विधायक के.एन.त्रिपाठी ने पटना के रेखा सिंह से 60लाख हड़पे !

Share Button
Read Time:1 Second

rekha singh_k n tripathiकांग्रेस विधायक दल के उपनेता केएन त्रिपाठी पर पटना की रेखा सिंह ने अपनी बहू के साथ समझौता कराने के नाम पर 60 लाख रुपए हड़पने का आरोप लगाया है। कहते हैं कि  रेखा सिंह बुधवार को झारखंड के  डीजीपी से मिलने रांची आई थी, मगर मुलाकात नहीं हुई।

rekha singh

बाद में वे सीआईडी के एडीजी केएस मीणा से मिली। एडीजी के निर्देश पर सीआईडी के एसपी ने मामले की पूरी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि पैसे का लेन-देन बिहार में हुआ है, इसलिए वहीं शिकायत दर्ज कराएं। यह मामला दहेज उत्पीडऩ और घरेलू हिंसा से जुड़ा हुआ है।

रेखा सिंह के अनुसार उनके पुत्र शेखर सिंह की शादी बोकारो के रमेश सिंह की बेटी निधि सिंह से हुई थी। शादी के बाद लड़कीवालों ने दहेज एवं घरेलू हिंसा का आरोप लगाकर पूरे परिवार पर केस कर दिया। मामला हाईकोर्ट पहुंचा तो पुलिसवाले भी परेशान करने लगे। मामला सुलझाने के लिए वे दिल्ली के साकेत डी ब्लॉक स्थित साईं मंदिर में अपने गुरु प्रज्ञानंद के पास गई।

उन्होंने अपनी शिष्या साध्वी विभानंद गिरि के पास भेज दिया। रेखा ने बताया कि साध्वी ने जनवरी में झारखंड भवन में उन्हें केएन त्रिपाठी से भेंट कराई। बाद में त्रिपाठी ने उन्हें रांची के स्टेशन रोड स्थित एक होटल में बुलाया। उन्होंने कहा कि मामला गंभीर है और इसे सुलझाने में कम से कम तीन करोड़ रुपए लगेंगे। इतनी बड़ी राशि देने में असमर्थता जताने पर मामला 60 लाख में तय हुआ। त्रिपाठी ने कहा कि यह पैसा उनकी बहू को देना होगा।

रेखा सिंह के अनुसार विधायक के एन त्रिपाठी के दो आदमी शेखर महतो और समीर तिग्गा स्कॉर्पियो गाड़ी (जेएच 01एबी 6146) से पटना पहुंचे, जहां उन्हें 60 लाख रुपए दे दिए। इसके बाद त्रिपाठी का रुख बदल गया। उन्होंने कहा कि त्रिपाठी 60 लाख और मांगने लगे।  इसी बीच सुप्रीम कोर्ट से मेरे परिवार को राहत मिल गई। इसके बाद त्रिपाठी से पैसे मांगे तो वे धमकी देने लगे। जब साध्वी के पास पहुंची उन्होंने भी 30 लाख लेकर मामला रफा-दफा कर लो।

विधायक केएन त्रिपाठी से सीधी बातः

k n tripathiसवाल : आपने रेखा सिंह के मामले में मध्यस्थता की थी?
जवाब : हां, मैंने राजेंद्र सिंह के कहने पर मध्यस्थता की थी। मैं उनके पास नहीं गया था, बल्कि वह मेरे पास आई थी।

