अन्य
    Monday, April 22, 2024
    अन्य

      फेक न्यूज पोस्ट करने के लिए 4 पाकिस्तानी और 18 भारतीय यूट्यूब न्यूज चैनल्स ब्लॉक

      फेक न्यूज और भारत विरोधी कंटेंट पोस्ट करने के लिए 18 भारतीय और चार पाकिस्तान स्थित यूट्यूब न्यूज चैनल्स को ब्लॉक कर दिया है। ब्लॉक यूट्यूब चैनलों की कुल व्यूअरशिप 260 करोड़ से अधिक थी

      राजनामा.कॉम। भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने फेक न्यूज और भारत विरोधी कंटेंट पोस्ट करने के लिए 18 भारतीय और 4 पाकिस्तान स्थित यूट्यूब न्यूज चैनल्स को ब्लॉक कर दिया। ब्लॉक यूट्यूब चैनलों की कुल व्यूअरशिप 260 करोड़ से अधिक थी।

      इसके साथ ही मंत्रालय ने 3 ट्विटर अकाउंट, 1 फेसबुक अकाउंट और 1 न्यूज वेबसाइट को भी ब्लॉक किया।

      मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इन यूट्यूब चैनलों ने दर्शकों को गुमराह करने के लिए टीवी समाचार चैनलों के लोगो और झूठे थंबनेल का इस्तेमाल किया।

      मंत्रालय ने कहा कि इन यूट्यूब चैनलों का इस्तेमाल भारतीय सशस्त्र बलों, जम्मू और कश्मीर जैसे विभिन्न विषयों पर फर्जी खबरें पोस्ट करने के लिए किया गया था।

      साथ ही पाकिस्तान से संचालित कई सोशल मीडिया अकाउंट द्वारा भारत विरोधी कंटेंट शेयर किया गया था। कुछ मामलों में भारत के खिलाफ फेक न्यूज को पाकिस्तान से फैलाया जा रहा था।

      इसके साथ कहा गया, ‘यह देखा गया कि इन भारतीय यूट्यूब आधारित चैनलों द्वारा यूक्रेन में मौजूदा स्थिति से संबंधित बड़ी मात्रा में फेक कंटेंट पोस्ट किया और इसका उद्देश्य अन्य देशों के साथ भारत के विदेशी संबंधों को खतरे में डालना है।’

      बता दें दिसंबर से लेकर अब तक मिनिस्ट्री ने 78 यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक किया है। इसके अलावा कई सोशल मीडिया अकाउंट्स भी हैं, जिनको बैन किया गया है। यह अकाउंट्स  गलत जानकारी फैला रहे थे।

      इस फैसले के साथ पिछले साल दिसंबर से अब तक मिनिस्ट्री ने 78 यूट्यूब चैनल्स को ब्लॉक किया है। इसके साथ ही कई सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी बैन किया गया है।

      यूपी चुनाव में नहीं चलेगा मीडिया का यह खेल, आयोग ने लगाई रोक, दी कड़ी हिदायत

      राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग पहुंचा आज रिपोर्टर की पिटाई का मामला

      नालंदाः बदमाशों ने रिपोर्टर को गोली मारी, सरायकेलाः पुलिस ने रिपोर्टर को जमकर पीटा

      नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ, पत्रकारिता जगत में शोक की लहर

      झारखंड राज्य पत्रकार स्वास्थ्य बीमा नियमावली-2021 प्रस्ताव मंजूर, जाने क्या है योजना? किसे मिलेगा लाभ?

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!