12 को उद्घाटित होगा ‘खबर मंथन’, विनायक विजेता होंगे प्रधान संपादक

पटना (संवाददाता)।  बहुप्रतिक्षित वेब पोर्टल ‘खबर मंथन’ बिहार की राजधानी पटना से आगामी 12 दिसम्बर को लांच होगा। एक सादे समारोह में इस पोर्टल का शुभारंभ फुलवारी शरीफ स्थित इमारत-ए- शरिया के नाएब नाजिम जनाब मुफ्ती सनाउल होदा कासमी साहब (उपमहासचिव) व महावीर मंदिर के संत निवास (शेखपुरा) के  महंत श्री महेन्द्र दास जी और जनसंपर्क विभाग के प्रधान सचिव ब्रजेश महरोत्रा संयुक्त रुप से करेंगे।   बिहार के चर्चित पत्रकार विनायक विजेता को इस पोर्टल का प्रधान संपादक बनाया गया है। राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, पथ निर्माण मंत्री […]

Read more

आपकी आंखों के सामने की ऐसी तस्वीर झकझोरती है रघुबर साहब

“ झारखंड (मुकेश भारतीय)। कुछ तस्वीरें मानवता को शर्मशार कर देती है तो कुछ तस्वीरें मन-मस्तिष्क को झकझोर डालती है। आये दिन इस तरह की तस्वीरें उजागर होती रहती है। लेकिन किसी राज्य के मुखिया यानि सीएम की आंखों के सामने की ऐसी तस्वीर देखने को मिले तो दिमागी झन्नाहट को बखूबी समझा जा सकता है।”  राजधानी रांची से प्रकाशित हिन्दी दैनिक भास्कर में एक फ्रंट ली़ड फोटो प्रकाशित हुई है। इस तस्वीर के साथ अखबार ने भी बड़ी दिलचस्प तरीके से लिखा है कि “मुख्यमंत्री रघुवर दास 62 साल के हैं। मगर लगातार दौरे कर रहे हैं। बजट पूर्व संगोष्ठी और बैठकों में व्यस्त […]

Read more

इस अनुठी पहल के साथ पत्रकारिता का मिसाल बन गया प्रभात रंजन

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। “शिद्दते गम को तबस्सुम से छिपाने वाले, दिल का हर राज़ नजरें बयां करती है।“  कभी यह शायरी मैंने ही मजाक-मजाक में स्कूल की किताब में लिखी थी। लेकिन क्या मालूम कि पत्रकारिता के ढलते पड़ाव में एक दिन यही सच्चाई के तौर पर उभर कर सामने आयेगी। आज राज्य के एक टीवी नेटवर्क के पत्रकार दिवाकर श्रीवास्तव के साथ जिंदगी और मौत से जूझ रहे पत्रकार प्रभात रंजन से व्यवहारिक भेंट करने राजधानी रांची के गुरुनानक अस्पताल पहुंचे। मन में दिन भर की बड़ी निराशा थी। आज मैं दिन भर उपापोह में था कि आखिर मीडिया लाइन […]

Read more

देखिये, शाहनवाज जैसे फ्रॉड का डंसा मौत से कैसे जुझ रहा एक पत्रकार

“जेजेए यानि झारखंड जर्नलिस्ट एशोसिएशन और उसके स्वंयभू अध्यक्ष यानि शाहनवाज हुसैन। एक ऐसा संगठन और एक ऐसा शख्स, जिसके बारे में समूचे झारखंड से मिल रही सूचनाएं काफी व्यथित करने वाली है।” राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। किसी भी संगठन या उसके स्वंयभूओं को जबरिया  मनमानी, शोषण और दमन करने की छूट नहीं दी जा सकती। खास कर उन्हें जो तत्थों से परे सिर्फ दुष्प्रचार के बल अपना स्वार्थ साधने वालों को तो बिल्कुल नहीं। शहनवाज के कहने पर कथित जेजेए संगठन के लोगों ने शोसल साइट के कई ग्रुपों पर राजनामा.कॉम और उसके संचालक को लेकर कई तरह की उटपुटांग बातें […]

