जी न्यूज़ का “काला पत्थर”

जी न्यूज ने सोचा नहीं होगा कि कोयले को दागदार खोजते खोजते उसका दामन भी काला हो जाएगा। जी न्यूज बनाम जिंदल में जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी ने  अपना पक्ष अपने चैनल में रखा है। सुधीर चौधरी के साथ जी न्यूज के विशेष कार्यक्रम मीडिया का सौदा में उनके सहयोगी […]

Read more

झारखंड सूचना जन संपर्क विभाग में लूट का नया खेल

उर्दु अखबार के पहले अंक में ही दिया 15 अगस्त का एक फूल पेज विज्ञापनः इन दिनों झारखंड सरकार के सूचना एवं जन-संपर्क विभाग में लूट का आलम बढ़ गया है। एक लंबे समय तक पद खाली रहने के बाद जब एक सीसीएलकर्मी  को निदेशक बनाया गया तो उम्मीद बनी थी […]

Read more

पत्रकारिता मिशन नहीं, अब कमीशन का खेल है

पत्रकार के कलम की स्याही और खून में जब तलक पाक़ीज़गी रहती है तब तलक पत्रकार कि लेखनी दमकती है और चेहरा चमकता है. न तो उसकी निगाह किसी से सच पूछने पर झुकती है और न ही उसकी कलम सच लिखने से चूकती है. पत्रकारिता लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है […]

Read more

गलत तस्वीर पेश कर रही है बिहार की मीडिया

सरकार की अच्छाई और बुराई को उजागर करनेकी भूमिका निभाने वाले बिहार के हिन्दी और अंग्रेजी भाषाई आइना इन दिनों चूर-चूर हो गयाहै। मीडिया में बिहार की गलत तस्वीर पेश की जा रहीहै। बिहार की राजधानी पटना में बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार को खुश करने के लिए प्रथम पृष्ठ पर […]

Read more

हिन्दी न्यूज चैनल की पत्रकारिता

जंतर-मंतर की आवाज 10 जनपथ या 7 रेसकोर्स तक पहुंचेगी। देखिये इस बार भीड़ है ही नहीं। लोग गायब हैं। पहले वाला समां नहीं है। तो जंतर-मंतर की आवाज या यहां हो रहे अनशन का मतलब ही क्या है। तो क्या यह कहा जा सकता है कि अन्ना आंदोलन सोलह महीने […]

Read more

ऐसे मुर्खों पर मुझे हंसी आती है : पुष्कर पुष्प

मीडिया खबर डॉट कॉम के संपादक पुष्कर पुष्प ने इंडिया टीवी चैनल के प्रबंध संपादक विनोद कापड़ी का  सी -न्‍यूज चैनल के दिल्‍ली पत्रकार मुकेश चौरसिया  द्वारा लिये गये  इंटरव्‍यू कर दिये जाने के मामले में नाम घसीटे जाने की बाबत कहा कि ऐसे मुर्खों पर हंसी आती है, जो ऑनलाइन कंटेंट की […]

Read more

काटजू जी, देखिये झारखंडी मीडिया की चाल-चरित्र

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय) ।  झारखंडी मीडिया का एक विशेष गुण। जो जितना बड़ा चोर-उतना ही जोर से मचाता है शोर। बात चाहे प्रिंट मीडिया की हो या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की। हमाम में  सब नंगे। इसी संदर्भ में एक नई कड़ी जुट गई है कि यहां आम जनता के अरबो-खरबों रुपये की […]

Read more

न्यूज़11 चैनल की कलंक कहानीः एक भुक्तभोगी की जुबानी

राज़नामा.कॉम ( मुकेश भारतीय)। एक पुरानी कहावत है कि घर का भेदिया लंका ढाहे। अगर विभीषण न होता तो सोने की लंका न जलता और रावण न मरता। आज मित्र ने कुछ ऐसे ही सूचना दी। फेसबुक पर अपने एकांउट में फिलहाल साधना न्यूज चैनल में कार्यरत कुंदन कृतज्ञ ने रांची […]

Read more

इस न्यूज़ चैनल का यह कैसा एक्सक्लुसिव

राज़नामा.कॉम। आज कल न्यूज़ चैनलों ने एक्सक्लुसिव शब्द की पत्रकारीय परिभाषा ही बदल डाली  है। उसे जो भी मिले, उसे एक्सक्लुसिव बना डालती है। उदाहरणार्थ एक बिल्डर माफिया द्वारा संचालित रांची के इस एक चैनल को लिजीये। शायद ही ऐसी कोई खबर हो, जिसे एक्सक्लुसिव बना कर  पेश न करती हो। […]

Read more

“बाबा” को दबोचने सन्मार्ग पहुंचे “बब्बर”

राज़नामा.कॉम, मुकेश भारतीय। झारखंड की राजधानी रांची की पत्रकारिता में एक से एक धुरंधर भरे पड़े हैं, जो बिल्डरों- माफियाओं के इशारों पर नाचते फिर रहे हैं। ऐसा ही ताजा उदाहरण है- न्यूज़11 चैनल के एडीटर इन चीफ हरिनारायण सिंह का अचानक एक बिल्डर-माफिया प्रेम शंकरण की रहनुमाई में प्रकाशित दैनिक […]

Read more
1 10 11 12 13