विकिपीडिया ने यूं उड़ाई अफवाह, स्वर कोकिला पद्मश्री शारदा सिन्हा को बताया मृत, उसके बाद..!!

राज़नामा.डेस्क। विकिपीडिया की झूठी और भ्रामक खबरों के कारण स्वर साम्राज्ञी पद्मश्री शारदा सिन्हा की झूठी मौत की अफवाह ऐसी उड़ी कि कोरोना संक्रमण का ईलाज करा रही पद्मश्री सिन्हा को अपने स्वास्थ्य को लेकर वीडियो जारी कर अपने शुभेच्छुओं को यह बतना पड़ा  कि वे स्वस्थ्य हैं।

वीडियो में शारदा सिन्‍हा ने कहा है कि उनका कोरोना का इलाज चल रहा है। इलाज से सुधार भी हो रहा है। लोग अफवाहों पर ध्‍यान न दें। चाहने वालों से अपील करते हुए उन्‍होंने कहा कि उनकी दुआओं से वे जरूर स्‍वस्‍थ होकर उनके बीच आएंगी।

दरअसल, रविवार को बिहार के मोतिहारी नगर थाने में पदस्थापित एक 54 वर्षीय महिला दारोगा शारदा सिन्हा की कोरोना संक्रमण से पटना के एक अस्‍पताल में मौत हो गई थी। वे जहानाबाद जिले के बाजितपुर की रहने वाली थीं।

लोक गायिका शारदा सिन्‍हा का भी पटना के ही अस्‍पताल में कोरोना का इलाज चल रहा है। इसके बाद किसी ने गायिका शारदा सिन्‍हा की मौत की अफवाह उड़ा दी गई और उस अफवाह को वीकीपीडिया तक ने बिना किसी पड़ताल के प्रसारित कर दिया, जो देखते-देखते वायरल हो गई। बात इतनी बढ़ी कि खुद शारदा सिन्‍हा को सामने आकर अपनी बात रखनी पड़ी।

बता दें कि शारदा सिन्हा को कोरोना से संक्रमित हो गयीं हैं, तीन दिन पहले इसकी जानकारी देते हुए उन्‍होंने कहा था कि उन्‍हें लोगों की दुआओं की जरूरत है। लोक गायिका शारदा सिन्‍हा पद्म भूषण से सम्मानित की जा चुकी हैं। वे कोरोना संक्रमित कैसे हो गईं, उन्‍हें नहीं पता चला।

शारदा सिन्‍हा अपने छठ गीतों के साथ विवाह गीतों के लिए जानी जाती हैं। 1977 में उन्‍होंने छठ गीतों का पहला अल्बम रिकॉर्ड किया था। उनका पहला अल्बम एचएमवी से निकला, लेकिन बाद में वे टी-सीरीज के लिए छठ गीत गाने लगीं।

उन्‍होंने बॉलीवुड में भी सलमान खान और भाग्यश्री अभिनीत गीत ‘पग पग लिए जाऊं…’ को भी गाया है।

इधर फर्जी खबर की अफवाह उड़ी, नहीं कि छपास नेताओं में होड़ सी मचने लगी। फेसबुक, व्हाट्सएप जैसे शोषल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शारदा सिन्हा के मौत के गम शोक संवेदना प्रकट कर टीआरपी लूटना शुरू कर दिया।

भाजपा नेता सतीश शर्मा ने अपने फेसबुक पेज पर उनके निधन की सूचना डाली, उधर उनके कई फेसबुक मित्रों की ओर से श्रद्धा सुमन अर्पित करने की होड़ मच गयी। हालांकि सच्चाई जानते ही उन्होंने पोस्ट डिलीट कर दिया।

हद तो ये है कि आजसू नेता अप्पू तिवारी ने बजावते प्रेस रिलीज जारी कर शारदा सिन्हा के मौत को अपूरणीय क्षति बताया। हालांकि सच जानते ही उन्होंने किसी कलाकार द्वारा जानकारी दिए जाने की बात कहकर खेद प्रकट कर पल्ला झाड़ लिया। इसी तरह कई शोषल साइट्स पर ऐसी अफवाहें उड़ती रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here