प्रेस क्लब रांची चुनावः कमजोर नींव पर बुलंद ईमारत बनाने के जुमले फेंकने लगे प्रत्याशी

रांची (मुकेश भारतीय)। संभवतः कल 27 दिसंबर को प्रेस क्लब रांची के चुनाव का वोटिंग होनी है। इसके लिये अध्यक्ष पद के 5, उपाध्यक्ष पद के 5, सचिव पद के 9, संयुक्त सचिव के 5, कोषाध्यक्ष पद के 5 और 10 सदस्यीय कार्यकारिणी पद के लिये कुल 39 प्रत्याशी  आपस में एक दूसरे से  खूब गुत्थमगुत्था करते नजर आ रहे हैं। यह चुनाव बतौर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सेवानिवृत जज विक्रमादित्य प्रसाद व उनकी टीम की देखरेख में काराई जा रही है। हालांकि ऐन चुनाव पूर्व सदस्यता अभियान में इनकी कहीं कोई भूमिका नहीं रही है। अगर होती तो तस्वीर कुछ और […]

Read more

बिहार में निष्पक्ष और निर्भीक पत्रकारिता की आवश्यकता : मंत्री प्रेम कुमार

पटना। राज्य के कृषि मंत्री डॉक्टर प्रेम कुमार ने कहा है कि बिहार में निष्पक्ष एवं निर्भीक पत्रकारिता करना समय की आवश्यकता है। पत्रकारों को जनता की समस्याओं को उठाना चाहिए। प्रेस लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है इसलिए इसकी स्वतंत्रता की रक्षा भी होनी चाहिए । मंत्री प्रेम कुमार ने उक्त बातें रविवार को बिहार श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की ओर से मूर्धन्य पत्रकार और अमृत वर्षा के संपादक स्वर्गीय पारसनाथ तिवारी की श्रद्धांजलि सभा में कहीं। श्रद्धांजलि सभा में बड़ी संख्या में पत्रकार और छायाकार और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार पहुंचे थे। मंत्री जी ने कहा कि स्वतंत्र पत्रकारिता की मशाल […]

Read more

खबर ब्रेकिंग की होड़ में न्यूज चैनलों की मूर्खता देखिये, लालू को यूं बता दिया बरी

रांची में चारा घोटाला मामले में लालू यादव के बरी हो जाने की गलत खबर जिस तरह से कई चैनलों पर चली वो हर कीमत पर खबर पहले ब्रेक करने की उसी होड़ का नतीजा है जो दिनों दिन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बढ़ती ही जा रही है। सीनियर आईपीएस अधिकारी नटराजन पर यौन शोषण के आरोप से जुड़े मामले पर भी आज ही फैसला आना था। नटराजन के वकील ने जैसे ही कोर्ट से बाहर आकर विक्ट्री साइन दिखाया और एक्विटल कहा कि कई रिपोर्टर्स ने उसे लालू का वकील समझकर लालू यादव के बरी होने की गलत खबर ब्रेक कर […]

Read more

समाज सेवा पेशा से जुड़े हरिनारायण सिंह बन गये कथित द रांची प्रेस क्लब के उपाध्यक्ष !

राजनामा.कॉम। तथाकथित द रांची प्रेस क्लब के निबंधन में भारी गड़बड़ियां बरती गई है। जहां एक तरफ निबंधन कार्यालय ने उन गड़बड़ियों को नजरअंदाज किया है वहीं, इस कथित क्लब के रहनुमाओं ने अपनी ही नियमावली को ताक पर रख दिया है। राजनामा.कॉम के पास उपलब्ध दस्तावेज के अनुसार कथित द रांची प्रेस क्लब संस्था की सदस्यता की मूल शर्त है कि जो पत्रकारिता से जुड़ा है। कार्यकारिणी समिति का गठन में साफ उल्लेख है कि संस्था की कार्यकारिणी समिति में पदाधिकारियों सहित कुल सात सदस्य होगें, जिनका कार्यकाल 2 वर्ष का होगा। सदस्यों की संख्या असीमित बताई गई है और […]

