बिहार-झारखंड, यहां जदयू-भाजपा सरकार की आत्मा जिंदा कहां है ?

“सदियों से चली आ रही मनुवाद की जमीं पर आज की जातीवादी राजनीति ने समाज में एक ऐसे जहरीले कीड़े को बल दिया है, जिसके शिकार इन्सान न मर सकता है और न जिंदा ही रह सकता है। सबाल सिर्फ मानवता की नहीं है, सीधा सबाल शासन-प्रशासन की भी है। “ -: मुकेश भारतीय :- बिहार और झारखंड में एक साथ दो घटनाएं घटी है। ये दोनों घटनाएं मानवता को शर्मसार करती है। ऐसी विषजात समस्याओं का मूल समाधान क्या है? इसका सीधा जबाव ढूंढा जाना चाहिये। विगत 18 अक्टूबर को बिहार के सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के […]

Read more

क्या कहेंगे अपने राजनेताओं के इस अल्प ज्ञान को !

कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बिहार दौरे का कार्यक्रम और भाषण लगातार टीवी पर देख रहा था। पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में शिरकत कर रहे प्रधानमंत्री की प्रशंसा में कसीदे गढ़ने वाले एक राजनेता ने अपने भाषण में यहां तक कह डाला कि माननीय नरेन्द्र मोदी जी देश के इकलौते और प्रथम ऐसे प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में भाग लिया। बिहार की जनता को कभी एनडीए गठबंधन, कभी विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग, फिर अप्रत्याशित रुप से भाजपा से अलग होकर महागठबंधन बनाकर सत्ता में आने, और फिर थूक गिराकर चाटने वाले ऐसे राजनेताओं […]

Read more

डिजीटल ‘वायर’ में फंसे भाजपा के ‘शाह’

भाजपा और इसकी अगुआई वाली केंद्र सरकार को उस समय से बड़े सियासी भूचाल का सामना करना पड़ रहा है, जब से एक वेबसाइट ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी का कारोबार एक साल में ही 16 हजार गुना बढ़ जाने की खबर प्रकाशित की है। वेबसाइट के मुताबिक मोदी सरकार के वजूद में आने और शाह के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद इस कंपनी के कारोबार में जबरदस्त उछाल देखने को मिली है। न्यूज वेबसाइट ‘द वायर’ पर रविवार को प्रकाशित इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भाजपा अध्यक्ष के बेटे जय अमित शाह की कंपनी […]

Read more

ऐसी नौटंकी से क्या दूर होगा बाल विवाह और दहेज की कुप्रथा !

“शपथ नहीं सही शिक्षा और जागरुकता की जरुरत है बिहार को, क्या दहेज देने और लेने वाले कहेंगे कि हमने दहेज दिया या लिया, पूर्व से ही कड़े कानून बने हुए हैं इन दोनों कुप्रथाओं के खिलाफ” वरिष्ठ पत्रकार विनायक विजेता का विश्लेषण… बीते 2 अक्टूबर को पूरे बिहार में बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के खिलाफ सरकार प्रायोजित एक कथित नौटंकी हुई। इसके पूर्व बीते वर्ष महागठबंधन सरकार में शराबबंदी के समर्थन में राजधानी समेत पूरे बिहार में मानव श्रृंखला बनाकर एक कथित नौटंकी हुई थी। बस तब और अब में अंतर यह है कि शराबबंदी की नौटंकी में तब […]

Read more

राजगीर के इस खबर की पड़ताल ने मीडया समेत पूरी सिस्टम को यूं नंगा कर दिया

“नालंदा जिले के राजगीर में अजीब हालात है। पुलिस-प्रशासन-मीडिया में ठीक वैसा ही होता प्रतीत होता है, जैसा रसुखदार चाहते हैं। वो रसुखदार चाहे लुच्चा – लफंगा – दलाल टाइप के लोग ही क्यों न हों। यहां से जुड़े मामलों या समस्याओं को एक दैनिक अखबार (राजधानी पटना से बिहरशरीफ संस्करण प्रकाशित) भी विशेष मामलों में सच को तोड़-मरोड़ कर खबरें प्रकाशित करने में जी-जान से दिख रहा है। जबकि अन्य लीडिंग अखबारों तक से वह गायब होती है।” राजनामा न्यूज डेस्क।  एक बार मेला सैरात भूमि मामले को लेकर राजगीर बंद हुआ। इस अखबार में एक लाइन भी खबर न […]

