नियुक्ति के बाद से FTII ऑफिस नहीं गए गजेंद्र चौहान

Share Button

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य गजेंद्र चौहान पुणे के फिल्म्स एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट (एफटीआईआई) के अध्यक्ष नियुक्त किए जाने के बाद से अब तक अपने ऑफिस नहीं गए हैं और उनकी नियुक्ति को लेकर भी अलग तारीख सामने आई है।

chauhanइसका खुलासा सूचना का अधिकार (आरटीआई) के तहत मांगी गई जानकारी से हुआ। इस संबंध में आवेदन आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने दायर किया था।

गलगली ने एफटीआईआई से पिछले 15 सालों में उनके अध्यक्षों, उनकी उपस्थिति, शिक्षा और कार्यकाल के बारे में जानकारी मांगी थी।

हालांकि चौहान को एफटीआईआई के अध्यक्ष पद पर इस साल नौ जून को नियुक्त किया गया, लेकिन आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, चौहान को चार मार्च, 2014 को नियुक्त किया गया था। बहरहाल, उनकी नियुक्ति को लेकर जो भी तारीख सही हो, वह अभी तक एक दिन भी ऑफिस नहीं गए हैं।

लेखक समीक्षक यू. आर. अनंतमूर्ति अपने कार्यकाल में 26 बार कार्यालय गए। फिल्म निर्माता सईद मिर्जा ने तीन सालों तक अध्यक्ष पद संभाला और इस अवधि में वह 20 बार अपने ऑफिस गए। अभिनेता, निर्देशक गिरीश कर्नाड बतौर अध्यक्ष अपने एक साल के कार्यकाल में छह बार ऑफिस गए।

भाजपा के सांसद और अभिनेता विनोद खन्ना दो सालों के लिए दो बार अध्यक्ष नियुक्त किए गए, लेकिन वे केवल दो बार ही कार्यालय गए। तीन महीने के सबसे कम कार्यकाल में पवन चोपड़ा ने अपने कार्यकाल के अंतिम दिन 16 दिसम्बर 2002 को ही कार्यालय के दर्शन किए।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.