फेसबुक इंडिया की अंखी दास को जान का खतरा, हेट स्पीच गाइडलाइंस को लेकर भद्दे-अश्लील कमेंट

माइक्रो ब्लॉगिंग फेसबुक सोशल साइट की इंडिया अधिकारी अंखी दास ने पुलिस को दिए कंप्लेन में ऐसे कुछ ट्विटर और फेसबुक हैंडल्स का जिक्र भी अपनी शिकायत में किया है, जहां से उन्हें धमकियां मिली हैं…

FACEBOOK INDIA ANKHI DAS RAHUL GANDHI RSS BJP 1
राज़नामा डेस्क।
फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी डायरेक्‍टर अंखी दास को धमकियां मिलने का मामला सामने आया है। अंखी दास ने इस मामले में दिल्ली पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उत्तरी दिल्ली के सीआर पार्क थाने में सोमवार की सुबह दी गई अपनी शिकायत में अंखी दास का कहना है कि फेसबुक और ट्विटर पर कुछ लोग उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इसके साथ ही उन पर भद्दे और अश्लील कमेंट भी किए जा रहे हैं।

बताया जाता है कि साइबर क्राइम से जुड़ा होने के कारण इस मामले को साइबर सेल में ट्रांसफर कर दिया गया है। वहीं, पुलिस का कहना है कि शिकायत मिलने के बाद मामले का जांच की जा रही है। जांच के बाद आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

FACEBOOK INDIA ANKHI DAS RAHUL GANDHI RSS BJP 3मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ऐसी धमकियां उन पर हेट स्पीच को लेकर बनाई गईं फेसबुक की गाइडलाइंस का पालन नहीं करवाने के आरोप के बाद मिली हैं।

गौरतलब है कि अमेरिकी अखबार ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ में फेसबुक हेट-स्पीच रूल्स कोलाइड विद इंडियन पॉलिटिक्स शीर्षक से प्रकाशित रिपोर्ट के बाद भारत में सियासी आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

अमेरिकी अखबार की इस रिपोर्ट में अंखी दास का जिक्र करते हुए कहा गया है कि फेसबुक भारत में बीजेपी नेताओं के हेट स्पीच के मामलों में नियम में ढील बरतता है।FACEBOOK INDIA ANKHI DAS RAHUL GANDHI RSS BJP 2

इस पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने बीजेपी-आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि फेसबुक और वॉट्सऐप इनके कब्जे में हैं, जिसके जरिये ये नफरत और फेक न्यूज फैलाते हैं।

हालांकि फेसबुक के प्रवक्ता का कहना है कि फेसबुक अपने नियमों के मुताबिक हेट स्पीच जैसे मैटीरियल वाले पोस्ट को बिना किसी राजनीतिक दबाव या भेदभाव के तुरंत हटाता है।

पूरी दुनिया में फेसबुक की यही पॉलिसी है। फेसबुक प्रवक्ता के बयान के बारे में न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्वीट किया है, जिसे आप यहां देख सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here