अन्य
    आलेख

    नये जमाने की पत्रकारिता ‘मोजो’ (मोबाइल जर्नलिज्म), कैसे बनाएं कैरियर

    "अब मोजो यानी मोबाइल जर्नलिज्म का जमाना है। मोजो जर्नलिस्ट बनकर न‌ केवल पत्रकारिता के पैशन को पूरा कर सकते हैं, बल्कि अपनी खबरे...

    डिजिटल वेबसाइट्स न्यूज़ रिपोर्टिंग एडिटिंग के लिए जरुरी आचार संहिता

    राज़नामा.कॉम डेस्क। डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसोसिएशन ने स्वेच्छा से अपने सदस्यों के लिए आचार संहिता बनाई है। इस संहिता को बनाते समय यह ध्यान...

    जानिए, एक रीयल मीडिया ‘न्यूज़ रिपोर्टर’ बनने का यह सर्वमान्य तरीका

    "न्यूज रिपोर्टर एक बहुत ही प्रचलित जिम्मेवार कार्य होता है, जिसके बारे में हर कोई खबर रखता है। क्योंकि एक न्यूज रिपोर्टर का मुख्य...

    जी हां,ये हैं भारतीय मीडिया के खेवनहार या खिचड़ी परिवार

    मीडिया दो तबके के ही लोगों के लिए है। एक तो आर्थिक रुप से बहुत कमजोर…और दूसरा जो आर्थिक तौर पर मजबूत है और...

    “प्रभात ख़बर औए ३६५ दिन में सौतन-डाह”

    इन दिनों झारखण्ड की एक इलेक्ट्रोनिक चैनल ३६५ दिन और प्रसिद्ध हिन्दी दैनिक प्रभात खबर के बीच चल रही तू तू -मै मै हाथापाई...

    “सिर्फ़ सनसनी फैलाकर झारखण्ड में आगे बढना चाहती है “दैनिक जागरण” !!”

    दैनिक जागरण अखबार झारखण्ड में जबसे अपना कदम रखी है ,ज्वलंत समस्याओं को उजागर करने के नाम पर अपने असंवेदनशील संवाददाताओं के बल कहीं...