खुद शीशे के मकान में रह कर दूसरे पर पत्थर फेंकते हैं मोदी

Share Button

modi बाबाओं की शरण में जाना अनेक नेताओं की आस्था का मामला है. लेकिन इस मामले में नीतीश कुमार पर पत्थर  चलाने वाले यह भूल गये कि  पीएम नरेंद्र मोदी  खुद शीशे के घर में रहते हैं.

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार का वीडियो आया जिसमें वह एक तांत्रिक के पास बैठे हैं और तांत्रिक उन्हें गले लगा रहा है और आशीर्वाद दे रहा है.

इस वीडियो पर भाजपा के नेताओं ने एक के बाद एक हल्ला मचाना और नीतीश को घेरना शुरू कर दिया. इतना ही नहीं खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने इसके लिए नीतीश कुमार को घेरा.

इस वीडियो के सार्वजनिक होने के बाद नीतीश ने स्वीकार किया कि अस्सी साल के बुजुर्ग अगर आशीर्वाद देते हैं तो इसमें शोर मचाने की क्या जरूरत है.

नीतीश ने कहा कि दरअसल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के पास कोई इश्यु नहीं है तो ऐसे इश्यु को हाइलाइट करने में लगे हैं.

लेकिन इन तस्वीरों में देखा जा सकता है कि नरेंद्र मोदी अपने जीवन के अलग-अलग पीरियड में बाबाओं के शरण में जाते रहे हैं.

चकित करने वाली बात तो यह है कि इन तस्वीरों में दो ऐसे बाबा हैं जो अलग-अलग सेक्स स्कैंडल के आरोपी हैं, पहली तस्वीर में स्वामी नित्यानंद के सामने मोदी ने सर झुका रखा है.

अभी हाल ही की बात है कि यह वही स्वामी नित्यानंद हैं जिन्हें दक्षिण भारतीय चैनल ने एक  तमिल अभिनेत्री के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दिखाया था. उसके बाद यह बाबा फरार हो गये थे.

इसी प्रकार स्वामी आशा राम बापू के सामने भी पीएम मोदी मौजूद हैं. आशाराम बापू अपने कारनामों के कारण इन दिनों जेल में बंद हैं.

Share Button

Relate Newss:

इस बच्ची की कलम और पढ़ाई के प्रति ललक देख नम हो गई आँखें
अरविंद केजरीवाल की ईमानदारी पर NDTV के रवीश का जवाब
विनय हत्याकांड में आया नया मोड़, शक के घेरे में अब लेडी टीचर !
कोई नहीं ले रहा ललमटिया कोल खदान के विस्थापितों की सुध !
विनायक विजेता का ‘तरुणमित्र’ के संपादक पद से इस्तीफा, बोले ब्लैकमेलर नहीं बन सकते
हार्ट अटैक से नहीं हुई भास्कर समूह संपादक कल्पेश की मौत, पुलिस मान रही है सुसाइड
प्रेरणा नहीं, पीड़ा बन गई है राजेन्द्र का यह विश्व रिकार्ड
बिहार में बच्चों की मौत पर रिपोर्टिंग करती टीवी पत्रकारिता को टेटनस हो गया है, टेटभैक का इंजेक्शन भी...
सीएम रघुवर दास ने धनबाद के पत्रकार की विधवा को 5 लाख दिया
फैक्स पर निकाल जाता था स्विस बैंक से पैसा
मेरी कश्ती डूबी वहां, जहां पानी कम था !
पाकिस्तान में जमी है इन देश द्रोहियों की जड़ें
PCI के आदेश पर DAVP ने जागरण,टाइम्स ऑफ इंडिया समेत इन 51 अखबारों पर की बड़ी कार्रवाई
'माई के तिलाक होखे कि फेर से चुनाव लड़ीं' !
उधर 'मनरेगा पुरस्कार' और इधर 'मन रे गा भ्रष्टाचार'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...