रांची वुमेंस कॉलेज के प्राचार्या ने Z News के लाइव रिपोर्टर से माइक छीनी

Share Button

रांची। जारी छात्र संघ चुनाव का लाइव रिपोर्टिंग प्रोगाम के दौरान रांची वुमेंस कॉलेज की प्रिंसीपल मंजू सिन्हा ने Z News के रिपोर्टर  कामरान के साथ बदसलूकी की और आईडी माइक छान लिया।

Z News के लाइव रिपोर्टर कामरान ने बताया कि सुबह करीब दस बजे वह रांची वुमेंस कॉलेज में जारी छात्र संघ चुनाव की लाइव रिपोर्टिंग कर रहे थे कि अचानक पिछे से किसी ने हाथ रख दिया। मुड़ कर देखा तो सामने खुद कॉलेज की प्रिंसीपल मंजू सिंहा थी जो  कि हाईकोर्ट का आदेश का हवाला देकर चैनल आईडी माइक छीन ली और दुर्व्यवहार करने गली।

कामरान ने बताया कि वह लाइव रिपोर्टिंग शुरु करने के आधा घंटा पहले ही पहुंच गये थे। इस आधा घंटे के दौरान वे लाइव रिपोर्टिंग सेटअप लगा रहे थे लेकिन इस दौरान किसी ने भी कोई रोक-टोक नहीं की।

इस घटना के बाद पत्रकारों का एक दल कॉलेज के प्रिंसीपल से मिले। तब प्रिंसीपल बड़े बेतुके अंदाज में बोली कि कॉलेज में एक चर्चित हत्या हो जाने के बाद वे इस तरह की गतिविधियों पर रोक लगाते हैं। वह कॉलेज में सीसीटीवी कैमरे लगा रखी है।

उल्लेखनीय है कि माननीय रांची हाई कोर्ट ने छात्र संघ चुनाव की वीडियो रिकार्डिंग करने का आदेश दे रखा है। मीडिया रिपोर्टिंग इसके दायरे से बाहर है। अगर कॉलेज में हत्या या अन्य गंभीर घटना हुई है तो क्या इसमें किसी मीडियाकर्मी की संलिप्ता सामने आई है।

इस घटना की झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष शहनवाज जी एवं संगठन मंत्री अरविंद प्रताप ने कड़ी निंदा करते हुये मुख्यमंत्री रघुबर दास और शिक्षा मंत्री नीरा यादव से तत्काल लकड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

समाचार लिखे जाने तक इस मामले को लेकर पत्रकारों का एक दल शिक्षा सचिव और शिक्षा मेंत्री के साथ वार्ता कर रही है। रांची वुमेंस कॉलेज के प्रिंसीपल मंजू सिन्हा के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज हो सकती है।

Share Button

Relate Newss:

15 हजार लेकर थानाध्यक्ष ने कराई नाबालिग छात्रा की शादी, कतिपय पत्रकार देख ले VEDIO
आजसू को छोड़ झाविमो को हथियाने की फिराक में भाजपा
इन बागड़-बिल्लों के खिलाफ झारखंड निगरानी विभाग सुस्त !
बिहारी बाबू ने अब पीएम मोदी के डीएनए पर साधा निशाना
लक्ष्मण गिलुवा का स्वागत करने पहुंचा उग्रवादी धराया
जनसंख्या मामले में अपनी अपरिपक्वता(?) का सबूत पेश किया है भारतीय मीडिया !
मीडिया ने बबूल को बरगद बना दिया
“बाबा” को दबोचने सन्मार्ग पहुंचे “बब्बर”
सीबीआई की रेड में अय्याशी का अड्डा निकला ‘प्रातः कमल’ अखबार का पटना दफ्तर
हजारीबाग कोर्ट में गैंगवार, झारखंड में जंगल राज !
आखिर कब टूटेगा सामंतवाद का यह अफीमी नशा
राष्ट्रीय पुरस्कार लौटाने वाले समेत 24 हस्तियों में सईद मिर्जा, कुंदन शाह, अरुंधति राय भी शामिल
अब नहीं रहे आउटलुक के संस्थापक संपादक विनोद मेहता
खरसांवा में सीएम रघुबर दास पर आदिवासियों का बड़ा विरोध, फेंके जूत्ते-चप्पल
MLA अमित कुमार की CBI जांच की मांग पर केन्द्रीय गृहमंत्री के रवैये की आलोचना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...