‘इंडियाज़ डॉटर’ एक ग्लोबल समस्या के प्रति जागरूकता अभियानः बीबीसी

Share Button

leslee_udwin_and_dibangबीबीसी के टेलीविज़न निदेशक डैनी कोहेन ने भारत सरकार में सूचना-प्रसारण मंत्रालय के संयुक्त सचिव राकेश सिंह की चिट्ठी के जवाब में लिखा है।

राकेश सिंह ने डॉक्यूमेंट्री ‘इंडियाज़ डॉटर’ के प्रसारण पर भारत सरकार की ओर से चिंता व्यक्त की थी और इसका प्रसारण रोकने के लिए कहा था।

डैनी कोहेन ने यह जवाब ब्रिटेन में डाक्यूमेंट्री के प्रसारण से ठीक पहले चार मार्च को भेजा था।

पढ़ें मूल पत्र………………..

प्रिय श्री राकेश सिंह

udwinआज आपने जो पत्र भेजा उसके लिए आपको धन्यवाद। हम आपकी चिंताओं को समझते हैं लेकिन हमें लगता है कि ‘इंडियाज़ डॉटर’ एक ग्लोबल समस्या के प्रति जागरूकता पैदा करती है जो एक व्यापक जनहित का काम है और बीबीसी इस फ़िल्म के संपादकीय मूल्यों से संतुष्ट है।

हमें प्रोडक्शन कंपनी ने भी आश्वस्त किया है कि उन्होंने विस्तृत और सुविचारित इंटरव्यू करने के लिए सभी उचित प्रक्रियाओं का पालन किया है।

दोषी के बयान को कई अन्य लोगों के बयान के साथ प्रस्तुत किया गया है, जिनमें मृतका के माता-पिता, न्यायपालिका के पूर्व एवं वर्तमान सदस्य और चश्मदीद शामिल हैं।

बलात्कार के दोषी के इंटरव्यू को डॉक्यूमेंट्री में इसलिए शामिल किया गया ताकि एक बलात्कारी की मानसिकता को समझा जा सके और इसका उद्देश्य बलात्कार को केवल भारत के स्तर पर नहीं, बल्कि उसके व्यापक संदर्भों में समझना है।

हमें ऐसा नहीं लगता कि यह फ़िल्म अपने वर्तमान स्वरूप में महिलाओं के लिए अपमानजनक है और उनकी गरिमा को ठेस पहुँचाती है. दरअसल, यह फ़िल्म उन चुनौतियों को रेखांकित करती है जिनका सामना भारतीय महिलाओं को करना पड़ता है।

बीबीसी ने आपके विचारों का संज्ञान लिया है और यह ध्यान देने की बात है कि बीबीसी इस फ़िल्म को भारतीय न्यायिक व्यवस्था के अधीनस्थ क्षेत्रों में प्रसारित नहीं कर रही है।

हमारा विचार है कि इस फ़िल्म में एक महत्वपूर्ण घटना का दस्तावेजीकरण है जिसने भारतीयों के विचारों में निर्णायक परिवर्तन किया, लोग चाहते हैं कि ऐसी घटना दोबारा न हो।

अपने इन्हीं विचारों के अनुरूप हमने लंबे और गंभीर मंथन के बाद ‘इंडियाज़ डॉटर’ डॉक्यूमेंट्री को ब्रिटेन में बीबीसी फ़ोर पर दिखाने का फ़ैसला किया है।

आपका, डैनी कोहेन– डायरेक्टर, बीबीसी टेलीविज़न

Share Button

Relate Newss:

संदर्भ पीपरा चौड़ा कांडः बाहरी और भीतरी के आगोश में झारखंड
विवादों-सुर्खियों के बीच पुलिस-प्रशासन11 ने पत्रकार11 को रौंदा
RSS का नया एजेंडाः  एक कुआं, एक मंदिर और एक श्मशान
....'और लालू जी का पैर टूटा, कार्टूनिस्ट पवन ने कराया पलास्टर’
अफीम पर रोक को लेकर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में पीआईएल करेगी पंजाब सरकार !
जगदीश चन्द्रा चलायेगें अपना न्यूज चैनल ‘1st India’,  70 लोगों ने छोड़ा Zee राजस्थान का साथ
महिला पत्रकार की अतरंग वीडियो वायरल करने वाले 27 पत्रकारों पर पुलिस की गाज
सीएम के प्रेस एडवाइजर को शोभा नहीं देता ऐसा प्रोफाइल फोटो लगाना
नीतीश कुमार को अपने ही रिकार्ड को तोड़ने की होगी चुनौती
गुप-चुप तरीके से हो रही है राज्य सभा टीवी में भर्तियां !
'एक्सपर्ट मीडिया न्यूज' से बोले नालंदा एसपी- अब यूं जारी नही होगी प्रेस विज्ञप्ति
एक बड़े फर्जीबाड़े की उपज है रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब !
गोड्डा बना गौ तस्करी का अड्डा, कहां है आरएसएस के रघु'राज!
अश्लीलता का अड्डा बन गया है रांची का नक्षत्र वन
वेशक चार आने की धनिया है “एशिया” के ये लफंगे पत्रकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...