Read more

रांची के ऐसे पत्रकार संगठन के अध्यक्ष और अखबार के संपादक पर मुझे शर्म है

-: मुकेश भारतीय :- बनिया सिर्फ बनिया होता है। वह सब कुछ अपनी नफा-नुकसान के तराजू पर तौलता है। यदि हम रांची के पत्रकारों की बात करें तो प्रायः वे ऐसे ही बनिया नजर आते हैं। बात जब किसी संपादक-प्रकाशक-पत्रकार की हो तो उनकी बनियागिरी काफी स्पष्ट हो जाती है। आगे लिखने से पहले स्पष्ट कर दूं कि बनिया शब्द का आशय किसी जाति विशेष से नहीं है। बल्कि मूल सांकेतिक डंडीमार धंधे से है। जिसकी व्यापक पैमाने पर व्याख्या करने के साथ आत्म चिंतन-मंथन होनी चाहिये। बीते कल एक पत्रकार संगठन के अध्यक्ष और एक दैनिक अखबार के संपादक से मुलाकात-बात […]

Read more

एक बड़े फर्जीबाड़े की उपज है रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब !

राजनामा.कॉम। रांची प्रेस क्लब या द रांची प्रेस क्लब? दोनों में से कोई भी हो। इसमें बहुत ही गड़बड़झाला है। उक्त कथित संस्था के निबंधन के समय से लेकर आज तक यही हो रहा है। जो कि एक पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित बलबीर दत्त सरीखे संपादक से लेकर कथित संस्था से जुड़े अन्य सभी पत्रकार सदस्यों  के साथ बड़ी मुसीबत खड़ी कर सकती है। एक आरटीआई के जरिये राजनामा.कॉम के पास जो अधिकारिक कागजात उपलब्ध कराये गये हैं, उसके मुताबिक संस्था के रहनुमाओं और निबंधक की मिलीभगत से एक बड़ा फर्जीबाड़ा किया गया है। संस्था निबंधन के प्रक्रियाओं का प्रावधानानुसार कहीं […]

Read more

कहां है द रांची प्रेस क्लब भवन? डाकघर से यूं लौटी लीगल नोटिश

राजनामा.कॉम। आखिरकार ठीक वैसा ही हुआ, जैसा कि पहले से अंदेशा था। द रांची प्रेस क्लब के सचिव और  अध्यक्ष के नाम राजनामा.कॉम के प्रधान संपादक मुकेश भारतीय के अधिकृत झारखण्ड उच्च न्यायालय के अधिवक्ता बी.एन.झा की ओर से भेजी गई लीगल नोटिश वैरंग वापस लौट आई। वरिष्ठ अधिवक्ता श्री झा द्वारा रांची प्रेस क्लब की अधिकृत वेबसाइट और संस्था निबंधन कार्यालय में दर्ज समान पता पर 28 नवंबर,2017 को प्रेसीडेंड, द रांची प्रेस क्लब, रजि. ऑफिसः करमटोली चौक, बूटी रोड, रांची-834008 के पते पर नोटिश भेजी थी। इसी पते पर सेक्रेटरी के नाम भी नोटिश भेजे गये थे। भारतीय डाक विभाग की […]

Read more

गोड्डा के पत्रकार नागमणि को मारपीट कर किया गंभीर रुप से घायल

रांची। मीडिया से जुड़ी एक बुरी खबर गोड्डा से आई है। वहां के जाने-माने पत्रकार नागमणि कुमार उर्फ मणि भाई के साथ मारपीट कर गंभीर रुप से घायल कर दिया गया है। यह घटना गोड्डा सदर अस्पताल परिसर में घटी है। नागमणि समाचार संकलन करने हेतु वहां पहुंचे थे कि सरकारी अस्पताल परिसर में अड्डा जमाये एक प्रायवेट एंबुलेस का चालक अचानक उनका मोबाइल छीन कर भागने लगा। नागमणि जब शोर मचाते हुये उक्त अपराधी एंबुलेस चालक का पीछा करने की कोशिश की तो पास खड़े दूसरे प्रयवेट एंबुलेस चालक उनके साथ मार-पीट करने लगा। इस क्रम में वे गंभीर रुप […]

