अपने फैसले से पीछे हट गये अन्ना हजारे :अरविन्द केजरीवाल

Share Button

इंडिया अगेन्स्ट करप्शन के अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि पार्टी बनाने का फैसला उनका नहीं खुद अन्ना हज़ारे का था, लेकिन बाद में इस फैसले से वह पीछे हट गए… बिना कोई कारण बताए। 

केजरीवाल का कहना है… ‘मैं धर्मसंकट में फंस गया हूं, एक तरफ मेरा देश है दूसरी तरफ अन्ना हैं। मैं किसको चुनूं… शुरुआत अन्ना की थी लेकिन बाद में वह ही पीछे हट गए।

केजरीवाल के मुताबिक जब उन्होंने कंस्टीट्यूशन क्लब की बैठक में अन्ना को राजनीतिक पार्टी के मसले पर हुए बदलाव को लेकर पूछा तो उन्होंने कहा कि ‘…उनका जवाब था कि पहले मैं वह कह रहा था अब यह कह रहा हूं। जब पहले मेरी बात मान ली थी तो अब भी मान लो।’

इतना ही नहीं, अरविंद केजरीवाल के मुताबिक राजनीतिक पार्टी बनाने का सुझाव सबसे पहली बार जनवरी में अन्ना की ओर से ही आया था जब वह अस्पताल में थे उन्होंने बाकायदा नाम भी चुन रखा था ‘भ्रष्टाचार मुक्त भारत’। और आखिर में पार्टी को लेकर जो सर्वे कराए गए वह भी अन्ना का ही सुझाया रास्ता था।

Share Button

Relate Newss:

नवादा DPRO की दादागिरी, 'डीएम-जेबकतरा' खबर को लेकर 3 पत्रकारों पर बैन
हार्ट अटैक से नहीं हुई भास्कर समूह संपादक कल्पेश की मौत, पुलिस मान रही है सुसाइड
अमरीकाः आप कैसा योग पसंद करेंगे- ताकतवर या हॉट ?
कोल्हानः एक्सपर्ट मीडिया न्यूज-राज़नामा डॉट कॉम के पाठकों की संख्या में भारी बढ़ोतरी
गुजरात के 'प्रेस वाहन' से नालंदा में शराब की यूं तस्करी होना गंभीर बात
धड़ाधड़ खुल रहे रीजनल चैनलों की कहानी, एक्सपर्ट वासिंद्र मिश्र की जुबानी
...और मीडिया जनित ऐसी खबरों पर फफक पड़े भाजपा विधायक डॉ. सुनील
किस लालच-दबाव में रिपोर्टर नीरज के पिछे पड़ी है नालंदा पुलिस?
वेशक यह व्यंग्य मात्र नहीं, कतिपय सरकारी स्कूल का आयना है
जिंदा जानवरों का यूं पीते हैं खून, तस्वीर देख कांप जाएगी आपकी रूह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...