अन्य
    Sunday, June 16, 2024
    अन्य

      सेक्स बदलकर जिस्मफरोशी का धंधा करते धराए 7 विदेशी युवतियों में 4 लड़के निकले!

      इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के विजय नगर इलाके में चल रहे स्पा सेंटर से पकड़ाए सेक्स रैकेट में नया खुलासा हुआ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक थाईलैंड की जो लड़कियां पकड़ाई हैं, उनमें से चार असल में लड़के थे।

      लिंग परिवर्तन करवाकर वे लड़कियां बनीं थी और देह व्यापार की धंधा कर रही थी। इनके पासपोर्ट से इसका पता चला है। पुलिस अब जांच कर रही है।

      दरअसल विजय नगर स्थित शगुन आर्केड की दूसरी मंजिल पर एटम्स सैलून एंड क्लीनिक स्पा सेंटर पर क्राइम ब्रांच और महिला पुलिस ने छापा मारकर सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। यहाँ कुल 18 लड़के-लड़कियों को गिरफ्तार किया था। इनमें 10 लड़कियां और 8 लड़के थे।

      स्पा सेंटर संचालक संजय ने पुलिस को बताया था कि उसने एटम की फ्रेंचाइजी लेकर स्पा सेंटर का संचालन शुरू किया था। पुलिस को यहा थाईलैंड से लाईं गई लड़कियां मिली थीं। जांच के दौरान इनके पासपोर्ट जप्त किए थे।

      कुछ लड़कियों के पासपोर्ट में उनका लिंग (जेंडर) पुरुष लिखा है। इससे पुलिस भी हैरान हो गई। अब बारीकी से जांच की जा रही है। पुलिस ने कहा है कि थाईलैंड की सात लड़कियों में चार के पासपोर्ट जब्त किए हैं।

      पुलिस का मानना है कि इस स्पा सेंटर में थाइलैंड से युवतियां बुलवाकर उनसे देह व्यापार करवाया जा रहा था। इससे पहले भी इसी जगह इसी स्पा में दबिश दी गई थी और देह व्यापार पकड़ा गया था।

      इस पूरे मामले में यह बात भी सामने आ रही है कि क्या पुलिस की मिलीभगत से ही ये अनैतिक काम चल रहा था। क्योंकि जिस जगह कार्ऱवाई हुई है वह थाने से कुछ ही दूरी पर है। टीआई और स्टाफ चौराहे पर अक्सर नजर आते हैं।

      कुछ दिन पहले टीआई का इसी चौराहे पर व्यायाम करते हुए वीडियो सामने आया था। रात्रि चेकिंग के दौरान पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र ने टीआई की चुस्ती पर उनकी प्रशंसा भी की थी, लेकिन इस मामले के बाद अब सवाल उठ रहे हैं कि थाने के पास ही चल रहे इस गोरखधंधे की पुलिस को भनक क्यों नहीं लगी। कैसे विजय नगर पुलिस को पता नहीं चला और क्राइम ब्रांच व महिला पुलिस ने दबिश दी।

      इस मामले में नई जानकारी यह भी सामने आई है कि दस माह पहले इसी स्पा सेंटर पर कार्ऱवाई हुई थी। जो दो विदेशी लड़कियां इस मामले में पकड़ाई थीं वे जेल भी गई थीं।

      जेल से छूटने के बाद फिर से इस धंधे में आ गई। उनके पासपोर्ट पहले से ही कोर्ट में जमा हैं। इस कारण वे दोबारा अपने देश नहीं जा सकती थी।

      महिला थाना प्रभारी ज्योति शर्मा के मुताबिक पकड़ाई गई थाईलैंड की सात लड़कियों में से दो ऐसी भी हैं, जिनके पासपोर्ट कोर्ट में जमा हैं। इनके खिलाफ विजयनगर और लसूड़िया में केस दर्ज थे।

      अन्य लड़कियों के पासपोर्ट भी पुलिस ने गुरुवार रात जब्त किए, देर रात तक कार्रवाई चलती रही। थाईलैंड की लड़कियों के वीजा की भी जांच की जा रही है। पुलिस पता कर रही है कि वे आखिर बिना वीजा के भारत कैसे आईं।

      भाजपाईयों ने मुस्लिम शख्स को पीटा, थूक चटवाया, सीएम ने दिए जांच के आदेश

      राम रहीम को हेलिकॉप्टर से ले जाने पर हाईकोर्ट ने पूछा- वह पीएम से ऊपर है क्या ?

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क को आर्थिक संकट से उबारने की अपील, जनपक्षधर पत्रकारिता को मजबूत करें

      दहेजलोभियों ने विवाहिता और उसके पुत्र-पुत्री को जहर देकर एक साथ मार डाला

      ओमिक्रॉन की भीषण चपेट में ब्रिटेन, 24 घंटे में न्यू कोविड वेरिएंट के 1 करोड़ नए मामले

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!