राज़नामा.कॉम डेस्क। आज बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने वीडियो कांफ्रेस के जरिए क्वारंटाइन सेंटर की समीक्षा की है। यह एक अलग चर्चा का विषय हो सकता है कि उन्हें वीडियो कॉल के जरिए प्रताड़ित प्रवासी लोगों का दर्द कहां तक अहसास हुआ होगा।

लेकिन सोशल साइटों पर सीएम नीतीश कुमार इस दौरान वायरल हुए तस्वीरों को लेकर खूब ट्रोल हो रहे हैं। उनके सुशासन के कई आला करींदे भी कम सुर्खियों में नहीं है।

अमुमन क्वारंटाइन सेंटरों में बोरा में भरकर जली-सड़ी रोटियां परोसने वाले कई डीएम हैंरतअंगेज दिखावे किए। कार्पेट, टेंट, फूल माला लगाया गया। जबकि पूरे सूबे में वास्तविक स्थिति किसी से छुपी नहीं है।

बहरहाल, कई डीएम ने अपनी महान कोरोना उपलब्धि को फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप्प आदि जैसे सोशल साइट पर खुद ऐसे फोटो शेयर किए हैं, जिन पर लोग तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं…

..अच्छा है, बदनाम हुए तो क्या नाम नहीं हुआ। बेड़ा गर्क ही करना है तो बिहार का पूरी तरह से कर दो। देश-दुनिया देखने के आलावे कर ही क्या सकता है।

धन्य हैं बिहार के नेता और उनसे भी महान हैं उनके सुशासन के नुमाइंदे, तस्वीर ऐसे प्लांट करते हैं कि मानों वे कोविड-19 महोत्सव-2020 मना रहे हों। आखिर आम जनता की गाढ़ी कमाई ऐसे नौटंकीबाजों के लिए तो ही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here