झारखंड में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू हेतु सीएम से बात करेंगी शिक्षा मंत्री

Share Button

रांची। झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन का चौथा राज्य स्तरीय सम्मेलन हजारीबाग विनोवाभावे विश्वविद्यालय के स्वामी विवेकानंद सभागार में आयोजित किया गया।

इस एक दिवसीय समारोह में बतौर मुख्य अतिथि झारखंड के मानव संसाधन मंत्री डॉ नीरा यादव ने कहा कि “देश व समाज के विकास की धारा में पत्रकारों की भूमिका अहम है देश की एकता और संपूर्णता के लिए जहां मीडिया ऑक्सीजन की तरह है वही यह समाज में लोगों में चेतना जागृत करने का कार्य करती है झारखंड में आयोजित इस तरह के सम्मेलन अन्य जिलों में हो ताकि हम लोगों को भी मीडिया की भूमिका और देश व समाज के विकास के लिए कार्य करने वाले पत्रकारों की मेहता लोगों को समझ में आ सके ”

शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा की सरकार पत्रकारों के हित के लिए सदेव तत्पर है और मीडिया की अक्षमता बनाए रखने के लिए सदैव उनके साथ खड़ी रहेगी

कार्यक्रम में दक्षिणी छोटानागपुर के पुलिस डीआईजी उपेंद्र कुमार ने कहा कि आपको जहां भी जरूरत हो, मीडिया के साथियों को मदद करने के लिए सदैव तत्पर रहूँगा।

कार्यक्रम में पूर्व आईपीएस अधिकारी एवं प्रखर वक्ता पी के सिद्धार्थ ने कहा की देश में मीडिया की स्थिति पूर्व से काफी मजबूत हुई है। मीडिया न केवल देश का आईना है बल्कि देश की संप्रभुता को बचाने में भी अहम योगदान रखता है। यह वही प्रहरी है, जो राजनेता व अफसरों को सदैव जगाने का कार्य करता है। अगर मीडिया नहीं होती तो देश में लोगों को न्याय मिलने में काफी विलंब होता। मीडिया की भूमिका न केवल विकास कार्यों के लिए बल्कि हम लोगों को जागरुक एवं उनके अधिकारों की रक्षा के लिए सदैव तत्पर रहा है।

दक्षिणी छोटानागपुर के पुलिस डीआईजी उपेंद्र कुमार ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मीडिया के सहयोग पुलिस के साथ सदैव रहा है। हम पुलिस पदाधिकारी होने के नाते तमाम पत्रकारों एवं मीडिया के साथियों का सदैव सम्मान करते रहें हैं। हमारा संघ हमारा पुलिस प्रशासन उनकी सुरक्षा एवं उनकी समस्याओं के निदान के लिए सदैव तत्पर रहेगा।

उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया कि “जहां भी मीडिया के साथियों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है आप हमें अवगत कराएं आपके साथ सदा पुलिस प्रशासन की होगी उन्होंने यह भी कहा कि पत्रकार सदैव निष्पक्षता का पत्थर रहा है यदि आप निष्पक्ष रुप से समाचार का प्रकाशन करते हैं तो इससे न केवल समाज को एक नई दिशा मिलेगा बल्कि सामान्यता बनाने में अहम भूमिका निभा पायेंगे। ”

कार्यक्रम को दैनिक पायनियर के  संपादक अनुपम शशांक  एवं एवं दैनिक भास्कर के संपादक अमरकांत ने भी संबोधित किया।

प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज़ हसन ने सरकार से पत्रकार सुरक्षा कानून लागु करने की मांग की साथ ही सरकार द्वारा पत्रकार स्वास्थ्य योजना का लाभ प्रखण्ड स्तर के पत्रकारों को भी मिले इसे सरकार सुनिश्चित करे।

उन्होंने पत्रकारों के लिये बीमा एवं आवास योजना झारखण्ड में लागू करने की मांग करते हुये आज पत्रकारों का सबसे बड़ा दुश्मन पत्रकारों को ही बताया। आज जहां कहीं भी पत्रकारों के साथ कोई समस्या उत्पन्न हुयी है तो इसके लिये अधिकांश मामले में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से कोई न कोई पत्रकार की संलिप्ता रही है। हमें हालात बदलना है तो इस मानसिकता से ऊपर उठना होगा।

