दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा में लालू लालू की दिलचस्पी !

Share Button

laluकरीव 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा को जानने और समझने में इनदिनों राष्ट्रीय जनता दल  के सुप्रीमो लालू प्रसाद  काफी  दिलचस्पी ले रहे हैं । उनकी इस मामले में अचानक दिलचस्पी रहस्यमय बनी हुई है । कारण पूरे एक वर्ष से दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा में मुंगेर मुख्यालय में पुलिस अनुसंधान चल रहा है और सोशल मीडिया में पुलिस अनुसंधान की खबर लगातार आ रही है ।

परन्तु पूर्व में कभी भी राजद प्रमुख ने इस मामले में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई थीं ।दैनिक हिन्दुस्तान ने राजद प्रमुख को पिछले दिनों विधान सभा के चुनाव में अच्छा झटका दिया था, पूरी दुनिया इस तथ्य को जानती है । लोक सभा चुनाव सिर पर है ।आसन्न लोक सभा चुनाव के मद्देनजर ही श्री प्रसाद दैनिक हिन्दुस्तान के मामले में अपनी पार्टी की रणनीति तय करेंगें, ऐसा स्वतंत्र राजनीतिक पर्यवेक्षकों का मानना है ।

सूचक मन्टू शर्मा को अपने पटना स्थित आवास पर लालू प्रसाद ने बुलाया:
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा कांड के सूचक मन्टू शर्मा को पिछले दिनों पटना स्थित अपने आवास पर बुलाकर दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा के कानूनी पक्ष को समझने की कोशिश की ।

लालू ने फर्जीवाड़ा से जुड़े सभी दस्तावेजों की मांग की:
पटना से मिली सूचना में बताया गया है कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने कोतवाली कांड संख्या -445।2011 के सूचक  व आर0टी0आई0एक्टिविस्ट मन्टू शर्मा से दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा से जुड़े सभी दस्तावेजों की मांग की है। 
सूचक मन्टू शर्मा ने श्री प्रसाद को सूचित किया है कि पटना उच्च न्यायालय में गत 17 दिसंबर ,12 को विज्ञापन फर्जीवाड़ा कांड की अभियुक्त व मेसर्स हिन्दुस्तान मीडिया वेन्चर्स लिमिटेड की  अध्यक्ष शोभना भरतिया और  प्रकाशक अमित चोपड़ा मुकदमा हार चुके हैं ।श्री प्रसाद ने मन्टू शर्मा से पटना उच्च न्यायालय के 17 दिसंबर,12 के आदेश की प्रति भी देने का आग्रह किया है ।

राजद सुप्रीमो की दिलचस्पी के पीछे की रणनीति क्या है ? बिहार के लोग अनुमान कर रहे हैं कि आगामी लोक सभा और बिहार विधान सभा के सत्रों  में राजद सुप्रीमो 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा के मामले को पूरजोर ढंग से  सदन के पटल पर अपनी पार्टी की ओर से पेश करने की रणनीति  अख्तियार करेंगें । बिहार के नागरिकों को उम्मीद है कि राजद प्रमुख इस विश्वव्यापी मीडिया घोटाला के अभियुक्तों को सजा दिलाने के लिए हर संभव कोशिश करेंगें । आगामी लोकसभा और बिहार विधान सभा के सत्रों के दौरान ही दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा मामले में लालू प्रसाद की रणनीति स्पष्ट हो पायेगी ।

.…….. मुंगेर से श्रीकृष्ण प्रसाद की रिपोर्ट

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.