Read more

12 को उद्घाटित होगा ‘खबर मंथन’, विनायक विजेता होंगे प्रधान संपादक

पटना (संवाददाता)।  बहुप्रतिक्षित वेब पोर्टल ‘खबर मंथन’ बिहार की राजधानी पटना से आगामी 12 दिसम्बर को लांच होगा। एक सादे समारोह में इस पोर्टल का शुभारंभ फुलवारी शरीफ स्थित इमारत-ए- शरिया के नाएब नाजिम जनाब मुफ्ती सनाउल होदा कासमी साहब (उपमहासचिव) व महावीर मंदिर के संत निवास (शेखपुरा) के  महंत श्री महेन्द्र दास जी और जनसंपर्क विभाग के प्रधान सचिव ब्रजेश महरोत्रा संयुक्त रुप से करेंगे।   बिहार के चर्चित पत्रकार विनायक विजेता को इस पोर्टल का प्रधान संपादक बनाया गया है। राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, पथ निर्माण मंत्री […]

Read more

इस अनुठी पहल के साथ पत्रकारिता का मिसाल बन गया प्रभात रंजन

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। “शिद्दते गम को तबस्सुम से छिपाने वाले, दिल का हर राज़ नजरें बयां करती है।“  कभी यह शायरी मैंने ही मजाक-मजाक में स्कूल की किताब में लिखी थी। लेकिन क्या मालूम कि पत्रकारिता के ढलते पड़ाव में एक दिन यही सच्चाई के तौर पर उभर कर सामने आयेगी। आज राज्य के एक टीवी नेटवर्क के पत्रकार दिवाकर श्रीवास्तव के साथ जिंदगी और मौत से जूझ रहे पत्रकार प्रभात रंजन से व्यवहारिक भेंट करने राजधानी रांची के गुरुनानक अस्पताल पहुंचे। मन में दिन भर की बड़ी निराशा थी। आज मैं दिन भर उपापोह में था कि आखिर मीडिया लाइन […]

Read more

देखिये, शाहनवाज जैसे फ्रॉड का डंसा मौत से कैसे जुझ रहा एक पत्रकार

“जेजेए यानि झारखंड जर्नलिस्ट एशोसिएशन और उसके स्वंयभू अध्यक्ष यानि शाहनवाज हुसैन। एक ऐसा संगठन और एक ऐसा शख्स, जिसके बारे में समूचे झारखंड से मिल रही सूचनाएं काफी व्यथित करने वाली है।” राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। किसी भी संगठन या उसके स्वंयभूओं को जबरिया  मनमानी, शोषण और दमन करने की छूट नहीं दी जा सकती। खास कर उन्हें जो तत्थों से परे सिर्फ दुष्प्रचार के बल अपना स्वार्थ साधने वालों को तो बिल्कुल नहीं। शहनवाज के कहने पर कथित जेजेए संगठन के लोगों ने शोसल साइट के कई ग्रुपों पर राजनामा.कॉम और उसके संचालक को लेकर कई तरह की उटपुटांग बातें […]

Read more

चैनल खोल पत्रकारों को यूं चूना लगा फरार हुआ JJA का चर्चित अध्यक्ष

“हालांकि शाहनवाज को लेकर कई चर्चित मामले उभर कर सामने आ चुके हैं। जमशेदपुर का यह शख्स पहली बार तब सुर्खियों में आया था, जब राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनआईए) की टीम द्वारा छापामारी कर गिरफ्तार किया गया।” रांची (राज़नामा न्यूज)। झारखंड में पत्रकारों के हितों को लेकर दर्जनों पत्रकार संगठन बने हैं। लेकिन प्रायः इन संगठन के स्वंयभू रहनुमाओं के कथनी-करनी में आस्मां-जमीन का फर्क होता है। वे खुद मेहनतकश पत्रकारों का शोषण दमन करने में कोई कोताही नहीं बरतते।   एक ऐसा ही सनसनीखेज मामला झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन नामक संगठन के स्वंभू अध्यक्ष शाहनवाज हुसैन को लेकर सामने आया है। […]

Read more
1 2 3 4 46