वे राजनीति में समस्याओं का समधान करने के लिए ही आये है।

वह खुद स्वीकार करते हैं कि वो जिस कल्चर से आये हैं, वो एयर कंडीशन कल्चर है और यहां ज़मीनी हालत उस से काफी अलग है। इसलिए पहले वे यह तय करना चाहते है कि लोगों की समस्याय क्या हैं?

mohanti1उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने झामुमो के लिये बड़ी मशक्कत के बाद झारखंड के कुल 14 सीटों में 4 सीट छोड़ी है। जमशेदपुर सीट पर झामुमो-कांग्रेस के भीतर ही कई अनुभवी पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे। इसके बावजूद खुद को एयर कंडीशन कल्चर के व्यक्ति को सीधे लोकसभा का प्रत्याशी बना कर चुनावी जंग में उतार दिया।

लगता है कि झामुमो जमशेदपुर सीट को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई है और अपने विरोधियों के लिये खुला मैदान छोड़ दिया है। ऐसे में सवाल उठना स्वभाविक है कि यदि मैदान खुला ही छोड़ना था तो सीटों के बंटबारे में यूपीए गठबंधन में इतनी तुक्कम फजहत क्यों हुई। 

भला कोई इतनी चिल-पों के बाद चुनाव के दौरान समस्या मात्र  तय करने वाला प्रत्याशी कड़े मुकाबले में उतारता है ? अब ऐसे लोगों को टिकट दिलवाने के पिछे झामुमो के युवा तुर्क सीएम हेमंत सोरेन की राज-मंशा  क्या है?  उनके पिताश्री गुरुजी हीं जानें।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...