‘ईटीवी’ की रिलाचिंग की तैयारी, ‘ईटीवी भारत’ होगा सेटेलाइट चैनल

Share Button
Read Time:4 Minute, 5 Second

“कभी क्षेत्रीय न्यूज का बेताज बादशाह कहलाने वाला ईटीवी न्यूज नेटवर्क एक बार फिर नये रंग- रूप में दर्शकों के सामने आने वाला है।हर घर में  ईटीवी न्यूज को उसी तरह पसंद किया जाता था जैसे बीबीसी की खबरें……..”

राजनामा.कॉम (जयप्रकाश नवीन)।  ‘खबर ही जीवन है’ के पंच लाइन वाली ईटीवी पिछले दो वर्ष पूर्व न्यूज 18 का हिस्सा बन गया था। इसके मालिक रामोजीराव ने अपने न्यूज चैनल को मुकेश अंबानी के चैनल न्यूज 18 के साथ सौदा कर लिया था।

उसके बाद से ईटीवी न्यूज 18 का हिस्सा बन गया था ।शर्त रखी गई थी कि कुछ महीने  तक न्यूज 18 ईटीवी का लोगो भी यूज करेगा। इसके पीछे तर्क था कि ईटीवी की विश्वसनीयता दर्शकों के बीच है।

कभी ईटीवी न्यूज नेटवर्क के हेड आईएसएस जगदीशचंद्र हुआ करते थे। लेकिन चैनल की सौदेबाजी के बाद ईटीवी हेड जगदीशचंद्र ने चैनल छोड़ दिया।

उनके चैनल छोडते ही चैनल में बिखराव शुरू हो गया। जगदीशचंद्र अपने साथ ईटीवी के एक मजबूत स्तंभ को तोड़कर जी मीडिया का हिस्सा बन गए थे।

ईटीवी राजस्थान से ही रिपोर्टर सहित  लगभग दो सौ लोगों ने ईटीवी छोड़ दिया था। यहां तक कि कई नामी एकंर उनके साथ जी मीडिया का हिस्सा बने थे।

इसका असर बिहार में भी देखने को मिला था।ईटीवी के संपादक कुमार प्रबोध के साथ कई लोगों ने ईटीवी छोड़ कर उनके साथ बिहार जी मीडिया में चले गए।

एक समय ऐसा भी आया कि ईटीवी के पास रिपोर्टर की कमी हो गई। ऐसे वक्त में कुमार विमल, संजय कुमार तथा प्रभाकर ने ईटीवी (न्यूज 18) को संभाला।

लेकिन अब ऐसी खबर मिल रही है कि ईटीवी को फिर से लांच करने की तैयारी चल रही है। हालाँकि इस बीच ‘ईटीवी भारत'(जो ईटीवी का ही हिस्सा रहा है) नाम से बेब टीवी चल रहा है। इस बेब टीवी ने दर्शकों में एक अच्छी पैठ बना रखी है।

सुनने में आया है कि हैदराबाद में रामोजीराव एंड कंपनी चाहती है कि ‘ईटीवी भारत’ के नाम से न्यूज चैनल को सेटेलाइट पर लांच किया जाए। इसके लिए सुगबुगाहट भी दिखने लगी है।

इस शुरुआत को एक दिशा देते हुए कंपनी यूपी,मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में सर्वे कर चुकी है। जबकि दूसरे राज्यों में भी सर्वे की शुरुआत की जा रही है।

खबर है कि ईटीवी का नया न्यूज चैनल ‘ईटीवी भारत’ लोकसभा चुनाव से पहले लांच हो जाए। ईटीवी वालों के पास पूरा इंफ्रास्ट्रक्चर तथा एक्यूपमेंट मौजूद है। ऐसे में सेटेलाइट लाइसेंस मिलने में भी ज्यादा परेशानी नहीं हो सकती है।

ईटीवी के नये चैनल की प्रतीक्षा में कई नामी गिरामी एकंर और पत्रकार फिर से इस नेटवर्क का हिस्सा बनने की चाहत रखें हुए हैं। अगर सब कुछ ठीक रहा तो यह नया चैनल मंजरेआम पर आ सकता है।

मतलब एक बार फिर ईटीवी के नये चैनल को घर-घर देखा जा सकता है। दर्शकों को इस नये चैनल की प्रतीक्षा रहेगी।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

कानून यशवंत सिन्हा की रखैल नहीं है आडवाणी जी
सुदेश महतोः पांच साल में पांच गुना कमाया
रीगा विधायक के भाई की है सेलीब्रेट लेडीज मनीषा के साथ बरामद पेजेरो कार
एक प्रेम-प्रसंग को लेकर यूं गेम खेल गई पटना-नालंदा की कंकड़बाग-चंडी पुलिस
कायर-अपराधी भी सुसाइड बाद अखबार के विज्ञापन में बन गया आदर्श !  
दो पैसे की हाड़ी गयी, कुत्ते की जात पहचानी गयी
आई-नेक्स्ट की गंदगी सुनाते सुनाते रो पड़ीं प्रतिमा  भार्गव
राजगीर के इस खबर की पड़ताल ने मीडया समेत पूरी सिस्टम को यूं नंगा कर दिया
स्वतंत्र मित्रा को समाचार प्लस में मिला भारी भरकम पद
विकास पर्व के बहाने अपनी पकड़ साबित करने की तैयारी
रांची के दैनिक जागरण की आत्मा यूं मर गई इस वरिष्ठ पत्रकार पर FIR को लेकर
सीएम-गवर्नर को गाली देता है गुरुजी का पीए
विलुप्त होती प्रजाति के पत्रकार थे विनोद मेहता !
दैनिक जागरण के पटना इनपुट और स्टेट हेड का तबादला, कई अन्य भी हुए इधर-उधर
पत्रकार को निर्भीकता से निष्पक्ष खबर लिखने की जरुरत
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाले में गिरफ्तार हो सकते हैं शशि शेखर समेत शोभना भरतिया
जगदीश चन्द्रा चलायेगें अपना न्यूज चैनल ‘1st India’,  70 लोगों ने छोड़ा Zee राजस्थान का साथ
घोटाला में फंसाने वाले नीतीश-मोदी जल्द जाएंगे जेलः तेजस्वी
पोलोनियम 210 से हुई थी सुनंदा पुष्कर की हत्या !
.....और यह है बिहार में नीतीश सरकार नया शराब बंदी कानून
लालू प्रसाद के फर्जी ट्वीटर एकाउंट से जातीय उन्माद फैलाने की कोशिश
बाड़मेर के कथित भाजपाईयों के खिलाफ रिपोर्टिंग की सजा पटना में मिली
बिहारः बारह टकिया 'लाइनर' और 'स्ट्रिंजर' कहलाते हैं पत्रकार !
चिदंबरम ने बजट से डाले नीतीश पर डोरे !
पंचायत चुनावः राजनाथ-मोदी के संसदीय क्षेत्र में बीजेपी की करारी हार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...