नवीन जिंदल का निर्वाचन आयोग में जी न्यूज की शिकायत

Share Button
Read Time:5 Minute, 8 Second

प्रमुख उद्यमी और कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल ने समाचार चैनल जी न्यूज और जी बिजनेस पर उनके खिलाफ आधारहीन खबरें प्रसारित करने का आरोप लगाते हुए आज निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज कराई है।

jindalजिंदल ने निर्वाचन आयोग में मुख्य चुनाव आयुक्त वी एस संपत सहित तीनों चुनाव आयुक्तों से मुलाकात करके दोनों चैनलों के खिलाफ उनके विरुद्ध झूठी और आधारहीन खबरें प्रसारित करने के लिए शिकायत दर्ज कराई और इस मामले में कार्रवाई करने की उनसे मांग की।

उन्होंने चुनाव आयुक्तों से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा कि जी न्यूज और जी बिजनेस ने मुझसे 100 करोड रुपये मांगे थे जिसे न देने और इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराने से चिढ़े दोनों समाचार चैनल मेरी छवि खराब करने के लिए मेरे विरुद्ध दुष्प्रचार कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद से दोनों समाचार चैनलों ने यह अभियान तेज कर दिया है और तब से अब तक ऐसे 85 झूठे और आधारहीन कार्यक्रम दिखा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि ये दोनों समाचार चैनल एक षडयंत्र के तहत और उन पर दबाव बनाने के लिए झूठी खबरें

प्रमुख उद्यमी और कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल ने समाचार चैनल जी न्यूज और जी बिजनेस पर उनके खिलाफ आधारहीन खबरें प्रसारित करने का आरोप लगाते हुए आज निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज कराई है।

जिंदल ने निर्वाचन आयोग में मुख्य चुनाव आयुक्त वी एस संपत सहित तीनों चुनाव आयुक्तों से मुलाकात करके दोनों चैनलों के खिलाफ उनके विरुद्ध झूठी और आधारहीन खबरें प्रसारित करने के लिए शिकायत दर्ज कराई और इस मामले में कार्रवाई करने की उनसे मांग की।

उन्होंने चुनाव आयुक्तों से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा कि जी न्यूज और जी बिजनेस ने मुझसे 100 करोड रुपये मांगे थे जिसे न देने और इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराने से चिढ़े दोनों समाचार चैनल मेरी छवि खराब करने के लिए मेरे विरुद्ध दुष्प्रचार कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव की घोषणा होने के बाद से दोनों समाचार चैनलों ने यह अभियान तेज कर दिया है और तब से अब तक ऐसे 85 झूठे और आधारहीन कार्यक्रम दिखा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि ये दोनों समाचार चैनल एक षडयंत्र के तहत और उन पर दबाव बनाने के लिए झूठी खबरें दिखाकर जनता को गुमराह कर रहे है। जिंदल ने कहा कि उन्होंने चुनाव आयुक्तों से पूरे मामले की जांच कर दोनों समाचार चैनलों पर ऐसी खबरें प्रसारित करने से रोकने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

उन्होंने कहा कि वह किसी के दबाव में आने वाले नहीं है। जिंदल ने कहा कि जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 के प्रावधानों के तहत निर्वाचन आयोग आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद किसी मीडिया संस्थान द्वारा किसी पार्टी या व्यक्ति विशेष के विरुद्ध दुष्प्रचार अभियान चलाने पर कार्रवाई कर सकता है।

दिखाकर जनता को गुमराह कर रहे है। जिंदल ने कहा कि उन्होंने चुनाव आयुक्तों से पूरे मामले की जांच कर दोनों समाचार चैनलों पर ऐसी खबरें प्रसारित करने से रोकने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि वह किसी के दबाव में आने वाले नहीं है। जिंदल ने कहा कि जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 के प्रावधानों के तहत निर्वाचन आयोग आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद किसी मीडिया संस्थान द्वारा किसी पार्टी या व्यक्ति विशेष के विरुद्ध दुष्प्रचार अभियान चलाने पर कार्रवाई कर सकता है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

63 साल में नहीं हुआ, मोदी जी ने 2 साल में कर दिखाया : नरेन्द्र सिंह तोमर
SBI बैंक के सुरक्षा गार्ड के वेतन का आधा से उपर पैसा यूं उड़ा रही CISS एजेंसी
बीएड और टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेजों की चांदी, लुट रहैं हैं छात्र, बेफिक्र है सरकार
यही है नीतीश का बिहार और बिहारी प्रेम
पत्रकार प्रताड़ना को लेकर यूं मुखर हुए पूर्व विधायक अनंत राम टुडू
राजेन्द्र जैसे प्रेरक युवाओं को सरकारी प्रोत्साहन की जरुरत
13 अक्टूबर को रजत जयंती समारोह मनाएगा पटना दूरदर्शन केन्द्र
हर न्यूड चित्र प्रकाशन को अश्लील नहीं कहा जा सकता: सुप्रीम कोर्ट
दर्शक कैसे करते हैं टीवी न्यूज चैनलों की शिकायत
भयभीत मनोरंजन ने राजनामा से कहा, सीएम स्तर से दब रहा है मामला !
22 साल बाद संघ गणवेश पहन पथ संचलन करेगें सदानंदन मास्टर
भगवान बिरसा जैविक उद्दान में लूट का आलमः खा गए मछली , डकार लिए घर
नालंदाः पूजा से पहले मिट्टी में दफन हो गई चार घरों की लक्ष्मी
भूत मेला रोकने गई पुलिस के साथ झड़प में एक की मौत !
सियासी प्याले में ओबामा-मोदी का कूटनीतिक धमाल !
रामेश्वर उरांव जी, कहां गए 75 लाख के पोस्टल आर्डर
अमेजन के हिंदू देवी-देवताओं की ‘फोटो लेगिंग’ पर बबाल
कितना जरूरी है सोशल मीडिया पर अंकुश
सलमान खान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका
सीएम नीतीश के हरनौत में धरने पर बैठे पत्रकार और नकारा बने उनके चहेते नालंदा डीएम-एसपी
रघु'राज में भी बेलगाम हैं प्रदेश के निजी स्कूल
सोशल मीडिया को भी प्रेस परिषद दायरे में लाना चाहिएः अध्यक्ष न्यायमूर्ति सी.के. प्रसाद
भाजपा बनाम मोदी में उलझा दिखता है यह चुनाव !
गुप-चुप तरीके से हो रही है राज्य सभा टीवी में भर्तियां !
राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि से अतिक्रमण हटाने में भेदभाव, आत्मदाह करेगें महादलित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...