Read more

सृजन महाघोटालाः सीबीआई की रडार पर नेताओं,अफसरों के साथ पत्रकार भी

“पूर्व सहकारिता मंत्री भी सीबीआई के राडार पर, बड़े-बड़े पत्रकार भी हाथ जोड़ते थे अमित और प्रिया के सामने, हर दल के नेताओं का संरक्षण था सृजन के संपोषकों को,  दिखावे के लिए कोचिंग इंस्टीट्यूट चलाते थे अमित कुमार “ बहुचर्चित सृजन महाघोटाले की जांच की आंच में पूर्व सहकारिता मंत्री आलोक मेहता भी तप सकते हैं। विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक इस घोटाले की जांच अपने हाथ लेने के बाद सीबीआई सबसे पहले उन राज नेताओं और अधिकारियों के चित्र और चरित्र का मंथन करने में जुटी है जिन्होंने इसमहा घोटाले में परोक्ष या अपरोक्ष रुप से सहायक की भूमिका निभायी। इस मामले […]

Read more

3 साल बाद भी CID को नहीं मिला शरतचंद्र हत्या कांड का सुराग, CBI जांच की मांग

“बालिका विद्यापीठ, लखीसराय के संस्थापक मंत्री थे शरत चंद्र, 2 अगस्त 2014 को विद्यालय कैंपस में ही हुई थी हत्या, सीआईडी कर रही मामले की जांच पर अब तक कोई निष्कर्ष नहीं” पटना से वरिष्ठ पत्रकार विनायक विजेता की खोजपरक रिपोर्ट….. बिहार ही नहीं बालिकाओं की शिक्षा के लिए कभी देश भर में चर्चित रहा लखीसराय स्थित बालिका विद्यापीठ के संस्थापक मंत्री 75 वर्षीय शरतचंद्र के हत्यारों का सुराग तीन वर्ष बाद भी सीआईडी नहीं लगा सकी। इस ख्यातिलब्ध विद्यालय में कभी महात्मा गांधी, बिनोवा भावे और पूर्व राष्ट्रपति डा. राजेन्द्र प्रसाद का भी पदार्पण हुआ था और वर्तमान में गोवा […]

Read more

एसपी-डीएम साहेब, राजगीर थाना प्रभारी की गुंडागर्दी यूं चालू आहे

“राजगीर थाना प्रभारी के खिलाफ कई ऐसे सप्रमाण मामले उदाहरण के तौर पर उपलब्ध हैं, जो स्पष्ट करता है कि ये असमाजिक लोगों की शह पर लोगों पर झूठे मुकदमें करवाने में माहिर है। नालंदा पुलिस-प्रशासन के जिम्मेवार आला अफसरों को चाहिये कि ऐसे थाना प्रभारी के खिलाफ पीड़ित सारे लोगों के शिकायत की उच्चस्तरीय जांच करा व्यवस्था के प्रति खोये विश्वास को हासिल करे।” बिहारशरीफ (संवाददाता)। नालंदा जिले के राजगीर थाना प्रभारी उदय शंकर से जुड़ा एक सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है, जो यह साफ तौर पर प्रमाणित करता है कि ये अपराधियों से सांठगांठ कर उल्टी कार्रवाई करने […]

Read more

देखिये, इस मामले में राजगीर नगर पंचायत पदाधिकारी की गीली हो रही पैंट!

