अब फर्जी-भ्रामक विज्ञापन पर होगी 7 साल जेल और 10 लाख जुर्माना

0
686

भारत सरकार ने उपभोक्ता संरक्षण कानून 2019 का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। यह कानून उपभोक्ता संरक्षण कानून की जगह लेगा…

राजनामा.कॉम। उपभोक्ताओं को भ्रामक विज्ञापनों से बचने के लिए सरकार नया उपभोक्ता संरक्षण कानून 2019 ला रही है।fraud ad 1

ये नया कानून 20 जुलाई से लागू होगा। नए कानून में भ्रामक विज्ञापन देने पर कार्रवाई करने का प्रावधान है।

अब गोरा बनाने, हाइट बढ़ाने या फिर मोटापे से छुटकारा जैसे फर्जी विज्ञापन दिखाने पर कंपनियों को जुर्माना भरना पड़ सकता है।

शरीर को आकर्षक बनाने के झूठे वादे वाले विज्ञापन दिखाने पर कंपनियों को 1 लाख रुपए तक जुर्माना और 6 महीने कारावास का प्रावधान किया जा रहा है।fraud ad 3

यदि किसी व्यक्ति को कंपनी के प्रोडक्ट से कोई नुकसान पहुंचता है तो कंपनी पर 5 लाख रुपए तक जुर्माना और 7 साल कारावास का प्रावधान किया जा रहा है।

वहीं अगर उपभोक्ता की मौत हो जाती है तो कंपनी पर 10 लाख रुपए तक जुर्माना और 7 साल कारावास का प्रावधान किया जा रहा है।

इस कानून में अभी जुर्माने का जो प्रावधान है, वह कंपनियों को ऐसे भ्रामक दावे करने से रोकने में नाकाफी है।

वर्तमान में इस तरह विज्ञापन दिखाने पर 6 महीने तक की जेल या जुर्माना या दोनों ही हो सकते हैं।

वहीं दूसरी बार या इससे ज्यादा बार दोषी पाए जाने पर 1 साल तक की जेल या जुर्माना, या दोनों हो सकते है। फिलहाज जुर्माने के रूप में ज्यादा रकम वसूलने का प्रावधान नहीं है।