अन्य
    Monday, April 22, 2024
    अन्य

      अब Elon Musk के हाथ में Twitter, 44 अरब डॉलर में खरीदी, जानें सब कुछ

      राजनामा.कॉम। टेस्ला और स्पेसएक्स के CEO Elon Musk ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Twitterको खरीद लिया है। यह डील 3368 करोड़ रुपये में हुई थी। एलोन मस्क ने ट्वीट किया, ‘मेरे सबसे बुरे आलोचक भी ट्विटर पर बने रहेंगे।’ व्हाइट हाउस ने सौदे पर चिंता व्यक्त की।

      Elon Musk finally became the owner of Twitter bought the company for 44 billion know everything 2बता दें कि  Elon Musk ने करीब 44 अरब डॉलर में Twitter का अधिग्रहण करने का सौदा किया था। कई हफ्तों से ट्विटर के बिक जाने की खबरों के बीच आखिरकार यह सच हो गया। स्पेसएक्स और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने ट्विटर को 44 अरब डॉलर यानी करीब 3368 करोड़ रुपये में खरीदा है।

      Elon Musk ने ट्वीट किया कि ‘मुझे उम्मीद है कि मेरे सबसे बुरे आलोचक भी ट्विटर पर बने रहेंगे, क्योंकि यही फ्री स्पीच का मतलब है।’

      ट्विटर के मालिक बनते ही दिया बड़ा संदेशः हाल ही में Elon Musk ने Twitter में 9.2 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी और उसके बाद वह Twitter के सबसे बड़े शेयरधारक बन गए। ट्विटर में मस्क की बड़ी हिस्सेदारी खरीदने के बाद से यह कयास लगाए जा रहे थे कि वह ट्विटर को पूरी तरह से खरीद लेंगे।

      अरबपति Elon Musk ने लगभग 44 बिलियन डॉलर में ट्विटर का अधिग्रहण करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। कंपनी ने यह जानकारी दी। टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मस्क ने 14 अप्रैल को ट्विटर को खरीदने की पेशकश की।

      हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि वह अधिग्रहण के लिए धन कैसे जुटाएंगे।

      मस्क ने कहा कि वह ट्विटर को खरीदना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें नहीं लगता कि यह स्वतंत्र अभिव्यक्ति के मंच के रूप में अपनी क्षमता पर खरा उतर रहा है।

      ट्विटर ने कहा कि अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी होने के बाद यह एक निजी स्वामित्व वाली कंपनी बन जाएगी। ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल ने ट्वीट किया, ‘ट्विटर का एक उद्देश्य और प्रासंगिकता है, जो पूरी दुनिया को प्रभावित करती है। हमारी टीम और उनके काम पर गर्व है।

      Elon Musk ने दिया ये ऑफरः ट्विटर में बड़ी हिस्सेदारी खरीदने के बाद मस्क ने कंपनी को खरीदने की इच्छा जाहिर करते हुए ट्विटर के बोर्ड को एक ऑफर दिया। प्रारंभिक इनकार के बाद, मस्क और ट्विटर के शेयरधारकों के बीच कई बैठकें हुईं और बोर्ड ने अंततः मस्क के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।

      इस डील के बाद मस्क ने एक बयान भी ट्वीट किया जिसमें लिखा था कि मस्क के मुताबिक अभिव्यक्ति की आजादी लोकतंत्र का आधार है और ट्विटर एक डिजिटल दुनिया है, जहां मानवता के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों पर बहस होती है. मैं नई सुविधाओं को जोड़कर, विश्वास का निर्माण करके, स्पैम को समाप्त करके और सभी को प्रमाणित करके ट्विटर को हर संभव तरीके से बेहतर बनाना चाहता हूं। ट्विटर में जबरदस्त क्षमता है। मैं इसे सामने लाने के लिए कंपनी और इसके उपयोगकर्ताओं के साथ काम करने के लिए उत्सुक हूं।”

      वहीं, व्हाइट हाउस ने Elon Musk द्वारा ट्विटर की खरीद पर चिंता व्यक्त की है।

      व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन साकी ने कहा कि “चाहे कोई भी ट्विटर का मालिक हो या उसे चलाता हो, राष्ट्रपति लंबे समय से बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की शक्ति के बारे में चिंतित हैं, वह शक्ति जो हमारे दैनिक जीवन को प्रभावित करती है।”

      राष्ट्रपति जो बिडेन ने लंबे समय से तर्क दिया है कि तकनीकी प्लेटफार्मों को इससे होने वाले नुकसान के लिए जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए।

      ट्विटर की बिक्री के बाद दो खबरें सबसे ज्यादा चर्चा में हैं। पहला यह कि क्या मौजूदा सीईओ पराग अग्रवाल सीईओ बने रहेंगे या ट्विटर के सह-संस्थापक और पूर्व सीईओ जैक डोर्सी वापस आएंगे। क्योंकि जैक डोर्सी और एलोन मस्क को कई मुद्दों पर एक साथ खड़े देखा गया है और दूसरा क्या एलोन मस्क पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के खाते को फिर से सक्रिय कर सकते हैं, जो वर्तमान में प्रतिबंधित है। ट्रंप का ट्विटर अकाउंट फिर से एक्टिव हो सकता है।

      यूपी चुनाव में नहीं चलेगा मीडिया का यह खेल, आयोग ने लगाई रोक, दी कड़ी हिदायत

      राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग पहुंचा आज रिपोर्टर की पिटाई का मामला

      नालंदाः बदमाशों ने रिपोर्टर को गोली मारी, सरायकेलाः पुलिस ने रिपोर्टर को जमकर पीटा

      नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ, पत्रकारिता जगत में शोक की लहर

      झारखंड राज्य पत्रकार स्वास्थ्य बीमा नियमावली-2021 प्रस्ताव मंजूर, जाने क्या है योजना? किसे मिलेगा लाभ?

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!