 “मो. अख्तर से जब यह पुछा गया कि वर्णित धाराओं व अधिनियमों के आलोक में  नगर पंचायत कार्यालय खुद कार्रवाई करने को सक्षम है तो फिर कोर्ट की सहारा की बात क्यों ? इस सबाल पर उन्होंने मोबाईल डिस्कनेक्ट कर दिया।” एक्सपर्ट मीडिया न्यूज / मुकेश भारतीय। बिहार के सीएम नीतिश कुमार सुशासन के कितने भी ढिंढोरे पीट लें। भाजपा संग गलबहियां डालने बाद भी कितने भी तेवर दिखा लें, लेकिन यह कड़वा सच है कि उनके गृह क्षेत्र नालंदा में तैनात उनके या उनके करींदें विधायक, सांसद, मंत्री के पसंदीदा अफसर सब कुछ की पोल यूं ही खोले जा रहे […]

Read more

सुशासन बाबू ने फर्जी डिग्रीधारी गुप्तेश्वर पाण्डेय को बनाया डीजी

 “इस मामले की जानकारी बिहार के पुलिस महानिदेशक पी. के. ठाकुर को भी है, लेकिन कहा जाता है कि सीएम नीतिश कुमार से नजदीकियां होने के कारण सुशासन और भ्रष्टाचार की उजली कमीज पर गुप्तेश्वर पाण्डेय के हर दाग अच्छे हैं। ” पटना (मुकेश भारतीय)। कथित भ्रष्टाचार और सुशासन के ढिंढोरे पीटते हुये पिछले सप्ताह महागठबंधन छोड़ भाजपा संग सरकार बनाने वाले जदयू नेता नीतीश कुमार की सरकार द्वारा कल रात 28 आइ.ए.एस. और 44 आइ.पी.एस. अफसरों का तबादला कर दिया गया। कुछ को इधर से उधर किया गया तो कुछ को प्रोन्नति दिया गया। लेकिन इस तबादला सूची में एक […]

Read more

DC का अंतिम फैसलाः भू माफियाओं के खिलाफ राजगीर CO जाएं कोर्ट, SDO हटाएं अतिक्रमण

 “सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने के क्षेत्राधिकार के संबंध में अधिनियम के अन्तर्गत व्यवहार न्यायालय के क्षेत्राधिकार को Exclude किया गया है। लोक प्राधिकार द्वारा कारण पृच्छा दायर किया जा चुका है, इसलिए व्यवहार न्यायालय द्वारा पारित स्थगन आदेश निष्प्रभावी हो गया है।” पटना (मुकेश भारतीय)। पटना प्रमंडलीय आयुक्त सह प्रथम अपीलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी आनंद किशोर ने राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि पर अतिक्रमण के मामले में अपना अंतिम आदेश पारित कर दिया है। राजगीर के बीचली कुआं निवासी आरटीआई एक्टीविस्ट पुरुषोतम प्रसाद द्वारा दायर अनन्य वाद संख्या- 999990124121628 208 / 1A की लंबी चली सुनवाई के बाद श्री […]

Read more

भारतीय संविधान में अधिकार, लेकिन झारखंड धर्म परिवर्तन विधेयक को मंजूरी!

“झारखंड प्रदेश की सीएम रघुवर दास की अध्यक्षता में बैठक की गयी। मंत्री परिषद में 18 प्रस्तावों को मंजूरी दी। इसमें झारखंड स्वतंत्र विधेयक भी है। एससी/एसटी का धर्म परिवर्तन करवाने को 4 साल की सजा और 1 लाख रूपये तक का जुर्माना लगाने का प्रस्ताव है।इसे विधान सभा से पारित करवाना होगा।” धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार (अनुच्छेद-25-28) भारत एक बहुधार्मिक समाज है। यहाँ अनेक धार्मिक समूह रहते हैं, जिनकी जनसँख्या असमान है। जहाँ हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग 82% हैं,वही अन्य अल्पसंख्यक समूह भी पाए जाते है। चुकि भारतीय समाज अभी भी धर्म पर आधारित है, और व्यक्ति समाज […]

Read more
1 2 3 9