Read more

चैनल खोल पत्रकारों को यूं चूना लगा फरार हुआ JJA का चर्चित अध्यक्ष

“हालांकि शाहनवाज को लेकर कई चर्चित मामले उभर कर सामने आ चुके हैं। जमशेदपुर का यह शख्स पहली बार तब सुर्खियों में आया था, जब राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनआईए) की टीम द्वारा छापामारी कर गिरफ्तार किया गया।” रांची (राज़नामा न्यूज)। झारखंड में पत्रकारों के हितों को लेकर दर्जनों पत्रकार संगठन बने हैं। लेकिन प्रायः इन संगठन के स्वंयभू रहनुमाओं के कथनी-करनी में आस्मां-जमीन का फर्क होता है। वे खुद मेहनतकश पत्रकारों का शोषण दमन करने में कोई कोताही नहीं बरतते।   एक ऐसा ही सनसनीखेज मामला झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन नामक संगठन के स्वंभू अध्यक्ष शाहनवाज हुसैन को लेकर सामने आया है। […]

Read more

रांची प्रेस क्लब का सदस्यता अभियान में दारु बना यूं ब्रांड एंबेसडर

राज़नामा न्यूज (मुकेश भारतीय)। इसमें कोई शक नहीं कि रघुबर सरकार की ओर से पत्रकारों को राजधानी रांची में एक बढ़िया सुसज्जित आलीशान प्रेस क्लब भवन का तोहफा मिला है। लेकिन शुरुआती दौर से ही इस भवन को लेकर कई गणमान्य संपादक-पत्रकार लोग खूब चर्चित होते रहे हैं।  बात चाहे पद्मश्री बलवीर दत जी का हो या उनकी अगुआई में सामने आये कई अन्य लोग। हाल ही में एक स्थानीय दैनिक के स्थानीय संपादक ने एक ऐसी तुगलकी फरमान जारी कर दिया कि प्रायः पत्रकार बमक उठे। उक्त संपादक द्वारा जारी सूचना के आधार पर अखबारों में प्रमुखता से यह खबर […]

Read more

हे आर्य, तेनु काला चसमा सजदा हे देव जँचता जी रुखड़े मुखड़े पे

हे अवतारी महामानव, अब आपको प्रधानमंत्री जैसे मामूली संबोधन से बुला आपका अपमान कर खुद को नरक का भागी नही बनाना चाहूंगा। अभी तक तो एक काबिल मानव रूप के रूप में आपको महान मानता आया हूँ पर आपके केदारनाथ के यात्रा के बाद जो संकेत मिले हैं वो साफ़ साफ़ दर्शाते हैं कि आप मानव मात्र नही वरन मानव रूप धर के आये शायद वही अवतार हैं जिसका इंतज़ार कलयुग को सहस्त्र वर्षों से था। केदारनाथ की यात्रा के बाद तो पता नही ये दुनिया अभी भी आपको केवल भारत के सर्वश्रेष्ठ नेता या सर्वकालीन काबिल पीएम के रूप में […]

Read more

बिहार-झारखंड, यहां जदयू-भाजपा सरकार की आत्मा जिंदा कहां है ?

“सदियों से चली आ रही मनुवाद की जमीं पर आज की जातीवादी राजनीति ने समाज में एक ऐसे जहरीले कीड़े को बल दिया है, जिसके शिकार इन्सान न मर सकता है और न जिंदा ही रह सकता है। सबाल सिर्फ मानवता की नहीं है, सीधा सबाल शासन-प्रशासन की भी है। “ -: मुकेश भारतीय :- बिहार और झारखंड में एक साथ दो घटनाएं घटी है। ये दोनों घटनाएं मानवता को शर्मसार करती है। ऐसी विषजात समस्याओं का मूल समाधान क्या है? इसका सीधा जबाव ढूंढा जाना चाहिये। विगत 18 अक्टूबर को बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के […]

Read more

पत्रकारों के लिए एशिया का पाक-अफगानिस्तान से खतरनाक देश है भारत !