दैनिक भास्कर के संपादक अमरकांत ने कहा कि मीडिया की भूमिका वर्तमान समय में काफी अधिक हो गई है। पत्रकार अपनी ज़िम्मेवारियों का निर्वाह ईमानदारी से करते हैं। उनकी निजी दुश्मनी किसी से नहीं होती। पर समाचार संकलन के क्रम में कई दुश्मन बन जाते हैं। पत्रकार अपनी जिम्मेवारी से सदैव समाज को जागरुक करते रहें हैं। हमें इस बात का  गर्व  है कि हम समाज की सेवा करने का अवसर अपनी कलम से करने का मौका मिलता है। अगर पत्रकार एक होकर कार्य करें तो कहीं भी उन्हें समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

उन्होंने IFWJ  के कार्यक्रमों की तारीफ करते हुए कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि आज एक संगठन पत्रकारों को सहेजकर एक मंच पर लाने का कार्य कर रहा है। इससे न केवल पत्रकारों की समस्याओं का समाधान होगा बल्कि, उन्हें निष्पक्ष एवं निर्भीक पत्रकारिता करने में सहजता महसूस होगी।

दैनिक जागरण के पूर्व संपादक रहे देवेंद्र सिंह रावत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज मीडिया की स्थिति काफी मजबूत हुई है। एक समय था जब मीडिया अत्यंत ही कमजोर और दयनीय स्थिति में रहती थी। बावजूद उस समय पत्रकारों की अहमियत अधिक होती थी लेकिन, आज के युग में जहां इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया काफी मजबूत हुई है वही, पत्रकार की अहमियत अभी देश और समाज के प्रति काफी बढ़ गया है।

उन्होंने कहा कि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि समाचार संकलन में पत्रकारों को कई बार जोखिमों का सामना करना पड़ता है। बावजूद मीडिया के बंधुओं अपनी जान की परवाह किए बिना ही समाचार का संकलन कर देश व समाज के सामने सच्चाई लाने का कार्य करता है। हम सरकार से यह मांग करते हैं कि पत्रकार की सुरक्षा के लिए एक मजबूत कानून हो और पत्रकारों के हित के लिए सरकार कार्य करें।

कार्यक्रम का उद्घाटन गणेश वंदना से हजारीबाग तरंग ग्रुप द्वारा किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि शिक्षा मंत्री नीरा यादव, डीआईजी उपेंद्र कुमार, पूर्व गृह सचिव पीके सिद्धार्थ, दैनिक भास्कर के संपादक अमरकांत, दैनिक पायनियर के संपादक अनुपम शशांक, साबी देवी, समाजसेवी प्रदीप प्रसाद  ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की।

इस कार्यक्रम में संगठन की पत्रिका चौथा स्तंभ का विमोचन भी किया गया।इस अवसर पर संगठन एवं पत्रकार हित में कार्य करने वाले सदस्यों एवं पदाधिकारियों को मेमेंटो एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

संगठन की ओर से आए तमाम अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में झारखंड के हजारीबाग, कोडरमा, चतरा, धनबाद, लातेहार, गढ़वा, गुमला, गिरिडीह, पाकुर, साहेबगंज, चाईबासा, जमशेदपुर एवं रांची समेत सभी जिलों के प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के 500 से अधिक पत्रकार  साथी शामिल हुए।

इस कार्यक्रम में संगठन को सहयोग देने के लिए कई डॉक्टर वकीलों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन झारखंड प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष शाहनवाज हसन ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में हजारीबाग जिले के जिला अध्यक्ष पंकज सिन्हा, जिला महासचिव सचिन खंडेलवाल, झारखंड प्रदेश के संगठन सचिव दीपक कुमार, विजय कुमार दास, रामशरण शर्मा, रविंद्र कुमार राहुल कुमार, रवि शर्मा, नवीन कुमार सिन्हा, लखन कुमार पासवान, कृष्ण कुमार सिंह, मोहम्मद रुस्तम खान, किशोर प्रसाद, बालेश्वर प्रसाद, अमितेश कुमार, कृष्णा प्रजापति, रियाज खान, उमेश पासवान की अहम भूमिका रही।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...