दैनिक ‘हिन्दुस्तान’ का देखिए फिर कमाल!

Share Button

राजनामा.काम। पटना से प्रकाशित दैनिक हिन्दुस्तान के बिहारशरीफ संस्करण में एक ही खबर को दो तरह से प्रकाशित कर कमाल कर दिया है। कमाल इसलिए कि मूल तथ्त ही बिल्कुल उलट है।

दैनिक हिन्दुस्तान के बिहारशरीफ संस्करण के पृष्ठ संख्या तीन पर चंडी डेटलाइन से ‘चंडी में अधेड ने जहर खाकर की खुदकुशी’ प्रकाशित की गई है।

जबकि इसी घटना से संबंधित एक बिहारशरीफ डेटलाइन से ‘अधेड की मौत’  छापी है। दोनों खबर चंडी थाना क्षेत्र के मुबारकपुर से जुड़ी एक घटना की है।

चंडी डेटलाइन से छपी खबर के अनुसार मुबारकपुर बिगहा गांव में पत्नी से झगड़ा के बाद पति ने जहर खाकर खुकुशी कर ली। मृतक की पहचान निरंजन कुमार के रुप में की गई है।

जहर खाने के बाद उसे रेफरल अस्पताल लाया गया। जहां से उसे बिहारशरीफ सदर अस्पताल भेज दिया गया। जहां जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई।

वहीं बिहारशरीफ डेटलाइन से छपी खबर के अनुसार डायरिया से पीड़ित अधेड़ की मौत बुधवार को सदर अस्पताल में हो गई। मृतक चंडी थाना के मुबारकपुर गांव निवासी निरंजन प्रसाद थे।

परिजन ने बताया कि वह काफी दिनों से बीमार थे। गांव में ही उनका ईलाज कराया जा रहा था। बुधवार को तबियत खराब हुई तो सदर अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया गया।

अब सबाल उठता है कि किसी भी अखबार का पाठक ऐसी खबरों पर चकराएगा ही। खासकर जब वह खबर अखबार में एक ही दिन परस्पर विरोधी तथ्य हों।

राजनामा.कॉम की पड़ताल में चंडी डेटलाइन से प्रकाशित खबर सही पाई गई। वहीं परिजनों के हवाले से बिहारशरीफ डेटलाईन की खबर की बनाबटी प्रतीत हुई।

Share Button

Relate Newss:

अटल जी को फेसबुक पर संघी बताने वाले प्रोफेसर पर हमला, जिंदा जलाने की प्रयास
आरएसएस से दूरी के बीच बोले बिहारी बाबू- भाजपा पहली और आखिरी पार्टी
सरकारी पैसे से राजनेताओं की मार्केटिंग पर सुप्रीम कोर्ट की रोक
हत्यारा या शाजिश के शिकार हैं एनोस एक्का
विकास पर्व के बहाने अपनी पकड़ साबित करने की तैयारी
सांसद घेरो आंदोलन का मुख्य केंद्र होगा फि़ल्म 'जियो और जीने दो
चौबे चले छब्बे बनने और दुबे बन कर रह गए
युवा समाजसेवी पत्रकार अमित टोपनो की हत्या के विरोध में निकला कैंडल मार्च
फेसबुक पर यूं बौखलाए कैमरे की जद में आये ईटीवी (न्यूज18) के सीनियर रिपोर्टर!
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला केस में शोभना भरतिया पर सवा लाख रूपया हर्जाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...