अखबार की आड़ में चले इस नाबालिग यौनाचार में नेता-पत्रकार-कारोबारी-जज सबका नाम उछला

राज़नामा.कॉम। गरीब परिवारों की नाबालिग लड़कियों को पार्टियों के लिए बुलाकर उनका यौन शोषण करने का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यह सेक्स रैकेट भोपाल के एक अखबार के मालिक द्वारा संचालित किया जा रहा था।

पहले तो वह लड़कियों का यौन शोषण करता था। शहर के कई प्रभावशाली लोग पार्टियों में शामिल होते थे। इनमें पत्रकार, बिल्डर आदि शामिल हैं।

इन लड़कियों को महीने में 8-10,000 रुपये में बुलाया जाता था। अखबार मालिक अपनी महिला मैनेजर के जरिए रैकेट चला रहा था। आरोपी का दामाद भी वरिष्ठ पत्रकार है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शनिवार रात करीब 3 बजे रतिबार इलाके में गश्त के दौरान पुलिस ने 5 लड़कियों को घूमते हुए पाया। इनमें से 4 नाबालिग हैं। सभी नशे की हालत में थे। कार में बैठने के बाद उन्हें पुलिस स्टेशन लाया गया।

यहां ये लड़कियां एक दैनिक समाचार पत्र के बुजुर्ग मालिक प्यारे मियां और उसके प्रबंधक स्वीटी विश्वकर्मा के कामों को उजागर करती हैं।

मामला हाई प्रोफाइल होने से हड़कंप मच गया। पुलिस ने तुरंत चाइल्ड लाइन के काउंसलर को बुलाया और लड़कियों की काउंसलिंग करवाई। इसके बाद दोनों के खिलाफ पाक्सो एक्ट सहित कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

इसके बाद स्वीटी को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, मुख्य आरोपी फरार हो गया। पुलिस ने उस पर 10,000 रुपये का इनाम घोषित किया है।

पुलिस के अनुसार, रविवार तड़के 3 बजे 5 लड़कियां नशे की हालत में मिलीं। सभी को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया गया है। काउंसलिंग के बाद पूछताछ में उन्होंने यौन शोषण किए जाने का खुलासा किया है। यह सभी लड़कियां 14 से 17 साल के बीच की हैं।

डीआईजी इरशाद वली के अनुसार मामले में एक समाचार पत्र के मालिक प्यारे मियां (68 साल) और उसकी निजी सचिव स्वीटी (21 साल) पर केस दर्ज किया है।

पुलिस की मानें तो सुबह गश्त के दौरान पांचों नाबालिग लड़कियां नशे की हालत में मिलीं। पुलिस ने बाहर घूमने का कारण पूछा। जब देखा कि यह बात करने की स्थिति में नहीं हैं तो चाइल्ड लाइन को सौंप दिया।

लड़कियों ने बताया कि वे शाहपुरा में विष्णु हाईट्स में एक फ्लैट में पार्टी से आ रही हैं। उन्हें जन्मदिन की पार्टी में डांस करने के लिए भेजा गया था।

एक लड़की ने आरोप लगाया कि प्यारे मियां ने उसके साथ ज्यादती भी की है। प्यारे मियां और स्वीटी उनसे यह सब करवाते थे। उन्होंने ही इस पार्टी में भेजा था।

डीआईजी ने बताया कि श्यामला हिल्स में रहने वाली स्वीटी को गिरफ्तार कर लिया है। प्यारे मियां की तलाश की जा रही है। दोनों पर पॉस्को एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है।

बताया जाता है कि प्यारे मियां नाबालिगों के यौन शोषण के बाद बालिग होने पर शादी करा देता था। इस मामले में कई और रसूखदारों के नाम सामने आए हैं। पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक़ इसमें सबसे ज़्यादा प्रसार संख्या का दावा करने वाले दैनिक अख़बार के मालिक का एक रिश्तेदार, ज़मीनों का हेर फेर करने वाला भोपाल के एक उर्दू अख़बार का मालिक, प्रदेश कांग्रेस से इस्तीफ़ा देने वाला एक उद्योगपति कांग्रेस नेता, एक टीवी चैनल से जुडा पत्रकार एवं तीन अन्य उद्योगपतियों के साथ एक न्यायिक सेवा से जुड़े व्यक्ति ने इन नाबालिग लड़कियों के साथ घिनौना कृत्य किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here