सवाल : रेखा सिंह का आरोप है कि आपने इसके एवज में 60 लाख रुपए लेकर हड़प लिए?
जवाब : गलत आरोप है। मेरे ही आवास पर बैठक हुई, जिसमें राजेंद्र बाबू भी मौजूद थे। राजेंद्र बाबू रेखा सिंह और उनकी बहू दोनों पक्षों के रिश्तेदार हैं। बाद में वे हमें लेकर बेरमो गए। जहां उनके आवास के बगल में स्थित गेस्ट हाउस में तय हुआ कि 25 लाख रुपए व एक फ्लैट रेखा सिंह की बहू को देकर मामले को निपटाया जाए।  फ्लैट का दाम तत्काल दे दिया जाए। रेखा ने इतनी बड़ी रकम पटना से लाने में लूट की आशंका जताई। तब मैंने अपने आदमी को भेजा, जिन्हें रेखा ने 15 लाख रुपए दिए। जब मामला नहीं सुलझा तो उसी व्यक्ति ने रेखा सिंह को पैसे लौटा दिए।

सवाल: तब रेखा सिंह आरोप क्यों लगा रही है?
जवाब : रेखा सिंह की पुत्री ने उनकी बहू के दोनों बच्चों को मुंबई में रखा है। सुप्रीम कोर्ट ने बच्चों को कोर्ट में 17 अप्रैल को हाजिर करने का आदेश दिया है। वह बच्चों को वापस नहीं करना चाहती है। इसी वजह से यह मामला नहीं  सुलझ रहा है। जदयू के एक नेता के कहने पर उन्हें बेवजह फंसाया जा रहा है।

बिहार में शिकायत दर्ज कराने का सुझावः

रेखा सिंह बुधवार को अपने परिजनों के साथ मुझसे मिली थी। मैंने एसपी को बयान लेने कहा था। एसपी ने इनसे बातचीत की तो पता चला कि दहेज का कोई मामला इनके खिलाफ बोकारो में चल रहा है। जहां तक 60 लाख रुपए लेन-देने की बात है वह बिहार में किया गया है। इसलिए घटनास्थल के हिसाब से एसपी ने उन्हें बिहार में शिकायत दर्ज करने का सुझाव दिया है।” – केएस मीणा, एडीजी सीआईडी  

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

मेमोरी कार्ड की उम्र 10 करोड़ साल बढ़ी
झारखंड में यह कैसा राज
भगवान की नोटिस को लेकर अफरा तफरी
स्टूडेंट देख सकता है उत्तर पुस्तिकाः सुप्रीम कोर्ट
विश्व की प्राचीन एवं समृद्ध है भारतीय संस्कृति
अब नहीं रहे ‘रुस्तम ए हिंद’ दारा सिंह
'ऐसे चिरकुट एडिटरों को जूते मारने का मन करता है'
यूं ही कायम रहे सुदेश जी की महतोगीरी
विरोधियों की बौखलाहट का फल है खगड़िया की घटना
अमित शाह के नाम पर वसूली करने वाला ठग धराया !
शराब बंदी कानून की निकली हवाः कंटेनर से 354 कार्टन विदेशी शराब बरामद,पांच गिरफ्तार, दो वाहन जब्त
आलूबुखारे खायें और कैंसर भगायें
मुंडा की चुप्पी वनाम शर्मसार भाजपा
'मीडिया महारथी' में दिखा पाखंड का नजारा
लक्ष्मणपुर बाथे कांड कोई हादसा नहीं था :जस्टिस अमीरदास
पोर्न-वेबसाइटों पर प्रतिबन्ध लगे
ई BJP MLA विनय बिहारी की गांधीगिरी है या मीडियाई नौटंकी
आसान नहीं है विदेशों में छुपे काला धन वापस लाना
शाबाश हेमंत, अर्जुन संग सबको धो डाला !
संकीर्ण मानसिकता को बढ़ावा देते अभद्र कपड़े
जवाबहीन लोग होते हैं सवाल से चिढ़ने वाले :रवीश कुमार
'आज तक' खोल रही है मोदी सरकार की पोल
सावधान !! सुअर की चर्बी खा रहे हैं हम और हमारे बच्चें
सुनो सुनो, सुनो सब सुनो
झूठ बोल रही है सीबीआइ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
mgid.com, 259359, DIRECT, d4c29acad76ce94f
Close
error: Content is protected ! www.raznama.com: मीडिया पर नज़र, सबकी खबर।