Monday, March 8, 2021

पत्रकार अनिल मिश्र के पुत्र की हत्या की गुत्थी सुलझी, चाची समेत 2 गिरफ्तार

-

"मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस का कहना है कि संकेत की हत्या उसकी चाची विद्यावती देवी ने अपने कथित प्रेमी घरेलू सहायक बिरसा मुंडा के साथ मिलकर की थी। संकेत के अपनी चाची के साथ अवैध संबंध थे। यही नहीं, संकेत की चाची ने अपने ही घरेलू सहायक के साथ भी अवैध संबंध बना लिए थे..."

राजनामा.कॉम। झारखंड के खूंटी जिला अंतर्गत कर्रा थाना क्षेत्र में पिछले दिनों हुई वरिष्ठ पत्रकार अनिल मिश्र के छोटे बेटे संकेत कुमार मिश्र (28) की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है।

झारखंड के खूंटी जिला अंतर्गत कर्रा थाना क्षेत्र में पिछले दिनों हुई वरिष्ठ पत्रकार अनिल मिश्र के छोटे बेटे संकेत कुमार मिश्र (28) की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है।

पुलिस का कहना है कि कुछ दिनों पूर्व चाची ने संकेत को प्रेमघाघ पिकनिक स्थल पर बुलाया था। यहां किसी बात को लेकर संकेत और उसकी चाची में विवाद हो गया। विवाद होता देखकर बिरसा मुंडा भी वहां पहुंच गया और संकेत पर हमला बोल दिया। हमले में संकेत की मौत हो गई।

इसके बाद बिरसा मुंडा ने अपनी बाइक से पेट्रोल निकालकर संकेत के शव को आग लगा दी। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों आरोपित फरार हो गए। दोनों भागकर जशपुर में छुपे हुए थे, जहां से पुलिस ने उन्हों दबोच लिया।

पुलिस के अनुसार, दोनों आरोपितों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में संकेत की चाची और बिरसा मुंडा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गौरतलब है कि सात जनवरी 2021 को संकेत कुमार का अधजला शव लोधमा रोड स्थित छाता नदी के प्रेमघाघ जंगल से बरामद हुआ था। पुलिस ने मौके से शराब और पानी के बोतल तथा गिलास भी बरामद किए थे।

संकेत पांच जनवरी  2021 को ससुराल से कर्रा के लिए निकला था। इसके बाद वह न तो घर पहुंचा और न ही ससुराल वापस लौटा। शाम करीब पांच बजे के बाद से उसका मोबाइल भी बंद हो गया। इसके बाद उसका शव बरामद हुआ।

संकेत कुमार मिश्र दो भाई और दो बहनों में सबसे छोटे थे। वर्ष 2017 में रांची पंडरा की फ्रेंड्स कॉलोनी में सीमा कुमारी के साथ उनकी शादी हुई थी। उनकी डेढ़ साल की बेटी है। वह रांची में एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में काम करते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अन्य खबरें