कमीशन के खेल में फंसी रांची की मेयर आशा लकड़ा

Share Button

रांची की भाजपा समर्थित मेयर आशा लकड़ा के पीए कुशेश्वर टेंडर मैनेज करने के नाम पर ठेकेदारों से तीन से पांच फीसदी कमीशन वसूलता था ।

asha-lakra-cp-bjpयह खुलासा एक स्टिंग ऑपरेशन में हुआ है, गुरुवार को स्टिंग का ऑडियो टेप सामने आते ही नगर निगम बोर्ड की बैठक में जमकर हंगामा हुआ।

मामला बढ़ने पर मेयर ने माना कि टेप में उनके पीए की ही आवाज है। उन्होंने पीए को तत्काल हटा दिया ।

पिछले दिन बजट पास करने के लिए गुरुवार को निगम बोर्ड की बैठक बुलाई गई थी। पार्षद मो. असलम ने अपने मोबाइल से मेयर के पीए और ठेकेदार उज्जवल कुमार के बीच बातचीत का टेप सुनाया।

ranchi mayer_asha_meberइसके बाद पार्षदों ने हंगामा शुरू कर दिया और मेयर को घेर लिया और उनकी अध्यक्षता में होने वाली बैठक में शामिल होने से इनकार कर दिया।

पार्षदों के उग्र रूप को देखते हुए उन्होंने जांच कराकर कमीशन लेने और देने वालों पर प्राथमिकी दर्ज कराने का आश्वासन दिया ।

उधर मेयर आशा लकड़ा ने इन आरोपों की बाबत  कहा कि जो स्टिंग हुआ है, उससे साबित नहीं होता की पैसे का लेन देन हुआ है । हालांकि उन्होंने अपने पीए को तत्काल हटाने की घोषणा की।

उल्लेखनीय है कि टेप में मेयर के पीए कुशेश्वर एक रोड का ठेका मैनेज करने के लिए ठेकेदार उज्जवल कुमार को मिलकर बात करने को कह रहे हैं।

उज्जवल कह रहे हैं कि काम कराने के लिए 45 हजार रुपए दिया जा चुका है। और कितना पैसा देना होगा, बताएं। ताकि पैसे का जुगाड़ हो सके।

मेयर पर टेंडर में गड़बड़ी का भी लगा आरोपः    बैठक में मेयर पर टेंडर में गड़बड़ी के आरोप भी लगे। पार्षदों ने कहा कि बरियातू यूनिवर्सिटी कॉलोनी में एक नाली के निर्माण के लिए 31.39 लाख रुपए का टेंडर निकाला गया था। मेयर की अध्यक्षता में टेंडर खोला गया। इसके लिए तीन टेंडर भरे गए थे। इसमें रजनी इंटरप्राइजेज एल वन और अजीत कुमार गुप्ता एल टू हुए। मगर टेंडर अजीत को दे दिया गया।

अविश्वास प्रस्ताव की भी मांग उठीः  पार्षदों ने मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग की। कहा, जब मेयर ही भ्रष्टाचार में लिप्त रहेंगी, तो उनकी बैठक में शामिल होना ठीक नहीं है। अविश्वास प्रस्ताव की मांग पर नगर आयुक्त ने कहा कि वे सरकार से मार्गदर्शन लेंगे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...