मशहूर सिने-टीवी लेखक धनंजय कुमार की ‘नीरज प्रताड़ना’ पर दो टूकः आत्ममुग्ध नीतीश बाबू के सुशासन में पुलिस-नौकरशाह दोनों अराजक

“नालंदा जिले के मूलतः बिन्द  निवासी एवं वर्तमान में मुबंई फिल्म नगरी के जाने-माने सिने-टीवी लेखक धनंजय कुमार ने राजनामा.कॉम पर रिपोर्टर नीरज संबंधित खबर का लिंक शेयर करते हुए बिहार के सीएम नीतीश कुमार को आयना दिखाया है। उन्होंने दो टूक लिखा कि कि खुद को चाणक्य कहला धन्य होने […]

Read more

राजग को 300 सीटें आ भी जाएं तो कैसे आईं, यह कौन बताएगा?

INR. आज के अखबारों में टेलीविजन चैनल के एक्जिट पोल के हवाले से यही खबर है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वापस सरकार बना लेंगे। इंडियन एक्सप्रेस का बैनर शीर्षक है, सभी एक्जिट पोल राजग की वापसी का संकेत दे रहे हैं। अटकल खबर नहीं होती पर उसे बैनर बना दिया जाए […]

Read more

पत्रकार पुत्र को शराब पिलाई गई थी या हत्यारों ने पी थी !

राजनामा.कॉम। नालंदा के पत्रकार आशुतोष के पुत्र चुन्नू के हत्या की गुत्थी लगभग सुलझ चुकी है। घटनास्थल को जांच करने के बाद पटना से गई फोरेंसिक की टीम ने इस ब्लाइंड केस में महत्वपूर्ण सुराग नालन्दा पुलिस को दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चुन्नू की हत्या आंख में […]

Read more

 जिन्दगी झण्ड बा….फिर भी घमण्ड बा….

“जिन्दगी भी गजब की होती है……….कुछ वर्ष पहले हमारे यहाँ एक आयोजन में भोजपुरी सुपरस्टार रवि किशन आए हुए थे, उन्होंने कहा था कि- जिन्दगी झण्ड बा फिर भी घमण्ड बा………” -:भूपेन्द्र सिंह गर्गवंशी  :- राजनामा.कॉम।  आज जब इलेक्शन का मौसम चल रहा है तब जिन्दगी शब्द काफी याद आ रहा […]

Read more

धड़ाधड़ खुल रहे रीजनल चैनलों की कहानी, एक्सपर्ट वासिंद्र मिश्र की जुबानी

खतरे की शुरुआत तभी होती है, जब आप खबर में अपना पर्सनल एजेंडा डालने की कोशिश करते हैं या किसी के कहने पर किसी के एजेंडा को अपने माध्यम से आगे बढ़ाने की कोशिश करते हैं, तभी खतरा होता है। सबसे बड़ा खतरा पॉलिटिक्स की ओर है अथवा जो सरकारें बन […]

Read more

घबराहट-बौखलाहट में बिहार डायरी-2019 से हटाये गए प्रायः सभी न्यूज पोर्टल 

“हद है कि बिहार सरकार सूचना एवं जनसंपर्क विभाग वेब मीडिया को मानता है, लेकिन उसके पत्रकारों को नहीं….” -: डॉ. लीना, संपादिका,  मीडिया मोर्चा वेब पोर्टल :- बिहार सरकार का सूचना एवं जनसंपर्क विभाग बिहार के न्यू मीडिया यानी वेब पोर्टल (न्यूज पोर्टल) के पत्रकारों को पत्रकार नहीं मानता। उसने […]

Read more

‘इस महापाप में न्यायपालिका, विधायिका, कार्यपालिका, मीडिया,एनजीओ सब शरीक’

राजनामा.कॉम। फिलहाल कशिश न्यूज चैनल से जुड़े जाने-माने टीवी जर्नलिस्ट संतोष सिंह ने मीडिया को पटना हाई कोर्ट से मिले आदेश को लेकर अपने फेसबुक वाल पर जो उद्गार व्यक्त किया है, वह सीधे तौर पर वाक्य और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता से जुड़े मौलिक अधिकार की ओर ध्यान आकृष्ट करता है। […]

Read more

मीडिया के लिए नहीं होना चाहिए कोई दिशा-निर्देशः चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा

राजनामा.कॉम। ‘लोकतांत्रिक समाज में प्रेस की आजादी तमाम आजादी की जननी है। इसमें कोई शक नहीं कि ये संविधान में दिए गए सबसे मूल्यवान अधिकारों में से एक है। इसमें जानने का अधिकार और सूचित करने का अधिकार भी समाहित है’ यह कहना है देश के मुख्य न्यायधीश (सीजेआई) दीपक मिश्रा […]

Read more

अमित शाह ने विपक्ष को कुत्ता-कुत्ती बताने के चक्कर में मोदी को विनाश का प्रतीक बना दिया

“विपक्ष को गाली देने के जोश में अमित शाह को शेर रूप मोदी को उस पेड़ पर नहीं चढ़ाना चाहिए था, जहां दूसरे जानवर भी बैठे हैं। मोदी तो विकास के प्रतीक हुआ करते थे, विनाश के पर्याय कब बन गए?” -: रवीश कुमार :-  ‘2019 के कार्यक्रम की शुरुआत हो गई […]

Read more

रांची प्रेस क्लब में शादी का आयोजन कमिटी का फैसला  : सचिव

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। रांची प्रेस क्लब भवन में हुई झारखंड एवं सूचना जन संपर्क विभाग के निदेशक के पीए के बेटे की शादी चर्चा का विषय बन गया है। कई लोग इस पर सबाल उठा रहे हैं। ऐसे लोगों का मानना है कि प्रेस क्लब भवन में ऐसे आयोजनों से बचना […]

Read more
1 2 3 23