‘इस महापाप में न्यायपालिका, विधायिका, कार्यपालिका, मीडिया,एनजीओ सब शरीक’

राजनामा.कॉम। फिलहाल कशिश न्यूज चैनल से जुड़े जाने-माने टीवी जर्नलिस्ट संतोष सिंह ने मीडिया को पटना हाई कोर्ट से मिले आदेश को लेकर अपने फेसबुक वाल पर जो उद्गार व्यक्त किया है, वह सीधे तौर पर वाक्य और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता से जुड़े मौलिक अधिकार की ओर ध्यान आकृष्ट करता है। टीवी जर्नलिस्ट संतोष सिंह ने लिखा है कि पटना हाईकोर्ट के निर्देश को लेकर लगातार फोन आ रहा है इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए, किसी का सलाह है कि आप लोगों के यूनियन कि और से हाईकोर्ट में याचिका दायर करिए दो सौ से अधिक वकील दस्तख्त […]

Read more

मीडिया के लिए नहीं होना चाहिए कोई दिशा-निर्देशः चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा

राजनामा.कॉम। ‘लोकतांत्रिक समाज में प्रेस की आजादी तमाम आजादी की जननी है। इसमें कोई शक नहीं कि ये संविधान में दिए गए सबसे मूल्यवान अधिकारों में से एक है। इसमें जानने का अधिकार और सूचित करने का अधिकार भी समाहित है’ यह कहना है देश के मुख्य न्यायधीश (सीजेआई) दीपक मिश्रा का। उन्होंने कहा कि मेरा अटूट विश्वास है कि ‘(मीडिया के लिए) कोई दिशा-निर्देश नहीं होना चाहिए। उन्हें (मीडिया) को खुद पर नियंत्रण के लिए अपनी गाइडलाइंस बनानी चाहिए। प्रेस के निजी या समन्वित दिशा-निर्देश से बेहतर और कुछ नहीं हो सकता। किसी भी प्रकार से कुछ थोपना नहीं चाहिए […]

Read more

अमित शाह ने विपक्ष को कुत्ता-कुत्ती बताने के चक्कर में मोदी को विनाश का प्रतीक बना दिया

“विपक्ष को गाली देने के जोश में अमित शाह को शेर रूप मोदी को उस पेड़ पर नहीं चढ़ाना चाहिए था, जहां दूसरे जानवर भी बैठे हैं। मोदी तो विकास के प्रतीक हुआ करते थे, विनाश के पर्याय कब बन गए?” -: रवीश कुमार :-  ‘2019 के कार्यक्रम की शुरुआत हो गई है, सारा विपक्ष आह्वान करता है कि इकट्ठा आओ। मैंने एक वार्ता सुनी थी। जब बहुत बाढ़ आती है तो सारे पेड़-पौधे पानी में बह जाते हैं। एक वटवृक्ष अकेले बच जाता है तो सांप भी उस वृक्ष पर चढ़ जाता है, नेवला भी चढ़ जाता है, बिल्ली भी चढ़ जाती […]

Read more

रांची प्रेस क्लब में शादी का आयोजन कमिटी का फैसला  : सचिव

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। रांची प्रेस क्लब भवन में हुई झारखंड एवं सूचना जन संपर्क विभाग के निदेशक के पीए के बेटे की शादी चर्चा का विषय बन गया है। कई लोग इस पर सबाल उठा रहे हैं। ऐसे लोगों का मानना है कि प्रेस क्लब भवन में ऐसे आयोजनों से बचना चाहिये।  प्रेस क्लब शादी समारोह या अन्य अनुष्ठानों के लिए नहीं बना हैं। ये संगोष्ठी, सेमिनार, प्रेस वार्ता तथा प्रेस से ही संबंधित व्यक्तियों के मामलों से जुड़ा होना चाहिए। जिन्होंने भी इसकी शुरुआत की हैं, यह गलत किया है। प्रेस क्लब के सचिव शंभुनाथ चौधरी ने उक्त चर्चाओं के […]

Read more

अपनी राख से जी उठने वाला फीनिक्स पक्षी हैं लालू !

“लालू मरकर भी नहीं मरता! लालू यादव फीनिक्स पक्षी हैं, जो अपनी राख से जी उठता है।“ दीलिप सी मंडल, वरिष्ठ पत्रकार लालू यादव ने 15 साल बिहार पर शासन किया। उससे पहले भी सांसद रहे। इन 15 साल के बाद, पांच साल रेल मंत्री रहने के दौरान केंद्र में लगभग नंबर-2 की पोजिशन रही। बाद में दो साल और उनकी पार्टी ने बिहार में सरकार चलाई। अभी भी बिहार में वोट प्रतिशत और एमएलए की संख्या के हिसाब से आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है। लालू देश के अकेले नेता हैं, जो देश में कहीं भी बोलने के लिए खड़े हो […]

Read more

रांची प्रेस क्लब चुनावः क्या आप ऐसे लोगो को वोट देंगे? जो…..