भारत में मीडियाकर्मी कितने असुरक्षित हैं ,इस बात का अंदाजा विश्व की एक प्रमुख मीडिया की निगरानी करने वाली संस्था की रिपोर्ट से लगाया जा सकता है, जिसमें भारत को मीडियाकर्मियों के लिए एशिया का सबसे खतरनाक देश करार दिया गया है। रिपोर्टर्स विदआउट बॉर्डर्स ने अपनी वाषिर्क रिपोर्ट में कहा है कि साल 2015 में दुनिया भर में कुल 110 पत्रकार मारे गए हैं, जिनमें नौ भारतीय पत्रकार शामिल हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में इस साल जिन 9 पत्रकारों की हत्या हुई, उनमें से कुछ पत्रकार संगठित अपराध व इसके नेताओं से संबंध पर रिपोर्टिंग कर रहे थे। वहीं […]

Read more

दैनिक जागरण के प्रतिनिधि की गोली मार कर हत्या, सगा भाई भी जख्मी

गाजीपुर जनपद के करण्डा क्षेत्र में दैनिक जागरण के प्रतिनिधि राजेश मिश्रा की आज सुबह गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। इस दौरान उनके सगे भाई को भी गोली मारी गई। जिसका इलाज गंभीर हालत में वाराणसी अस्पताल में चल रहा है। गाजीपुर के करंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत बभनपुरा गांव निवासी राजेश मिश्रा दैनिक जागरण के स्थानीय प्रतिनिधि हैं। उनकी उम्र 35 वर्ष है। उनके छोटे भाई अमितेश मिश्र की उम्र 30 वर्ष है। इन दोनों को कुछ अज्ञात हमलावर ने गोली मार दी। राजेश मिश्रा की मौत मौके पर ही हो गई। सगे छोटे भाई की हालत नाजुक बनी […]

Read more

सीएम रघुबर दास की इस हरकत पर कानून के साथ मीडिया भी नंगी

रांची (मुकेश भारतीय)। साहब सीएम हैं। रघुबर दास हैं। उन पर कोई कानून लागु नहीं होता। हालांकि उन्होंने सड़क सुरक्षा सप्ताह समारोह में ट्रैफिक वालों को स्वंय कहा था, ‘बिना हेलमेट वालों से सख्ती से निपटें। चाहे कोई भी हो, उसे किसी कीमत पर न छोड़े। अगर खुद सीएम भी ऐसा करें तो उन्हें भी न वख्शें।’ लेकिन खुद सीएम रघुवर दास ने कानून तोड़ा है। बिना हेलमेट पहने आम सड़कों पर बिचरते रहे। इस दौरान कहीं भी ट्रैफिक वालों ने कोई रोक-टोक नहीं की। सिपाही की क्या औकात ट्रैफिक एसपी तक सलामी ठोकते नजर आये। सीएम की इस हरकत को […]

Read more

बिहार में जारी है ‘सृजन’ से भी बड़ा विज्ञापन घोटाला

कार्यक्रम बीत जाने के बाद छपाए जाते रहें हैं सरकारी विज्ञापन घोटालों का राज्य बिहार में अगर प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया को मिलने वाले सरकारी विज्ञापनों और उसके भूगतान की जांच की जाए तो यह बहुचर्चित भागलपुर के सृजन घोटाले से भी एक बड़ा घोटाला साबित होगा। इसका एक बड़ा उदाहरण बीते 14 अक्टूबर को पटना से प्रकाशित एक हिन्दी दैनिक में कृषि विभाग का एक बड़ा विज्ञापन है। 13 अक्टूबर को ‘रबी अभियान सह महोत्सव’ में कृषि रथों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा हरी झंडी दिखाकर विदा करने से संबंधित है। नियमानुकूल इस विज्ञापन को 12 अक्टूबर या 13 अक्टूबर […]

Read more

पनामा पेपर्स का खुलासा करने वाली पत्रकार की कार बम ब्लास्ट में मौत

“इस महिला पत्रकार ने वर्ष 2016 में लीक हुए पनामा पेपर्स में माल्टा के संबंधों के बारे में लिखा था। उन्होंने लिखा था कि मस्कट की पत्नी और सरकार के चीफ ऑफ स्टाफ की, अजरबेजान से धन देने के लिए पनामा में विदेशी कंपनी थी। डैफनी ने दो सप्ताह पहले पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें धमकियां मिल रही हैं।” पूरी दुनिया को पनामा पेपर लीक्स मामले का खुलासा कर हिला देने वाली पत्रकार डैफनी कैरुआना गलिजिया की आज मंगलवार को कार बम ब्लास्ट में मौत हो गई है। माल्टा में शानदार खुफिया पत्रकार के तौर पर पहचाने जाने […]

Read more
1 2 3 95