अन्य

    द प्रेस क्लब ऑफ सरायकेला-खरसावां के पदाधिकारियों ने टाउन हॉल में यूं ली शपथ

    राजनामा.कॉम। झारखंड के द प्रेस क्लब ऑफ सरायकेला-खरसावां की नई कमेटी का रविवार को शपथ ग्रहण समारोह संपन्न हो गया।

    जिला मुख्यालय स्थित टाउन हॉल सभागार में सरायकेला नगर पंचायत की अध्यक्ष मीनाक्षी पटनायक, सीडीपीओ दुर्गेश नंदिनी, एवं जमशेदपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष बी श्रीनिवास ने सभी पदाधिकारियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

    The office bearers of The Press Club of Seraikela Kharsawan took oath in the town hall 3शपथ ग्रहण समारोह में मुख्य रूप से नेपाल प्रेस क्लब के अध्यक्ष अनूप तिवारी, एडीसी सुबोध कुमार, एसडीएम रामकृष्ण कुमार, उपायुक्त के गोपनीय प्रभारी प्रदीप कुमार, सरायकेला बीडीओ मृत्युंजय कुमार, सरायकेला नगर उपाध्यक्ष मनोज चौधरी सहित जमशेदपुर, रांची एवं धनबाद के कई अतिथि पत्रकार शामिल हुए।

    अपने संबोधन में एडीसी सुबोध कुमार ने द प्रेस क्लब ऑफ सरायकेला- खरसावां के गठन को एक ऐतिहासिक पहल बताया।

    उन्होंने पत्रकारों को समाज का आईना बताया और कहा स्वच्छ छवि की पत्रकारिता लोकतंत्र की सबसे बड़ी ताकत है। इसे बरकरार रखने की जरूरत है।

    ओएसडी प्रदीप कुमार ने निष्पक्ष पत्रकारिता को वर्तमान समय की सबसे बड़ी जरूरत बताया।

    The office bearers of The Press Club of Seraikela Kharsawan took oath in the town hall 1वही जमशेदपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष बी श्रीनिवास ने पत्रकार हित में उठाए गए इस ऐतिहासिक कदम को सराहनीय बताया।

    उन्होंने बताया, कि जिस तरह से पत्रकारों का शोषण हो रहा है। ऐसे में पत्रकारों के लिए एक मजबूत संगठन बेहद महत्वपूर्ण है।

    उन्होंने हर स्तर पर पत्रकारों को एकजुट होने की बात कही।

    इससे पूर्व सभी पदाधिकारियों एवं अतिथियों ने द प्रेस क्लब ऑफ सरायकेला- खरसावां के संस्थापक स्वर्गीय विनोद शरण के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।The office bearers of The Press Club of Seraikela Kharsawan took oath in the town hall 2

    वहीं नेपाल प्रेस क्लब के अध्यक्ष अनूप तिवारी ने भारत-नेपाल के संबंधों को स्वस्थ पत्रकारिता के जरिए मजबूत करने का आह्वान किया।

    उन्होंने बताया, कि हाल के दिनों में जिस तरह से भारत-नेपाल के संबंधों में कटुता आई है। ऐसे में पत्रकारों की भूमिका काफी अहम हो जाती है। क्योंकि भारत और नेपाल दोनों एक दूसरे के पूरक रहे हैं।

    उन्होंने द प्रेस क्लब आफ सरायकेला-खरसावां के गठन को ऐतिहासिक और भारत नेपाल के पत्रकारों के लिए भविष्य संभावना बताया।

    वही द प्रेस क्लब ऑफ सरायकेला-खरसावां के अध्यक्ष मनमोहन सिंह राजपूत ने सभी अतिथियों के प्रति आभार जताते हुए संगठन से जुड़े पत्रकार सदस्यों को हर संभव सहयोग करने की बात कही।

    संरक्षक विकास कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की। पूरे कार्यक्रम में सीमित संख्या में पत्रकारों ने शिरकत की और कोविड प्रोटोकॉल का अक्षरसः पालन किया गया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here