“रांची प्रेस क्लब का चुनाव हो रहा हैं। इसमें ऐसे-ऐसे घाघ लोग चुनाव लड़ रहे हैं, जिनके जीतने पर रांची प्रेस क्लब के सम्मान को ही खतरा हैं, क्योंकि जिसके पास जो चीजें रहती हैं, वहीं वह बांटता हैं।” अपनी वेबसाइट विद्रोही24.कॉम पर वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र…. खुशी इस बात की है कि इस चुनाव में कुछ अच्छे चेहरे भी दिखाई पड़ रहे हैं, ये सारे के सारे नवोदित व युवा पत्रकार है, जिन्होंने अभी-अभी पत्रकारिता में अपने पांव बढाये हैं, जिनके चेहरे को देख कर लगता है कि ये कुछ करेंगे, क्योंकि इनमें करने की ताकत हैं। ऐसा नहीं […]

Read more

हे आर्य, तेनु काला चसमा सजदा हे देव जँचता जी रुखड़े मुखड़े पे

हे अवतारी महामानव, अब आपको प्रधानमंत्री जैसे मामूली संबोधन से बुला आपका अपमान कर खुद को नरक का भागी नही बनाना चाहूंगा। अभी तक तो एक काबिल मानव रूप के रूप में आपको महान मानता आया हूँ पर आपके केदारनाथ के यात्रा के बाद जो संकेत मिले हैं वो साफ़ साफ़ दर्शाते हैं कि आप मानव मात्र नही वरन मानव रूप धर के आये शायद वही अवतार हैं जिसका इंतज़ार कलयुग को सहस्त्र वर्षों से था। केदारनाथ की यात्रा के बाद तो पता नही ये दुनिया अभी भी आपको केवल भारत के सर्वश्रेष्ठ नेता या सर्वकालीन काबिल पीएम के रूप में […]

Read more

….’और लालू जी का पैर टूटा, कार्टूनिस्ट पवन ने कराया पलास्टर’

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद का पैर उनके चाहने वाले एक बच्चे के कारण टूट गया। यह तो खैर था कि पैर टूटने और राजद सूप्रीमो के जमीन पर धड़ाम से गिरने की आवाज सुन वहां मौजूद प्रख्यात कार्टूनिस्ट पवन दौड़े हुए आए और उन्होंने एक चिकित्सक को बुलाकर तुरंत राजद सुप्रीमों के टूटे पैर पर पलास्टर ऑफ पेरिस चढ़वाकर उनका पलास्टर करवाया। चौकिये नहीं! ‘यह कोई हकीकत नहीं बल्कि एक फसाना है और एक प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट का अपने कार्टून के प्रिय पात्र राजद सुप्रीमो के साथ अपनी अभिव्यक्ति का तराना है।’ अपने परिवार में फरवरी से अब तक लगातार हुई तीन […]

Read more

झारखण्ड जनसम्पर्क निदेशालय में पहली बार यौन उत्पीड़न आंतरिक शिकायत समिति का गठन

“पहली बार हुआ है कि सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग में यौन उत्पीड़न आंतरिक शिकायत समिति का गठन हुआ है, चूंकि सूचना भवन में मुख्यमंत्री जनसंवाद केन्द्र भी चला करता है, जिसमें बड़ी संख्या में महिला संवादकर्मी कार्य करती हैं, यहां कार्यरत कई महिला संवादकर्मियों को शिकायत थी कि यहां कोई ऐसी समिति नहीं है, जहां महिलासंवादकर्मी अपनी शिकायत दर्ज करा सके। बहुत पहले से ही इसकी डिमांड थी।” रांची। रांची के सूचना भवन स्थित सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग मुख्यालय के जनसम्पर्क निदेशालय में विभागीय स्तर पर यौन उत्पीड़न आंतरिक शिकायत समिति का गठन किया गया है, जिसका अध्यक्ष शालिनी वर्मा, उप निदेशक, […]

Read more

धन्य है बिहार के नेता… धन्य है बिहार के पत्रकार…

इन दिनों बिहार के दो यादव नेताओं का पूरे देश में धूम है। एक है राजद सुप्रीमो लालू यादव और दूसरे है राजद के ही विधायक नीरज यादव। दोनों की समानता यह है कि दोनों पत्रकारों से ही भीड़ गये है। लालू यादव रिपब्लिक टीवी के पत्रकारों को उनकी औकात बता रहे है, वहीं नीरज यादव तो प्रभात खबर के पत्रकार को गालियों से नवाज दिया है। अगर इनसे संबंधित समाचारों की बारीकियों को देखें तो रिपब्लिक टीवी के पत्रकार लालू के समक्ष शेर की तरह भिड़ते नजर आ रहे है, वहीं प्रभात खबर का पत्रकार नीरज यादव के समक्ष मिमियाता […]

Read more
1 2 3 23