मामला पहुंचा महिला आयोगः महज 11 साल की है ताला मरांडी की बहू !

Share Button

munna marandiरांची।  झारखंड प्रदेश भाजपा के अध्‍यक्ष ताला मरांडी की बहू नाबालिग है और उसकी उम्र स्कूली रिकॉर्ड के मुताबिक महज 11 वर्ष है। इस नए खुलासे के बीच उनके बेटे मुन्ना मरांडी का मामला महिला आयोग पहुंच गया है।

बुधवार को पीड़िता ने दो पन्नों का पत्र आयोग को सौंपा। उस पत्र में मुन्ना पर उसका यौन शोषण करने का आरोप लगाया है।  उसने आयोग को बताया है कि मुन्ना ने दो दिन पहले एक नाबालिग लड़की से शादी भी कर ली है। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आयोग ने इसे राज्य के पुलिस महानिदेशक के पास कार्रवाई के लिए भेज दिया है। आयोग की अध्यक्ष डॉ महुआ माजी ने बताया कि इस मामले में नियम के तहत कार्रवाई होगी।

दरअसल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बेटे मुन्ना मरांडी की शादी करीब चार दिनों से चर्चा में है। यौन शोषण के आरोप में तय शादी टूट जाने के बाद जिस लड़की से उनके बेटे की शादी हुई, वह नाबालिग है और महज छठी कक्षा में पढ़ती है।  महगामा स्थित स्कूल के रजिस्टर में उसकी जन्म तिथि 25 जुलाई 2005 दर्ज है।

स्पेशल ब्रांच ने इस बाबत एक रिपोर्ट भेजी है। उधर गोड्डा जिला कांग्रेस की अध्यक्ष दीपिका पांडेय ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष महुआ माजी को पत्र लिखकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ताला मरांडी के बेटे की शादी की ओर ध्यान आकृष्ट कराया है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि शादी टूटने से आहत मरांडी परिवार ने रातो रात जिस वधू को शादी के लिए ढूंढ निकाला, वह स्कूल जाने वाली बच्ची है।

गौरतलब है कि 23 जून को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ताला मरांडी के बेटे मुन्ना पर एक लड़की ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। इसी कारण जिस लड़की से ताला मरांडी के बेटे की शादी होनी थी, उसने शादी से इंकार कर दिया था। बाद में आनन फानन में जिस लड़की से प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने अपने बेटे का विवाह रचाया, उसके नाबालिग होने की बात सामने आ रही रही है।

वर-वधू को आशीर्वाद देने नहीं पहुंचे सीएमः  इसी बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह बोरियो विधायक ताला मरांडी के पुत्र मुन्ना मरांडी के प्रीतिभोज समारोह में बुधवार को मुख्यमंत्री रघुवर दास नहीं पहुंचे। इसके बाद से अटकलों को बाजार गर्म हो गया है। मुख्यमंत्री के समारोह में भाग लेने की सूचना सीएम हाउस से थी। मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम में दिन के 3:55 में उन्हें हेलीकॉप्टर से बोआरीजोर के डूमरकोल आना था। वहां से इटहरी गांव में ताला मरांडी के बेटे की प्रीतिभोज समारोह में शामिल होने के बाद उन्हें 5:05 में भोगनाडीह लौटना था।

सीएम आगमन की थी जोरदार तैयारी:  मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर जोरदार तैयारी की गयी थी. वहीं जिला के पदाधिकारी भी सुरक्षा मामले को लेकर पूरी तरह से मुस्तैद रहे। संताल परगना के विधायकों में अशोक भगत, अनंत ओझा, नारायण दास, अमित कुमार मंडल आदि समारोह में मुख्यमंत्री के आगमन का इंतजार करते रहे।

स्कूल के रजिस्टर के मुताबिक नाबालिग है रितू:  बुधवार की दोपहर बाद महगामा एसडीओ संजय कुमार तथा बीडीओ उदय कुमार ने एसडीएन अकादमी के कार्यालय की संयुक्त जांच की। इस दौरान पदाधिकारियों ने पूरी विवरणी लेने के साथ नामांकन पंजी की भी जांच की। पंजी में के अनुसार रितू का सातवीं कक्षा में नामांकन दिखाया गया है। जन्मतिथि 2005 दर्ज पाया गया। करीब आधे घंटे तक एसडीओ स्कूल के प्राचार्य से बातचीत व आवश्यक जानकारी ली।

आठ दिन बाद भी दर्ज नहीं हुआ मामलाः  ताला मरांडी के पुत्र मुन्ना के खिलाफ जेएम प्रथम न्यायालय में 22 जून को पीड़ित द्वारा पीसीआर किये जाने के आठ दिन बाद भी बोआरीजोर थाना में मामला दर्ज नहीं हुआ है। वहीं थाना प्रभारी योगेंद्र प्रसाद कोर्ट से थाना में कागजात नहीं पहुंचने की बात कह रहे हैं।

 

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.