बिल्कुल बदल गई है पत्रकारों की दिशा और दशा

शब्दों में वो ताकत होती है जो बन्दूक की गोली, तोप के गोले एवं तलवार में नहीं होती है। अस्त्र-शस्त्र से घायल व्यक्ति की सीमा शरीर होता हैजो देर-सबेर ठीक हो ही जाता है लेकिन, शब्द से मानव की आत्मा घायल होती है, इस पीड़ा को जीवन-पर्यन्त तक नहीं भुलाया जा […]

Read more

चौबे चले छब्बे बनने और दुबे बन कर रह गए

मौर्या टीवी प्रसिद्ध फिल्म निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा का न्यूज चैनल है। इस चैनल की सबसे बड़ी विशेषता थाली के बैगन वाली है। कभी इधर तो कभी उधर। जब सरकारी लोकपाल की लोकपाल चर्चा हुई तो लोकपाल, जब सिविल सोसाइटी की जन लोकपाल की हुई तो जन लोकपाल और अब जब बहुजन […]

Read more

कशिश चैनल के न्यूज हेड की जय हो

हाय! तुम चुप क्यों हो…कुछ बोल क्यों नहीं रही हो   मंदिर देवघर का हो या कहीं और का… आपने कभी गौर से देखा है … चैनल कशिश को … एक बार गौर से देखिये … चकरा तो हम भी गए थे … क्या ये चैनल हेड की पत्नी है … […]

Read more
1 11 12 13